इससे सीखें सड़कों पर गाय-सांड को न आने देने के गुर: अखिलेश यादव

दिग्गज समाजवादी नेता मोहन सिंह की पुण्यतिथि पर उनको श्रद्धाजंलि देने के लिए आयोजित कार्यक्रम में सपा मुखिया ने कहा कि योगी सरकार को आइआइएम में अच्छी सड़के बनानाा सीखना चाहिए। उन्होंने कहा कि बताया जा रहा है कि सरकार एक्सप्रेस-वे से रोजाना डेढ़ करोड़ रुपये कमा रही है, तो उसे रिवर फ्रंट को भी अच्छा बिजनेस माडल बनाना भी सीखना चाहिए।

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आइआइएम लखनऊ में योगी मंत्रिमंडल के प्रबंधन के क्लासों पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि योगी सरकार को सड़कों पर गाय माता और सांड न आये इसका प्रबंधन सीखना चाहिए।

ये भी देखें : तूफान का खतरा: अभी-अभी भारत में जारी हुआ रेड अलर्ट, IMB की चेतावनी

सरकार एक्सप्रेस-वे से रोजाना डेढ़ करोड़ रुपये कमा रही है: अखिलेश

दिग्गज समाजवादी नेता मोहन सिंह की पुण्यतिथि पर उनको श्रद्धाजंलि देने के लिए आयोजित कार्यक्रम में सपा मुखिया ने कहा कि योगी सरकार को आइआइएम में अच्छी सड़के बनानाा सीखना चाहिए। उन्होंने कहा कि बताया जा रहा है कि सरकार एक्सप्रेस-वे से रोजाना डेढ़ करोड़ रुपये कमा रही है, तो उसे रिवर फ्रंट को भी अच्छा बिजनेस माडल बनाना भी सीखना चाहिए।

ये भी देखें : जो लोग वंदे मातरम को स्वीकार नहीं कर सकते, उन्हें भारत में रहने का हक नहीं: केंद्रीय मंत्री सारंगी

अखिलेश ने आरोप लगाया कि विधानसभा उपचुनाव के मददेनजर प्रदेश की भाजपा सरकार आजम खां पर बदले की भावना से कार्रवाई कर रही हैं। उन्होंने कहा कि यहां तक कि बरसों पहले स्वर्ग सिधार चुकी आजम खान की मां के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज करा दिया है।

सपा अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा पर आरोप लगाया कि हमारे किसानों को बर्बाद करने के लिए अमेरिका से डील हो रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को देश को बताना चाहिए कि अमेरिका में क्या डील हो रही है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका भारत को खुश कर रहा है, क्योंकि भारत बड़ा बाजार है, पता चला है कि अमेरिका से खाद्य पदार्थ और इलेक्ट्रानिक सामान आयात किया जायेगा।

ये भी देखें : 10,500 भर्तियां! RPF की सबसे ज्यादा नौकरियां, इनके लिए है 50% आरक्षित

 इससे देश का किसान परेशान होगा

अखिलेश ने कहा कि सरकार को देखना चाहिए कि अमेरिका भी हमें राहत दे, सरकार की जिम्मेदारी है कि वह देखे की भारत को क्या मिल रहा है। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो रही है और केवल कारपोरेट टैक्स कम करने से किसी गरीब की जेब में पैसा जाने वाला नहीं है। अगर किसानों को समय से बीज मिले और फसल का सही मूल्य मिले तो वह भी सरकार को धन्यवाद देंगे।