Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे अजय लल्लू, टिकैत के साथ धरने में हुए शामिल

कांग्रेस ने शुक्रवार को किसान आंदोलन में खुलकर मोर्चा संभाल लिया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने गाजीपुर बार्डर पर पहुंचकर किसान आंदोलन में शिरकत की। उन्होंने किसान नेता राकेश टिकैत से मिलकर कहा कि कांग्रेस पार्टी पूरी ताकत से देश के किसानों के साथ खड़ी है।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 29 Jan 2021 3:01 PM GMT

गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे अजय लल्लू, टिकैत के साथ धरने में हुए शामिल
X
गाजीपुर बॉर्डर पहुंचे अजय लल्लू, टिकैत के साथ धरने में हुए शामिल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: कांग्रेस ने शुक्रवार को किसान आंदोलन में खुलकर मोर्चा संभाल लिया है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने गाजीपुर बार्डर पर पहुंचकर किसान आंदोलन में शिरकत की। उन्होंने किसान नेता राकेश टिकैत से मिलकर कहा कि कांग्रेस पार्टी पूरी ताकत से देश के किसानों के साथ खड़ी है।

किसानों के बीच में बैठकर दिया धरना

दिल्ली-गाजीपुर बार्डर पर धरना दे रहे किसानों के पास पहुंचे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने किसानों के बीच में ही बैठकर धरना दिया। उन्होंने किसानों से बातचीत भी की। कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता डॉ उमाशंकर पांडेय ने बताया कि प्रदेश अध्यक्ष ने किसानों से कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार पहले दिन से सरकार अन्नदाता किसानों के आंदोलन को तितर-बितर करना चाहती है, गुमराह करना चाहती है, भटकाना चाहती है।

ये भी पढ़ें: सीतापुर: मंत्री ने किया ‘शिक्षा किरण’ का अनावरण, इन जिलों को मिलेगा लाभ

बोले- किसानों पर दमन और उत्पीड़नात्मक कार्यवाही कर रही भाजपा

केन्द्र की भाजपा सरकार की ओर से लागू किये गये तीन काले कृषि कानूनों को वापस लिये जाने तथा न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी की मांग को लेकर विगत 68 दिनों से इस हाड़ कंपाने वाली ठण्ड में देश के किसान आंदोलन कर रहे हैं। आन्दोलनरत अन्नदाता किसानों पर भाजपा सरकार की ओर से दमन और उत्पीड़नात्मक कार्यवाही की जा रही है। कांग्रेस इसका विरोध कर रही है। भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत सहित अन्य किसान नेताओं से मुलाकात की और उनके आन्दोलन में शामिल हुए।

गाजीपुर बार्डर पर किसानों से बातचीत में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि किसान भाईयों को, तमाम किसान संगठनों को, जिनके कुशल नेतृत्व में शांतिपूर्वक आंदोलन चल रहा है। उन्होने कहाकि अब तक 68 दिन में 170 से अधिक किसानों ने इस आन्दोलन की सफलता के लिए शहादत दी है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार पूरी तरह तानाशाहीपूर्ण हटधर्मितायुक्त रवैया अपनाये हुए है। सरकार किसानों को केवल तारीख पर तारीख देती रही है किन्तु उसकी मंशा समाधान का नहीं रहा। वह किसानों को थकाओ और भगाओ की साजिश करती रही है।

11 बार बैठक के बावजूद कोई समाधान नहीं : लल्लू

यही कारण है कि 11 बार किसानों के साथ बैठक के बावजूद कोई समाधान नहीं निकला। सरकार अपने चंद उद्योगपति मित्रों को लाभ पहुंचाने के लिए हठधर्मिता, अड़ियल रूख और अहंकार के माध्यम से किसानों के विरूद्ध षडयंत्र के तहत वार्ता का ढोंग करती रही और अपमानित भी करती रही। जिसका पर्दाफाश हो चुका है। भाजपा सरकार का किसान विरोधी चेहरा बेनकाब हो चुका है।

ये भी पढ़ें: अयोध्या: डॉ. राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय में सूर्य नमस्कार का आयोजन

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों के शांतिमय आंदोलन और अन्नदाता के साथ मजबूती से खड़ी है। उन्होने कहा कि किसानों के साहस, संघर्ष और सच्चाई के विरूद्ध जारी सरकारी साजिश और षडयन्त्र के खिलाफ कांग्रेस किसानों के साथ सड़क से लेकर सदन तक सहयोग और समर्थन जारी रखेगी।

अखिलेश तिवारी

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story