वाहन चालकों के लिए बड़ी खबर, लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस पर बड़ा फैसला

यूपी में लगे लॉकडाउन के कारण लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता 30 जून तक बढ़ाई गयी है। साथ ही लम्बित ड्राइविंग लाइसेंसों के निस्तारण के लिए एनआईसी द्वारा विकसित की गयी तकनीकी व्यवस्था को लागू कर दिया गया है।

Published by Ashiki Patel Published: June 5, 2020 | 9:31 pm
Modified: June 5, 2020 | 10:03 pm

श्रीधर अग्निहोत्री

लखनऊ: यूपी में लगे लॉकडाउन के कारण लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस की वैधता 30 जून तक बढ़ाई गयी है। साथ ही लम्बित ड्राइविंग लाइसेंसों के निस्तारण के लिए एनआईसी द्वारा विकसित की गयी तकनीकी व्यवस्था को लागू कर दिया गया है। इसके तहत पहले चरण में केवल स्थाई लाइसेंसों के लम्बित आवेदन पत्रों का निस्तारण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस व्यवस्था के तहत मुख्यालय स्तर से स्थाई लाइसेंस के लिए पूर्ववत निर्धारित कोटा को बहाल करते हुए स्थाई लाइसेंस सम्बन्धी सेवा के लम्बित आवेदन पत्रों के निस्तारण की सेवा प्रारम्भ कर दी गयी है।

ये भी पढ़ें: कोरोना महामारी पर बड़ी खुशखबरी, इस दवा कंपनी ने शुरू किया वैक्सीन का उत्पादन

प्रदेश के परिवहन आयुक्त, धीरज साहू ने बताया कि ऐसे लर्निंग लाइसेंस जिनकी वैधता एक फरवरी, से 30 जून, के बीच समाप्त हो रही है, को इस महीने के अंत तक बढ़ा दिया गया है। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में कोविड-19 से सुरक्षा के लिए सोशल/फिजिकल डिस्टेंसिंग के दृष्टिगत केवल स्थाई लाइसेंस सम्बंधी लम्बित आवेदन पत्रों के निस्तारण का कार्य प्रारम्भ किया गया है। ड्राइविंग लाइसेंस सम्बंधी अन्य सेवाओं को बाद में प्रारम्भ किया जायेगा।

ये भी पढ़ें: B’day special: पहले नहीं देखी होंगी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ये 10 तस्वीरें

परिवहन आयुक्त ने बताया कि जनपद स्तर पर लाइसेंसिंग प्राधिकारी द्वारा स्थाई लाइसेंस हेतु आवेदकों द्वारा पूर्व में बुक कराए गए एप्वाइंटमेंट को निरस्त किया जा रहा है। एप्वाइंटमेंट निरस्त होते ही आवेदक के मोबाइल पर एक मैसेज प्राप्त होगा कि कोविड-19 के दृष्टिगत उनके द्वारा ड्राइविंग लाइसेंस हेतु बुक एप्वाइंटमेंट निरस्त कर दिया गया है तथा वे नया एप्वाइंटमेंट प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि आवेदक द्वारा पूर्व में जमा की गई फीस मान्य होगी। मैसेज प्राप्त होने के बाद आवेदक द्वारा सारथी पोर्टल पर पूर्व एप्लीकेशन नम्बर से नया एप्वाइंटमेंट प्राप्त कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: भ्रष्टाचारः आने से लेकर अंतिम बेला तक सुर्खियों में रहे प्रो. राजाराम

साहू ने बताया कि आवेदक की सुविधा तथा कोविड-19 से सुरक्षा एवं एक साथ अधिक भीड़ के जमा होने से बचाव के लिए प्रतिदिन तीन टाइम स्लाट निर्धारित किए गए हैं। आवेदक सुविधानुसार तिथि एवं टाइम स्लाट का चयन कर सकते हैं। निर्धारित तिथि एवं टाइम पर कार्यालय में उपस्थित होकर प्रपत्रों की स्क्रूटनी, बायोमैट्रिक एवं ड्राइविंग लाइसेंस टेस्ट सम्बंधी प्रक्रिया को पूरा करेंगे।

ये भी पढ़ें: कोरोना करेंसीः इस खबर से मच गया कारोबारियों में हड़कंप, सच जानिये यहां