देशभर के 135 संत: अयोध्या में लगेगा जमावड़ा, भूमिपूजन कार्यक्रम में ऐसे मिलेगी एंट्री

देश के 36 साधु संत सम्प्रदाय के 135 संतों को भूमिपूजन समारोह का आमंत्रण दिया गया है। निमंत्रण पत्र पर सेक्युरिटी कोड सुनिश्चित किये गए हैं।

Ayodhya ram mandir bhumi pujan updates

अयोध्या । उत्तर प्रदेश में राम मंदिर निर्माण को लेकर हो रही तैयारियां जोरो शोरों से जारी है। अयोध्या में उत्सव जैसा माहौल है। इस बारे में राम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट के महासचिव चम्पत राय ने जानकारी दी कि भूमिपूजन की शुरुआत आज से ही गणेश गौरी पूजन के साथ शुरू हो गयी है। वहीं 4 अगस्त को रामार्चा होगा और 5 अगस्त को प्रधानमंत्री मोदी भूमिपूजन और कार्य निर्माण का शुभारंभ करेंगे।

देश भर से लाये गए जल और मिट्टी से मंदिर निर्माण कार्य का शुभारंभ

मंदिर निर्माण कार्य का शुभारंभ देश भर से लाये गए जल और मिट्टी का प्रयोग कर किया जायेगा। काशी और अयोध्या के विद्वान पंडित शिलापूजन का कार्यक्रम भी सम्पन्न कराएंगे। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर पीएम मोदी पारिजात वृक्ष का एक पौधा भी रोपित करंगे।

36 साधु सम्प्रदाय के 135 संतों को भूमिपूजन में आमंत्रण

महासचिव चम्पत राय ने आगे बताया कि देश के 36 साधु संत सम्प्रदाय के 135 संतों को भूमिपूजन समारोह का आमंत्रण दिया गया है। भूमिपूजन समारोह में कुल 170 – 175 के बीच अतिथि रहेंग। महासचिव ने बताया कि कार्य आरंभ करने के लिए मुहूर्त निकाला गया है।

ये भी पढ़ेंः राम मंदिर की भविष्यवाणी सचः 19 साल पहले 5 अगस्त को हुआ एलान, अब हो रहा पूरा

राम मंदिर का शिलान्यास हो चुका पहले

उन्होंने ये भी स्पष्ट किया कि राम मंदिर का शिलान्यास तो पहले ही हो चुका है। शिल्पातों से प्रतीकात्मक शिलान्यास भी होगा। यह पूजा गर्भगृह पर ही होगी। महासचिव ने कहा, अभी प्रस्तावित मंदिर का नक्शा पास होना है।

ये भी पढ़ेंः योगी का दौरा: अयोध्या में हर गतिविधि पर नजर, भूमिपूजन में कोरोना की दिखी चिंता

सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ार, निमंत्रण पत्र पर सेक्युरिटी कोड :

महासचिव चम्पत राय ने बताया कि निमंत्रण पत्र पर सेक्युरिटी कोड सुनिश्चित किये गए हैं, जिससे प्रवेश एक ही बार होगा। सभी अतिथियों को 5 अगस्त को प्रातः 10 बजे के पहले पहुचने का अनुरोध किया गया है। इस अवसर पर राम जन्मभूमि मन्दिर के भूमिपूजन के शिलापट का अनावरण प्रधानमंत्री करेंगे साथ ही राम जन्मभूमि मन्दिर के प्रस्तावित मॉडल का डाक टिकट जारी करेंगे।

पंच धातुओं से बना कमल रामलला के मंदिर में होगा स्थापित

ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष देव गिरी महाराज ने बताया की कांची मठ द्वारा भेजा गया पंच धातुओं से बना कमल पूजन के बाद रामलला के मंदिर में स्थापित किया जाएगा। इस अवसर पर उन्होंने अपने गुरु महामंडलेश्वर सत्य मित्रानंद की आज्ञा से सवा लाख रुपए राम मंदिर निर्माण में दान देने की घोषणा की।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App