रामलला का बैंक अकाउंट: अब भक्त कर सकेंगे आसानी से दान, जारी हुआ अकाउंट

मंदिर निर्माण के लिए बैंक अकाउंट खुल चुका है और श्रद्धालुओं के लिए खाता नंबर भी जारी कर दिया गया है। राम मंदिर निर्माण के लिए गठित किए गए ट्रस्ट (राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट) का दान खाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में खोला जा चुका है।

रामलला का बैंक अकाउंट: अब भक्त कर सकेंगे आसानी से दान, जारी हुआ अकाउंट

रामलला का बैंक अकाउंट: अब भक्त कर सकेंगे आसानी से दान, जारी हुआ अकाउंट

अयोध्या: 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने अपना ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए रामलला के हक में अपना निर्णय सुनाया। जिसके बाद से अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण को लेकर तैयारियां शुरु हो गई हैं। रामलला को गर्भगृह से निकाल कर नए मेकशिफ्ट मंदिर में विराजमान कराया गया, ताकि मंदिर बनाने के कार्य में और तेजी आ सके। जहां एक ओर मंदिर निर्माण में तेजी लाने की कोशिश की जा रही है तो अब से मंदिर निर्माण में आम लोग भी शामिल हो सकते हैं।

खुल गया रामलला का बैंक अकाउंट

जानकारी के मुताबिक, मंदिर निर्माण के लिए बैंक अकाउंट खुल चुका है और श्रद्धालुओं के लिए खाता नंबर भी जारी कर दिया गया है। राम मंदिर निर्माण के लिए गठित किए गए ट्रस्ट (राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट) का दान खाता स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में खोला जा चुका है। ट्रस्ट के महामंत्री चम्पत राय ने दान के लिए अकाउंट नंबर की घोषणा कर दी है।

यह भी पढ़ें: केविन-विराट के Live इंटरव्यू में अनुष्का ने किया कुछ ऐसा, वायरल हो गई फोटो

ये हैं बैंक अकाउंट नंबर

अकाउंट नंबर जारी करने के बाद से अब राम भक्त बचत खाता संख्या 39161495808 और करेंट अकाउंट नंबर 39161498809 में अपनी इच्छा अनुसार दान कर सकते हैं। इन दान का इस्तेमाल ट्रस्ट मंदिर निर्माण से जुड़े कार्यों में करेगा।

ट्रस्ट के महामंत्री ने खाता संख्याओं का किया एलान

ट्रस्ट के महामंत्री चम्पत राय ने खाता संख्याओं का एलान करते हुए कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए और लॉकडाउन के चलते राम मंदिर निर्माण का कार्य पहले ही स्थगित किया जा चुका है। उन्होंने ये भी बताया कि राम जन्मभूमि में राम जन्मोत्सव रीति से मनाया गया।

यह भी पढ़ें: कोरोना से युद्ध के लिए भारतीय सेना तैयार, इतनी बड़ी है तैयारी

महावीर मंदिर ट्रस्ट ने दान किए 2 करोड़ रुपये

ट्रस्ट के महामंत्री ने बताया कि राम जन्मोत्सव के दौरान महावीर मंदिर ट्रस्ट पटना ने पहली बार सुरक्षा में तैनात 2400 सुरक्षाकर्मियों के लिए प्रसाद का इंतेजाम किया। इसके साथ ही महावीर मंदिर ट्रस्ट ने राम मंदिर निर्माण के लिए 2 करोड़ रूपये का चेक भी दान के तौर पर दिया।

25 मार्च को फाइबर मंदिर में विराजमान हुए रामलला

अयोध्या में जन्मभूमि परिसर में रामलला बुधवार को नवरात्रि के पहले दिन यानि 25 मार्च को अस्थाई फाइबर मंदिर में विराजमान हुए। पिछले 28 सालों से टेंट में विराजमान रामलला की शिफ्टिंग से पहले अस्थायी मंदिर का शुद्धिकरण किया गया। इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: विराट कोहली का बड़ा खुलासा: पीटरसन से बोले-ऐसे बने बेहतर इंसान, खोले कई राज…

जयपुर से बनवाया गया रामलला का सिंहासन

बुधवार को सुबह ब्रह्म मूहूर्त में करीब 4 बजे श्रीरामजन्मभूमि परिसर में स्थित गर्भगृह में रामलला को स्नान और पूजा-अर्चना के बाद अस्थायी मंदिर में शिफ्ट किया गया। फाइबर के नए मंदिर में रामलला को विराजमान करने के लिए अयोध्या के राजघराने की तरफ से चांदी का सिंहासन भेंट किया गया। साढ़े नौ किलो का यह सिंहासन जयपुर से बनवाया गया है।

जिस आकर्षक सिंहासन पर श्रीरामलला को विराजमान किया गया है उसके पिछले हिस्से पर सूर्य देव की आकृति और दो मोर बने हैं। अब तक मूल गर्भगृह के अस्थायी मंडप में रामलला लकड़ी के सिंहासन पर विराजित थे। अयोध्या राजघराने के राजा विमलेंद्र मोहन मिश्र स्वयं यह सिंहासन लेकर अयोध्या से आए थे।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस पर देशवासियों के लिए PM मोदी का वीडियो संदेश, सुने यहां

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App