×

खबर का असर: BJP नेता के भाई को पीटने के मामले में 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी कोतवाली की पुलिस ने बीजेपी एंव संघ कार्यकर्ता को लाकअप में पीटे जाने का मामले में newstrack.com की खबर को संज्ञान में लेकर एसपी डा. ख्याति गर्ग तुरंत एक्शन में आ गईं।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 31 Dec 2019 10:24 AM GMT

खबर का असर: BJP नेता के भाई को पीटने के मामले में 5 पुलिसकर्मी सस्पेंड
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अमेठी: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के संसदीय क्षेत्र अमेठी कोतवाली की पुलिस ने बीजेपी एंव संघ कार्यकर्ता को लाकअप में पीटे जाने का मामले में newstrack.com की खबर को संज्ञान में लेकर एसपी डा. ख्याति गर्ग तुरंत एक्शन में आ गईं। उन्होंने तत्काल प्रभाव से आरोपी सब इंस्पेक्टर विजय सिंह समेत 4 सिपाहियों को सस्पेंड कर दिया है। वही एसपी ने एसएचओ श्यामसुंदर के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दिए हैं।

ये भी पढ़ें:होली, दिवाली और ईद: कुछ ऐसा होगा New Year 2020, जानेें छुट्टियों की डिटेल

SP ने सौंपी एएसपी को जांच, दो दिन में मांगी रिपोर्ट

अंत में एसपी अमेठी ने आरोपी दरोगा व चार सिपाहियों को निलंबित किया। साथ ही घटना की जांच अपर पुलिस अधीक्षक से कराकर दो दिन में जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है। एसपी ने कहा है कि जांच रिपोर्ट के आधार पर जो भी दोषी होगा उसके ऊपर कार्यवाही की जाएगी।

ये भी पढ़ें:CAA पर बड़ी खबर: अब पास हुआ ये प्रस्ताव, तो सीएम ने किया ऐसा ऐलान

ये है पूरा मामला

ग़ौरतलब हो कि बीती रात दुर्गापुर रोड पर कांग्रेस कार्यालय के सामने एक व्यक्ति की कुछ लोगों ने पिटाई कर मोबाइल छीनकर भागने का प्रयास किया। इसी दौरान स्थानीय भाजपा नेता रवि प्रताप सिंह अपने भाइयों के साथ मौके पर पहुंचे और मोबाइल छीनकर भाग रहे लोगों को पकड़ लिया। तभी अमेठी कोतवाली के दरोगा विजय कुमार सिंह व 4 सिपाही मौके पर पहुंच गए और भाजपा नेता को भाइयों के साथ कोतवाली लाकर उन्हें जमकर पीटा और थाने में बन्द कर दिया। मामले की सूचना पाकर अमेठी भाजपा नेताओं ने कोतवाली में पहुंच भाजपा नेता को छुड़ाने व आरोपी पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही की मांग करने लगे।

मामला बढ़ते देख भारी मात्रा में जिले की पुलिस को थाना परिसर में जमा कर शांति व्यवस्था कायम करने की कोशिश की गई।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story