Top

झुंझुनूं में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पीएम की रैली, प्रियंका चोपड़ा भी शामिल

suman

sumanBy suman

Published on 8 March 2018 4:00 AM GMT

झुंझुनूं में अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पीएम की रैली, प्रियंका चोपड़ा भी शामिल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुबंई: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (8 मार्च) पर राजस्थान के झुंझुनूं वाला में पीएम मोदी का कार्यक्रम है। वे यहां वीरधरा से देश के मजबूत भविष्य की नींव रखेंगे। बेटी बचाओ बेटी अभियान की तीसरी वर्षगांठ के मौके पर पीएम मोदी रैली को संबोधित करेंगे। वहीं राष्ट्रीय पोषाहार मिशन का भी आगाज करेंगे। कार्यक्रम में प्रियंका चोपड़ा और उद्योगपति रतन टाटा सहित कई दिग्गज शिरकत करेंगे। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने झुंझुनूं पहुंचकर तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्थानीय लोगों से भी खुलकर बात की।

यह पढ़ें...मुकेश अंबानी भारत के 121 अरबपतियों में सबसे अमीर

इस दौरान मुख्यमंत्री राजे के साथ बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, मंत्री यूनुस खान, सुरेंद्रपाल टीटी, सांसद संतोष अहलावत भी मौजूद रहे। आपके जेहन में सवाल उठ रहे होंगे कि आखिर पीएम मोदी ने झुंझुनूं को क्यों चुना। दरअसल, झुंझुनूं राजस्थान में सबसे खराब लिंगानुपात के लिए बदनाम जिला रहा है। लेकिन 'बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ' अभियान की शुरुआत के बाद झुंझुनूं ने बेटियों को कोख में बचाने को लेकर मिसाल पेश की है। जनगणना-2011 में राजस्थान के 33 जिलों में सबसे खराब लिंगानुपात वाले इस जिले में लड़कियों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई। तब 1000 लड़कों पर महज 837 लड़कियां थीं, वहीं अब संख्या सुधरकर 955 हो गई है। प्रशासनिक प्रयासों से हुए इस सुधार के लिए झुंझुनूं को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय पिछले दो साल में कई बार सम्मानित भी कर चुका है।

यह पढ़ें....WOMEN’S DAY SPECIAL : महिला शक्ति का इस्लामी शिक्षा से गहरा नाता

यही कारण है कि महिला दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहीं से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान को विस्तार देने के साथ ही राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत भी करेंगे. बताया जा रहा है कि साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनावों को देखते हुए यह कवायद हो रही है। पीएम मोदी लिंगानुपात में उत्कृष्ट सुधार लाने वाले देश के 10 कलेक्टर्स का सम्मान भी करेंगे। जनवरी 2015 के बाद बेटियों को जन्म देने वाली 200 मांओं से भी मिलेंगे।

suman

suman

Next Story