Top

अखिलेश का BJP पर हमला, बोले- यही हालात रहे, तो शायद देश फिर गुलाम हो जाएगा

अखिलेश यादव ने कहा, बताया जाता है कि जो हस्तिनापुर से जीत जाता है, प्रदेश में उसी की सरकार बनती है। उन्होंने कहा कभी कभी हमारे मुख्यमंत्री भटक जाते हैं, वो लाल टॉपी वालों को न जाने क्या-क्या कहते हैं।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 March 2021 11:42 AM GMT

अखिलेश का BJP पर हमला, बोले- यही हालात रहे, तो शायद देश फिर गुलाम हो जाएगा
X
अखिलेश का बीजेपी पर हमला, बोले- यही हालात रहे, तो शायद देश फिर गुलाम हो जाएगा (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मेरठ: सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज यहां देश के वर्तमान हालात का जिक्र करते हुए कहा कि यही हालात रहे, तो शायद देश फिर गुलाम हो जाएगा। जिन्‍होंने इतिहास पढ़ा होगा वे जानते होंगे कि एक व्‍यापार करने वाली कंपनी सरकार बन गई। एक कानून पास हुआ और कंपनी कानून बन गई। जो लड़ाई उस समय चलाई गई थी। उसकी आज भी जरूरत है। शहर से करीब २५ किमी दूर मवाना में पार्टी द्वारा आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि देश के लिए शहीद हुए ज्यादातर क्रांतिकारी मजदूर या किसान के बेटे थे। अखिलेश ने कहा ये तीनों कृषि कानून देश के किसानों को बर्बाद कर देंगे। उन्होंने कहा पंजाब के किसानों के आंदोलन की वजह से उत्तर प्रदेश के किसान जागरुक हुए हैं।

ये भी पढ़ें:मौतों से पंजाब में हाहाकार: नए स्ट्रेन से बढ़ा खतरा, CM ने मांगी सबके लिए वैक्सीन

हस्तिनापुर से जीत जाता है, प्रदेश में उसी की सरकार बनती है

अखिलेश यादव ने कहा, बताया जाता है कि जो हस्तिनापुर से जीत जाता है, प्रदेश में उसी की सरकार बनती है। उन्होंने कहा कभी कभी हमारे मुख्यमंत्री भटक जाते हैं, वो लाल टॉपी वालों को न जाने क्या-क्या कहते हैं। उन्होंने कहा जिसके सिर पर बाल नहीं होते हैं उसके सिर पर लाल टॉपी बहुत जमती है। उन्होंने कहा अगर बीजेपी ने उत्तर प्रदेश खो दिया तो वह दिल्ली को खो देंगे। अखिलेश ने लोगों से अपील करते हुए कहा इस बार उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनवा दीजिए।

जो किसानों को आंदोलन खत्‍म करना चाहते हैं वे सबसे ज्‍यादा एंटीसोशल हैं

पूर्व मुख्यमंत्री ने किसान आंदोलन पर बोलते हुए कहा कि जो किसानों को आंदोलन खत्‍म करना चाहते हैं वे सबसे ज्‍यादा एंटीसोशल हैं। किसानों केा धान का एमएसपी नहीं मिल पाया। गन्‍ना का भुगतान नहीं हुआ। आज भी वेस्‍टर्न यूपी में सबसे ज्‍यादा किसानों केा गन्‍ना भुगतान का इंतजार कर रहे हैं। चार साल से जश्‍न मना रही है सरकार बताओ, किसान क्‍यों परेशान है। समाजवादी ने जितनी गन्‍ने की जितनी कीमत बढ़ाई उतनी ये नहीं बढ़ा पाए। डीजल पेट्रोल लगातार मंहगा होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिस देश के बैंक डूबने लगे यही लोग जो विश्‍वगुरू का सपना दिखाने वाले लोग ही बताएं कि देश कैसे विश्‍व गुरू बनेगा। जब नौजवानों के पास काम न हों। आज तक सरकार ने जितने फैसले लिए वे सब गलत हैं।

ये भी पढ़ें:वैक्सीन से खिलवाड़: बाराबंकी में नर्स का बड़ा कांड, गांव जाकर लगा दिया 22 को टीका

इस मौके पर अखिलेश यादव ने शहीद धन सिंह कोतवाल की प्रतिमा का भी अनावरण किया। उधर, पुलिस प्रशासन द्वारा जनसभा के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। यहां बता दें कि इससे पहले कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी,रालोद के जयंत चौधरी के अलावा आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल मेरठ में किसान पंचायत को संबोंधित कर चुके हैं।

रिपोर्ट- सुशील कुमार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story