Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

कहीं राजनैतिक विद्वेष के चलते तो नहीं मिली अनुमति : औरैया व्यापारी नेता

बताते चलें कि प्रत्येक वर्ष माह दिसंबर के अंत व जनवरी की शुरुआत में शरदोत्सव प्रदर्शनी का आयोजन नगर पालिका परिषद द्वारा कराया जाता रहा था।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 18 Feb 2021 10:34 AM GMT

कहीं राजनैतिक विद्वेष के चलते तो नहीं मिली अनुमति : औरैया व्यापारी नेता
X
कहीं राजनैतिक विद्वेष के चलते तो नहीं मिली अनुमति : औरैया व्यापारी नेता (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

औरैया: विगत सात दशकों से लगने वाली शरदोत्सव प्रदर्शनी पर इस बार ग्रहण लगता हुआ दिखाई दे रहा है। जिलाधिकारी से विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं सहित सभासदों एवं बार एसोसिएशन ने प्रदर्शनी लगाए जाने की अनुमति प्रदान किए जाने की मांग की थी। जिस पर जिलाधिकारी द्वारा उन्हें आश्वासन तो दिया गया मगर अब तक प्रदर्शनी की अनुमति न मिलने से सभी संगठनों में रोष व्याप्त है।

ये भी पढ़ें:ट्रैक पर टेंट लगाकर बैठे किसान, शामली में रेल रोको अभियान को लेकर अलर्ट जारी

कोविड-19 के चलते सरकार द्वारा ऐसे आयोजनों पर रोक लगा दी गई थी

बताते चलें कि प्रत्येक वर्ष माह दिसंबर के अंत व जनवरी की शुरुआत में शरदोत्सव प्रदर्शनी का आयोजन नगर पालिका परिषद द्वारा कराया जाता रहा था। इस बार कोविड-19 के चलते सरकार द्वारा ऐसे आयोजनों पर रोक लगा दी गई थी। मगर प्रदर्शनी प्रारंभ कराए जाने से पूर्व ही सरकार द्वारा सभी आयोजनों को सुचारू रूप से संचालित कराए जाने के निर्देश जारी कर दिए गए थे। जिसके तहत शहर की जनता ने अनुमान लगाया था कि प्रदर्शनी इस बार भी लगेगी। मगर जिला प्रशासन से उन्हें अनुमति न मिलने के कारण झटका लगा है।

दशकों पुरानी परंपरा को तोड़ना उचित नहीं था

व्यापार संगठन के जिला अध्यक्ष बबलू बाजपेई ने कहा कि दशकों पुरानी परंपरा को तोड़ना उचित नहीं था। इसलिए वह जिला प्रशासन की निंदा करते हैं। उन्होंने कहा कि आसपास के जनपदों में प्रदर्शनी सुचारू रूप से संचालित हो रही है जबकि औरैया में जिला प्रशासन द्वारा इसकी अनुमति नहीं दी गई है। यह राजनीतिक द्वेष का परिणाम स्पष्ट तौर से दिखाई दे रहा है। वहीं भारत परिषद के पदाधिकारी प्रेम नारायण मिश्रा ने कहा कि उन लोगों द्वारा जिलाधिकारी से मांग की गई थी तो उन्होंने अनुमान लगाया था कि प्रदर्शनी की अनुमति अवश्य मिलेगी। मगर अब तक अनुमति न मिलना अपने आप में एक सवाल खड़ा कर रहा है।

auraiya auraiya (PC: social media)

भारत प्रेरणा मंच के अध्यक्ष अजय शुक्ला अंजाम ने कहा

भारत प्रेरणा मंच के अध्यक्ष अजय शुक्ला अंजाम ने कहा कि उनके संगठन द्वारा भी जिलाधिकारी से मुलाकात करते हुए प्रदर्शनी को लगाए जाने की मांग की गई थी। जिस पर जिलाधिकारी ने शीघ्र अनुमति दिए जाने की बात कही थी। मगर अब तक अनुमति न मिलने से शहर की जनता को ठेस पहुंची है। नगर पालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि लाल जी शुक्ला ने बताया कि कहीं नहीं न कहीं जिलाधिकारी की मजबूरी रही होगी या सरकार द्वारा उन्हें ऐसे निर्देश नहीं मिले होंगे कि प्रदर्शनी को लगाया जाए।

ये भी पढ़ें:बॉर्डर पर उड़े 500 टैंकर: आग से मची भयानक तबाही, देख कांप उठा हर कोई

इसलिए शायद अब तक अनुमति नहीं दी जा सकी है। बैठक में मुख्य रूप से नगर पालिका अध्यक्ष गायत्री देवी, सभासद छैया त्रिपाठी, पंकज मिश्रा, सतीश पाठक, रामू त्रिवेदी, राजेंद्र तिवारी, राजवीर यादव, कुल्लन नेता एवं नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी बलवीर सिंह सहित स्टाफ एवं अन्य सभासद मौजूद रहे।

रिपोर्ट- प्रवेश चतुर्वेदी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story