योगी का दौरा: अयोध्या में हर गतिविधि पर नजर, भूमिपूजन में कोरोना की दिखी चिंता

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि बैठक में पूर्ण रूप से कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन किया जाये तथा सोशल डिस्टेंसिग पर विशेष बल दिया जाये।

अयोध्या: आगामी 5 अगस्त को अयोध्या के श्री राम जन्मभूमि परिसर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा भूमि पूजन कार्यक्रम को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा कार्यक्रम के 2 दिन पूर्व दूसरी बार अयोध्या आकर कार्यक्रम की समीक्षा स्थानीय स्तर पर रामजन्म भूमि परिसर में बनाये गये पंडाल में की।

ये भी पढ़ें: UP को बचाएंगी ये 16 टीमें, राहत कार्यों में जुटीं, बाढ़ में डूबे जिलों के लिए बनी मसीहा

सीएम योगी ने दिए ये निर्देश

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि बैठक में पूर्ण रूप से कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन किया जाये तथा सोशल डिस्टेंसिग पर विशेष बल दिया जाये। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्य कार्यक्रम स्थल पर जैसे हेलीपैड, हनुमानगढ़ी, जन्मभूमि परिसर अलग-अलग स्थानों पर वरिष्ठ अधिकारियों को तैनात किया जाये तथा ऐसा ब्रीफिंग किया जाये कि लोग ड्यूटी के दौरान मोबाइल से फोटो और सेल्फी न ले और जहां जिसकी तैनाती हो वे एर्लट रहे। आम लोगों के साथ-साथ गौ-वंश एवं बन्दरों के भी नियंत्रण करने की कार्यवाही करने को कहा जिससे कि प्रधानमंत्री के आगमन में कोई चूक न हो।

कार्यक्रम को सफल बनाने के साथ कोविड-19 के प्रसार को रोकना मुख्य उदेश्य

बन्दरो को उनके क्षेत्रो में चना फल खिलाकर रोका जा सकता है। मैन पावर की आवश्यकता हो तो शासन के विशेष स्तर के अधिककारियों अन्य समकक्ष या पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारियों को मंगा कर ड्यूटी लगाई जा सकती है। मेरा मुख्य उदेश्य प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को सफल बनाने के साथ-साथ कोविड-19 के प्रसार को रोकना एवं प्रोटोकाल का पालन कराना है। कार्यक्रम में आने वाले लोग सीमित संख्या में आये तथा सेनेट्राइजेंसन आदि की कार्यवाही किया जाये एवं अनावश्यक रूप से जमवाड़ा न हो जाये।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

राम की पैड़ी के मीडिया के प्रसारण हेतु व्यवस्था में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो। सरयू नदी के जलस्तर को देखते हुए वहां पेट्रोलिंग बढ़ाई जाये। कार्यक्रम के सजीव प्रसारण हेतु आवश्यक व्यवस्था किया जाये तथा मीडिया के प्रबन्धन में विशेष ध्यान दिया जाये यहां के मण्डलीय उप निदेशक के अलावा अन्य स्थानों के सूचना अधिकारियों को राम की पैड़ी, कार सेवक पुरम्, कार्यशाला आदि स्थानों पर लगाया जाये तथा बेहतर सफाई व्यवस्था किया जाये। होर्डिंग एवं बैनर लगाने वाले संस्थाओ से यह सुनिश्चित किया जाये कोई बैनर या होर्डिंग गिरने न पाये। लोगो को ड्यूटी पर तैनात अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रो में अनावश्यक रूप से एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने का प्रयास न करें।

ये भी पढ़ें: मगरमच्छ के पेट में इस हाल में मिला 14 साल का लापता बच्चा, फिर क्या हुआ?

