पेट्रोल-डीजल से खिसकी हवा, तो कांग्रेस ने निकाली ये शानदार सवारी

लोकसभा चुनाव के बाद मृतप्राय हो चुकी और धारा 370 पर असमंजस में दिख रही कांग्रेस पार्टी एक बार फिर रंग में लौटती दिखाई दे रही है। मोदी सरकार ने उसे बैठे बिठाए एक बड़ा मुद्दा दे दिया है जिसे भुनाने में उसने देर नही लगाई और बाराबंकी में एक अनोखा प्रदर्शन कर डाला।

बाराबंकी: लोकसभा चुनाव के बाद मृतप्राय हो चुकी और धारा 370 पर असमंजस में दिख रही कांग्रेस पार्टी एक बार फिर रंग में लौटती दिखाई दे रही है। मोदी सरकार ने उसे बैठे बिठाए एक बड़ा मुद्दा दे दिया है जिसे भुनाने में उसने देर नही लगाई और बाराबंकी में एक अनोखा प्रदर्शन कर डाला।

ये भी देखें:भारत को खतरा: चोरी छिपे 4 ISI एजेंट ने की घुसपैट, जारी हाई अलर्ट

बाराबंकी की सड़कों पर चलती यह घोड़ा गाड़ी और बैलगाड़ी इस बात का परिचायक है कि अब केंद्र की नीतियों की वजह से भारत में अब कारें, ट्रक और बसें नहीं चलेंगी बल्कि अब 100 साल पहले की व्यवस्था को चलाने में भारत के नागरिकों को मजबूर होना पड़ेगा। कांग्रेस का यह अनोखा प्रदर्शन पेट्रोल और डीजल के दामों में बेतहाशा वृद्धि को लेकर है जिसमें किसान और नौजवान उसका साथ दे रहे हैं।

ये भी देखें:पुलिसकर्मियों को बड़ा तोहफा, सालों बाद मिली राहत

प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे कांग्रेस के दिग्गज नेता और राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉक्टर पी.एल.पुनिया के सुपुत्र और 2019 के लोकसभा प्रत्याशी रहे तनुज पुनिया ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार और प्रदेश की योगी सरकार ने डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ा कर सिर्फ किसानों की कमर नही तोड़ी है बल्कि इस देश की अर्थव्यवस्था की भी कर तोड़ने का काम किया है।

डीजल की बढ़ोत्तरी से किसान सबसे ज्यादा प्रभावित होगा और वह एक बार फिर आत्महत्या को मजबूर हो जाएगा। सिर्फ किसानों की बात करने से किसानों का भला नही होने वाला, उसका भला करने के लिए उसके लिए कुछ करना पड़ेगा। उनकी माँग है कि तत्काल इस बढ़ोतरी को वापस लिया जाए। अगर दाम वापस नही हुए तो वह सड़क जाम करेंगे और अनिश्चित कालीन धरना देंगे और किसानों की लड़ाई दाम वापसी तक लड़ते रहेंगे।