आजम की मदद करने कल रामपुर पहुंचेंगे अखिलेश

भाजपा की सरकार बनने के बाद से ही आजम खां पर प्रदेश सरकार की निगाहें टेढ़ी रही है। रामपुर में जौहर विश्वविद्यालय के मामले में आजम पर जमीन कब्जा करने समेत कई आरोप लगे है और स्थानीय प्रशासन इसकी जांच भी कर रहा है। जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है आजम की मुश्किले भी बढ़ती जा रही है।

मनीष श्रीवास्तव

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव आगामी 13 सितम्बर को बरेली व रामपुर के तीन दिवसीय दौरे पर जायेंगे। अखिलेश 13, 14 और 15 सितम्बर को बरेली और रामपुर में विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेगे। इस दौरान वह रामपुर से सांसद आजम खां से उनके आवास पर मुलाकात भी करेंगे और जौहर विश्वविद्यालय भी जायेंगे। आजम के मामले में इससे पहले सपा के दो कार्यक्रम सफल नहीं हो पाये है इसलिए अब देखना होगा कि वह अपने पिता के पुराने मित्र और पार्टी के दिग्गज नेता आजम खां की कितनी मदद कर पाते है।

आजम खान की मुश्किलें भी बढ़ती जा रही है

गौरतलब है कि वर्ष 2017 में प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद से ही आजम खां पर प्रदेश सरकार की निगाहें टेढ़ी रही है। रामपुर में जौहर विश्वविद्यालय के मामले में आजम पर जमीन कब्जा करने समेत कई आरोप लगे है और स्थानीय प्रशासन इसकी जांच भी कर रहा है। जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ रही है आजम की मुश्किले भी बढ़ती जा रही है। इस मामले में सपा भी उनकी कोई खास मदद नहीं कर पा रही है।

ये भी देखें : जनता को दुखी करने वाले अव्यवहारिक फैसले ले रही है भाजपा सरकार: अखिलेश

आजम खान के खिलाफ रामपुर जिला प्रशासन की तरफ से की जा रही कार्रवाई के खिलाफ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीती 9 अगस्त को रामपुर में जिला प्रशासन को घेरने का आह्वान किया था। उन्होंने आसपास के सभी जिलों के कार्यकर्ताओं और नेताओं को रामपुर कूच करने का फरमान जारी किया था लेकिन रामपुर प्रशासन की मुस्तैदी के आगे सपा का ये शक्ति प्रदर्शन फ्लॉप शो साबित हुआ।

नेतृत्वहीन सपा कार्यकर्ता छिटपुट प्रदर्शन में सिमट कर रह गए

इसकी वजह खुद अखिलेश यादव की इस प्रदर्शन से दूरी को माना गया, अखिलेश ही नहीं सपा के तमाम बड़े नेता रामपुर नहीं पहुंचे और नेतृत्वहीन सपा कार्यकर्ता छिटपुट प्रदर्शन में सिमट कर रह गए। इधर आजम पर कार्रवाई लगातार जारी है, और उन पर मुकदमों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, जिसमे चोरी, जमीन कब्जाने, डकैती की तमाम धाराओं के तहत मुकदमे शामिल हैं।

ये भी देखें : दलितों के साथ अन्याय कर रही है भाजपा सरकार: अखिलेश यादव

इस आधे-अधूरे मन से किए गये प्रदर्शन से निराश आजम की पत्नी तजीन फातिमा ने आजम खां के पुराने दोस्त और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की और अपना दर्द बयान किया। अपने पुराने मित्र को संकट में देख कर मुलायम ने मीड़िया में जाने का फैसला किया और करीब ढ़ाई साल बाद बीती तीन सितंबर को औपचारिक तौर पर मीडिया से रूबरू हो कर आजम के खिलाफ हो रही कार्रवाई को अन्याय बताते हुए आंदोलन करने की बात कही। इसके साथ ही मुलायम ने मीडिया से भी आजम खां की मदद करने की अपील की।

मुलायम की इस अपील के बाद कई दिनों तक सपा की ओर से कोई आंदोलन की घोषणा नहीं होने के बाद मीडिया में मुलायम और अखिलेश के बीच आजम के मामले में मतभेद की खबरे आने लगी तो सपा अध्यक्ष पर दबाव बना और उन्होंने बीती 9 सितम्बर को रामपुर जाने का ऐलान किया लेकिन प्रशासन से मंजूरी नहीं मिलने के कारण अखिलेश ने अपना दौरा रदद कर दिया था।

अखिलेश के दौरे का कार्यक्रम

पार्टी से मिली जानकारी के मुताबिक, सपा अध्यक्ष 13 सितम्बर को सुबह 10.30 बजे लखनऊ से बरेली के लिए रवाना होंगे और दोपहर बाद 3.30 बजे बरेली में मोहल्ला मिरधान, फरीदपुर में पूर्व विधायक स्व. सियाराम सागर को श्रंद्धाजलि देंगे और उनके परिवार से शोक संवेदना व्यक्त करेगें। शाम 4.00 बजे अखिलेश बरेली से चलकर 5.00 बजे रामपुर पहुंचेगें। यहां रंगोली मण्डप में 5.00 बजे कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेगें और आजम खां के हमसफर रिजार्ट में रात्रि विश्राम करेगें।

ये भी देखें : बहुत महंगी सब्जी: 30 हजार रुपये KG, गरीब है तो कभी नहीं खा पाएंगे

जबकि 14 सिम्बर को हमसफर रिजार्ट में ही सुबह 9.00 बजे धर्मगुरूओं से मुलाकात करेंगे और इसके बाद नगर पालिका अध्यक्षों, अधिवक्ताओं और महिला प्रतिनिधिमंडल से भेंट करेगें। इसके बाद सपा अध्यक्ष पुलिस प्रताड़ना के शिकार लोगों के परिवारों से भेंट करेगें और फिर मो. अली जौहर विश्वविद्यालय जाएगें वहां वह करीब दो घंटे रहेंगे फिर रामपुर के सपा सांसद आजम खां से उनके निवास पर मुलाकात करेंगे।

आजम से मुलाकात के बाद सपा मुखिया रामपुर में उर्दू गेट का निरीक्षण करते हुए आजम खां के स्कूल रामपुर पब्लिक स्कूल इंटरनेशनल पहुंचेगें। यहां से वह बरेली के लिए रवाना होंगे और बरेली सर्किट हाउस में रात्रि विश्राम के बाद अगले दिन सुबह लखनऊ के लिए रवाना होंगे।