मुख्यमंत्री ने कहा कि दीप प्रज्जवलन के समय विशेष सावधानी बरती जाये तथा उसके बाद साफ-सफाई भी किया जाये। कार्यक्रम में कोविड सेफ्टी एवं फायर/अग्नि सेफ्टी पर विशेष जोर दिया जाये।

आज रात से छोटे वाहनों का आवाजाही बंद

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि आप लोगों की तैयारी अच्छी है कुछ बिन्दुओं पर जो सुझाव दिया है, उसे अपनाकर और बेहतर करें। इस बैठक में अपर मुख्य सचिव गृह एवं सूचना अवनीश अवस्थी ने विभिन्न पहलुओें पर समझाया, मण्डलायुक्त एमपी अग्रवाल ने बताया कि मण्डल के अन्य जनपदों को अवगत करा दिया गया है कि आज रात्रि 12 बजे से यातायात छोटे वाहनो का प्रतिबंधित किया गया है, लेकिन ध्यान रखा गया कि आम जनमानस को कोई दिक्कत न हो तथा पूरे नगर निगम में 60 वार्ड है जिसमें अयोध्या में 15 है। सभी में विशेष सफाई व्यवस्था की गई है तथा अयोध्या के विशेष वार्डो में सभी घरो में प्रयास किया जायेगा कि प्रसाद पहुॅच जाये।

प्रधानमंत्री कार्यक्रम का विस्तृत विवरण जिलाधिकारी अनुज कुमार झा द्वारा प्रस्तुत किया गया जिसमें जिलाधिकरी ने कहा कि प्रधानमंत्री आगामी 5 अगस्त को लगभग 11.30 बजे आ रहे जिसमें हनुमानगढ़ी का दर्शन, रामलला का दर्शन, एवं पौधारोपण कार्यक्रम के बाद लगभग 12.30 बजे रामलला मंदिर का भूमि पूजन के बाद पब्लिक फंक्शन में भाग लेंगे उनके आगमन को देखते हुए अपर जिलाधिकारी स्तर के वरिष्ठ अधिकारियो की ड्यूटी लगाई लयी है तथा क्षेत्र को पूरा सेनेट्राइज किया गया है।

ढाई लाख दिये जलाये जायेंगे

पेंटिंग बनाई गई है पीले कलर में घरो को मंदिरो की पोताई कराई गई तथा लगभग ढाई लाख दिये जलाये जायेगे जिसमें 75 हजार राम की पैड़ी पर होगा मंदिरो में भी दीपक जलाये जायेंगे तथा इसमें कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जायेगा तथा मीडिया के प्रबंधन हेतु लगभग 48 सूचना विभाग के अधिकारियो की विभिन्न स्थानो पर ड्यूटी लगाई गई है साथ कार्यक्रम के सजीव प्रसारण दूरदशन एवं एएनआई से समन्वय किया गया है जिसका बेहतर प्रसारण होगा तथा इनकी ओबी वैने भी निर्धारित स्थनों पर लगवा दी गई है।

पुलिस व्यवस्था के बारे में उप महा निरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार ने बताया कि पूरे क्षेत्र को 5 जोन में बाॅटा गया है जिसमें हेलीपैड, हनुमानगढ़ी रोड, रामलला रोड, काय्रर्कम स्थल, एवं भूमि पूजन स्थल है इसमें मजिस्ट्रेट एवं पुलिस के एसपी स्तर के अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गयी है 12 कम्पनी पीएसी 3 कमपनी सीआरपीएफ और एक कम्पनी महिला फोर्स तैनात किया गया है। इसके अलावा अन्य स्थानों पर पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की गई है तथा कोविड प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है।

अपर पुलिस महानिदेशक एसएन सावंत ने बताया कि प्रथम चरण में सभी अधिकारियो की बैठक कर ड्यूटी प्वांइट की जानकारी दे दी गई है तथा पुनः एसपीजी के साथ अधिकारियो की बिफिंग की जायेगी और पूरे जोन में भ्रमण कर लिया गया है तथा आज रात्रि से छोटो वाहनों पर प्रतिबंध लगाया जायेगा तथा कल 4 अगस्त से सांय 6 बजे सेे बड़े वाहनों पर भी प्रतिबंध लगाया जायेगा तथा आवश्यक सेवाओं को पूर्ण रूप से जारी रखा जायेगा तथा अपर पुलिस महा निदेशक ने कहा जो आपके निर्देश प्राप्त हुए है उसे पूरा किया जायेगा।

रिपोर्ट: नाथ बख्श सिंह, अयोध्या

ये भी पढ़ें: सुशांत के पिता का फूटा गुस्सा: मुंबई पुलिस पर लगाए ये आरोप, बोले- खतरे में था बेटा

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App