बनारस में 62 दिन बाद विमानों ने फिर भरी उड़ान, दिनभर बनी रही भ्रम की स्थिति

मुम्बई से विमानों की आवाजाही को लेकर पूरे दिन भ्रम की स्थिति बनी रही। एयरपोर्ट पर मौजूद विमान यात्रियों द्वारा एयरलाइंस और एयरपोर्ट के अधिकारियों से बार-बार इस बारे में जानकारी ली जाती रही लेकिन अधिकारियों द्वारा भी कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई।

वाराणसी: कोरोना काल में पूरे 62 दिन बाद वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री एयरपोर्ट पर रौनक दिखी। एयरपोर्ट परिसर यात्रियों से गुलजार दिखा। पूरे दिन 19 विमानों की आवाजाही हुई। इस दौरान 4 विमानें रद्द कर दी गईं। कोरोना से निबटने के लिए एहतिहात के सभी कदम उठाते गए। डीएम से लेकर एयरपोर्ट अधिकारी ने खुद तैयारियों का निरीक्षण किया।

मुम्बई की फ्लाइट को लेकर छाया रहा सस्पेन्स

मुम्बई से विमानों की आवाजाही को लेकर पूरे दिन भ्रम की स्थिति बनी रही। एयरपोर्ट पर मौजूद विमान यात्रियों द्वारा एयरलाइंस और एयरपोर्ट के अधिकारियों से बार-बार इस बारे में जानकारी ली जाती रही लेकिन अधिकारियों द्वारा भी कोई स्पष्ट जानकारी नहीं दी गई। हालांकि दोपहर तक मुंबई से केवल एक विमान वाराणसी एयरपोर्ट पर आया था।

इंडिगो एयरलाइंस का विमान 6ई578 दोपहर सवा 12.10 बजे मुंबई से उड़ान भरा था जो 1.54 बजे वाराणसी पहुंचा। इस विमान से पहले मुंबई से आने वाले स्पाइसजेट के विमान एसजी 704, और वाराणसी से मुंबई जाने वाले विमान एसजी 703 को रद कर दिया गया। इसके अलावा वाराणसी-कोलकाता के बीच संचालित होने वाले इंडिगो के विमान 6ई789 और वाराणसी-मुंबई के बीच चलने वाले विमान 6ई106 को भी रद कर दिया गया।

ये भी देखें: कुलदीप सेंगर की बेटी ने अलका लांबा पर लिखाया मुकदमा, लगाया गंभीर आरोप

दिल्ली से पहुंची पहली विमान

सोमवार को 10.35 बजे दिल्ली से इंडिगो एयरलाइंस का विमान 155 यात्रियों को लेकर वाराणसी एयरपोर्ट पर पहुंचा। विमान के आने के बाद 10-10 यात्रियों का ग्रुप बनाकर उनको विमान से बाहर निकाला गया और एयरोब्रिज पर उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की गई। यात्रियों के बैग को भी सैनिटाइज किया गया। इस दौरान शारीरिक दूरी के नियमों को भी ध्यान रखा गया। यात्रियों की जांच पड़ताल कर उनको टर्मिनल भवन में प्रवेश दिया गया।

यात्रियों के जूते और बैग को बाहर ही सैनिटाइज किया जा रहा है

यात्रियों के जूते और बैग को बाहर ही सैनिटाइज करवाया जा रहा है। उसके बाद प्रस्थान गेट पर उनकी थर्मल स्कैनिंग करने के साथ ही बैग को सैनिटाइज करके उनको अंदर प्रवेश दिया जा रहा है। एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप ने कहा की तैयारियां पूरी है और यात्रियों की बारीकी से जांच पड़ताल की जा रही है। सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन का पालन कराया जा रहा है।

ये भी देखें: 4 बाघों से घिरे लोग: मौत थी एकदम करीब, लेकिन ऐसे बचाई जान

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App