Top

भयंकर हंगामा: गाड़ी में भरकर ले जा रहा था गोवंश का मीट, ग्रामीणोें ने धर दबोचा

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 10 Aug 2020 9:44 AM GMT

भयंकर हंगामा: गाड़ी में भरकर ले जा रहा था गोवंश का मीट, ग्रामीणोें ने धर दबोचा
X
bagpat district
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बागपत: जनपद में गौ कटान कभी भी बड़े बवाल की वजह बन सकता है। आलम ये है कि बागपत में सुबह गौवंश ले जा रही एक गाड़ी को ग्रामीणों ने रोक लिया और जब गाड़ी के भीतर देखा कि उसमें गौवंश का मीट है तो ग्रामीणों का गुस्सा सांतवे आसमान पर पहुंच गया। नाराज ग्रामीणों ने हंगामा करते हुए गाड़ी में तोड़फोड़ कर डाली और गाड़ी में आग लगाने का भी प्रयास किया। इतना ही नही ग्रामीणों ने हंगामा करते हुए नेशनल हाइवे 709बी (दिल्ली सहारनपुर हाइवे ) भी जाम कर दिया गया।

आजम खान को तगड़ा झटका: गिरफ्तार हुआ इनका करीबी, पुलिस कर रही जांच

गाड़ी में लाया जा रहा था गोवंश का मीट

bagpat

ये तस्वीरें बागपत में दिल्ली-यमुनौत्री हाइवे की हैं। ग्रामीण गुस्से में हैं और उनके गुस्से का शिकार ये गाड़ी बनी है कि जिसमें गौवंश का कटान करके मीट ले जाया जा रहा था। पहले ग्रामीणोें ने हंगामा किया और फिर इस गाडी में तोड़फोड कर इसे पलट दिया और आग लगाने का भी प्रयास किया। आसपास के इलाकों से भी ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और गौवंश कटान करने वालों पर सख्त कार्रवाई की मांग की। हंगामा बढ़ता चला गया और दिल्ली-सहारनपुर हाइवे जाम होने से वाहनों की लंबीं-लंबीं कतारें लग गई.।

पुलिस लाइन में जन्माष्टमी की झांकी तैयार करते कारीगर, देखें तस्वीरें

पुलिस ने मीट को गडढ़े में दफन कराया

bagpaat

स्थिति को देखते हुए बागपत, खेकड़ा, चांदीनगर, अमीनगर सराय सहित कई थानों से फोर्स बुला ली गई। ग्रामीण सुनने को तैयार नहीं थी कि जब तक गौ तस्करों पर कार्रवाई नहीं होगी वो नहीं हटेंगे। आखिरकार पुलिस के काफी आश्वासन देने के बाद ग्रामीण मान गए और जाम खोल दिया गया। पुलिस ने मीट को गडढ़े में दफन करा दिया और गाड़ी को थाने भिजवा दिया। बताया जा रहा है कि खेकड़ा के मसूरी गांव के पास ग्रामीणों ने ये मीट ले जा रही गाड़ी पकड़ी थी, जिसके बाद हंगामा बढ़ता चला गया।

आखिर कब तक गौवंश कटान पर अंकुश लगेगा

इस घटना के बाद बागपत में फिर ये सवाल उठ रहें हैं कि आखिर कब तक गौवंश कटान पर अंकुश लगेगा और आखिरकार पुलिस की लापरवाही कब तक इस तरीके से भारी पड़ती रहेगी, क्योंकि ये बात सभी जानते हैं कि गोकटान को लेकर धीरे-धीरे सुलग रही गुस्से की चिंगारी, कभी भी बड़े बवाल की वजह बन सकती है।

रिपोर्टर- पारस जैन, बागपत

यूपी सरकार बताए कितने MoU धरातल पर उतरे, कितने युवाओं को रोजगार मिला: प्रियंका

Newstrack

Newstrack

Next Story