सरकारी पैसे के लिए कराया था गैंगरेप का झूठा मुक़दमा, दो गिरफ़्तार

सामूहिक बलात्कार की झूठी सूचना देकर ने सरकार से पैसा ऐंठने का तानाबाना बुनने वाली दो महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है। दोनो ही महिलाएं अनैतिक कार्यों में लिप्त थीं। और आमदनी न होने पर ये साजिश रची जिसमें दोनो पकड़ी गईं।

गाजियाबाद: एक तरफ बलात्कार व सामूहिक बलात्कार की घटनाओं से पूरा देश रोष में है महिला सुरक्षा को लेकर पुलिस हाई अलर्ट पर है ऐसे में सामूहिक बलात्कार की झूठी सूचना देकर ने सरकार से पैसा ऐंठने का तानाबाना बुनने वाली दो महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है। दोनो ही महिलाएं अनैतिक कार्यों में लिप्त थीं। और आमदनी न होने पर ये साजिश रची जिसमें दोनो पकड़ी गईं।

ये भी देखें: प्रधानमंत्री मोदी कर सकते हैं अटल की प्रतिमा का लोकार्पण

रास्ते में चालक के साथ दो अन्य लोगों ने किया सामूहिक बलात्कार- पीड़ित महिला

पुलिस के अनुसार थाना कवि नगर क्षेत्र में एक महिला फटे हुए कपड़ों में डासना टोल के पास बेहोशी की हालत में मिली, जिसे संजय नगर जिला संयुक्त चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया उपनिरीक्षक मनीष कुमार फोर्स के साथ हॉस्पिटल पहुंचे जहां इमरजेंसी में यह महिला शहजादी उर्फ मुस्कान भर्ती मिली, महिला ने पति का नाम मेहताब बताया और खुद को होली क्रॉस स्कूल के पास मसूरी थाना क्षेत्र की निवासी बताया।

महिला आरक्षी ने जब महिला से पूछताछ शुरू की तो उस महिला ने बताया कि वह आज सुबह ड्यूटी पर हापुड़ गई थी और वापस घर मसूरी आने के लिए छोटा हाथी में सवार होकर आ रही थी तो रास्ते में चालक और एक अन्य व्यक्ति दो लोगों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया और डासना फ्लाईओवर के पास उसे फेंक कर भाग गए।

ये भी देखें: जेलों से अब नही चल सकेंगी आपराधिक गतिविधियां- मुख्यमंत्री योगी

इसकी जानकारी होते ही एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने मामले की जांच कर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए। इस पर प्रभारी निरीक्षक नरेश कुमार सिंह और उनकी टीम ने सीओ सदर आशु जैन के निर्देशन में अस्पताल गई और उक्त महिला के मेडिकल फॉर्म को देखा लेकिन जब डाक्टरी जांच की बात आई तो मुस्कान ने अपनी अंदरूनी जांच कराने से मना कर दिया और अपने घर से ड्यूटी पर जाने व घटनास्थल के बारे में अलग-अलग बातें बोलने लगी।

महिला के बयान संदिग्ध लगने पर पुलिस जांच कर ही रही थी कि तभी अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के बाहर एक महिला घूमती मिली। जो बार बार झांक कर लौट रही थी।

ये भी देखें: रॉबर्ट वाड्रा को बड़ी राहत! तो अब इसलिए जायेंगे विदेश

दोनो महिलाओं को उसका पति पहले ही छोड़ चुका है

पुलिस ने इस महिला को पकड़ा तो सारा राज खुलता चला गया। जिससे सभी हैरत में पड़ गए। उस महिला ने अपना नाम रेशमा बताया। इसने बताया कि वह भी होली क्रास अस्पताल के पास की रहने वाली है। दोनो महिलाओं को उनके पति ने छोड़ दिया है। आमदनी का कोई जरिया नहीं था।

इसलिए दोनो देह व्यापार के धंधे में उतर गईं। कोई ग्राहक मिला नहीं। इसलिए सामूहिक बलात्कार की कहानी गढ़ ली ताकि सरकार से पैसा ऐंठ सकें। पुलिस ने दोनो महिलाओं को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।