×

मणि मंजरी केस: न्याय के लिए ट्विटर पर छिड़ा अभियान

मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में तकरीबन डेढ़ माह बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से अब आम लोगों का आक्रोश गहराने लगा है ।

Newstrack
Published on: 23 Aug 2020 1:11 PM GMT
मणि मंजरी केस: न्याय के लिए ट्विटर पर छिड़ा अभियान
X
मणि मंजरी केस: न्याय के लिए ट्विटर पर छिड़ा अभियान
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

बलिया: मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में तकरीबन डेढ़ माह बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से अब आम लोगों का आक्रोश गहराने लगा है । मणि मंजरी को इंसाफ दिलाने के लिए आज सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर तीन घण्टे का अभियान चलाया गया । अभियान के दौरान आम लोगों ने इसको लेकर योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा ।

ये भी पढ़ें:कैसे बनी स्टॉर्मी डेनियल्स एक पोर्न स्टार, अमेरिका में राष्ट्रपति ट्रंप के साथ जुड़ रहा नाम

मणि मंजरी केस: न्याय के लिए ट्विटर पर छिड़ा अभियान

वाहन चालक चंदन वर्मा के अलावा कोई गिरफ्तार नहीं हुआ

मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत का मामला अब गरमाने लगा है । वाहन चालक चंदन वर्मा के अलावा इस मामले में फिलहाल कोई अन्य आरोपी गिरफ्तार नहीं हुआ है । इसको लेकर अब आम लोगों का धैर्य टूटने लगा है । इस मामले को लेकर आज सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर आज दोपहर 1 बजे से लेकर अपरान्ह चार बजे तक जस्टिस फॉर मणि मंजरी राय अभियान चलाया गया ।

ट्वीटर पर #JusticeForManiManjariRai से लोगों से जुड़ने की अपील की गई

ट्वीटर पर लोगों से हैशटैग #JusticeForManiManjariRai से जुड़ने और इसमें शामिल होने की अपील की गई । इस अभियान को ट्विटर पर जमकर समर्थन मिला तथा यह देश में आज छठवें नम्बर पर टॉप ट्रेंड में रहा । अभियान के दौरान आम लोगों ने मणि मंजरी राय की मौत को लेकर योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा । पुष्पम कुमार ने ट्वीट किया कि यह क्या हो रहा है मुख्यमंत्री जी । पी सी एस अधिकारी भी सुरक्षित नही है । आम आदमी की क्या स्थिति होगी ।

मणि मंजरी केस: न्याय के लिए ट्विटर पर छिड़ा अभियान

रवि रंजन शांडिल्य ने लिखा है कि मणि मंजरी भ्रष्ट तंत्र की भेंट चढ़ गई । शर्म है आप पर । विजय मिश्रा ने ट्वीट किया है कि बलिया जिले में भ्रष्टाचार सारी सीमाएं तोड़ चुका है । यह हर जगह देखा जा सकता है । कुमार गिरीश रंजन ने इस मामले की सी बी आई जांच की मांग की है । योगेश राय ने लिखा है कि आरोपी के भाजपा नेता होने के कारण कोई कार्रवाई नही हुई है । पुलिस आरोपियों को संरक्षण दे रही है ।

अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने 6 जुलाई को अपने आवास पर खुदकुशी कर ली थी

उल्लेखनीय है कि मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने गत 6 जुलाई की रात्रि जिला मुख्यालय स्थित अपने आवास पर खुदकुशी कर लिया था । इस मामले में मणि मंजरी के भाई विजया नन्द ने नगर पंचायत अध्यक्ष भीम गुप्ता, कम्प्यूटर लिपिक अखिलेश , टैक्स लिपिक विनोद सिंह व सिकंदरपुर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी संजय राय के विरुद्ध भारतीय दंड विधान की धारा 306 में नामजद मुकदमा दर्ज कराया था ।

ये भी पढ़ें:आलू से लाखों मौत: 10 लाख लोगों की ले चुका है जान, आज चुका रहें अपना फर्ज

मणि मंजरी केस: न्याय के लिए ट्विटर पर छिड़ा अभियान

आरोपी इलाहाबाद हाईकोर्ट की शरण में चले गए हैं

अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय की मौत के मामले में आरोपी नगर पंचायत अध्यक्ष भीम गुप्ता व सिकंदरपुर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी संजय राय इलाहाबाद हाईकोर्ट की शरण में चले गए हैं । भीम गुप्ता द्वारा सी आर पी सी के आर्टिकल 438 के तहत क्रिमिनल विविध एंटीसिपेटरी बेल एप्लिकेशन संख्या 4957 / 2020 दाखिल किया गया है । माननीय न्यायालय ने गत 21 अगस्त को याचिका की सुनवाई की । न्यायालय ने एप्लिकेशन संख्या 4579 / 2020 के साथ याचिका सम्बद्ध कर 27 अगस्त को सुनवाई की तिथि निर्धारित किया है ।

एप्लिकेशन संख्या 4579 / 2020 सिकंदरपुर नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी संजय राय ने दाखिल किया है । गत 21 अगस्त को राज्य सरकार के अधिवक्ता के अनुरोध पर सुनवाई नही हो पाई । राज्य सरकार के अधिवक्ता ने न्यायालय को अवगत कराया कि उन्हें विभाग की तरफ से इंस्ट्रक्शन नही प्राप्त हुआ है ।

अनूप कुमार हेमकर, बलिया

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story