सेंट्रल बार एसोसिएशनः हम चेतते तभी हैं जब कानूनी शिकंजा कस जाता हैः संजीव पाण्डेय

आज अब यह आवश्यकता हो गयी है कि प्राइमरी शिक्षा से ही पर्यावरण के संरक्षण,नदियों की सफाई और बारिश के पानी का संरक्षण कैसे किया जाए बच्चो को बताया जाए और समाज को भी जागरूक किया जाए।

लखनऊः सेन्ट्रल बार एसोसिएशन लखनऊ मे विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर सेन्ट्रल बार एसोसिएशन लखनऊ के अध्यक्ष आदेश कुमार सिंह एडवोकेट,महासचिव संजीव पाण्डेय एडवोकेट एवं अन्य पदाधिकारियों द्दारा सेन्ट्रल बार एसोसिएशन के लॉन में वृक्षारोपण किया गया।

इस अवसर पर संजीव पाण्डेय एडवोकेट महासचिव द्वारा अपने विचार व्यक्त किये गए। उन्होंने कहा कि हिंदुस्तान में आम जनमानस तभी चेतता है जब क़ानूनी सिंकंजा कसा जाता है। पालीथीन का इस्तेमाल भी अब कानून बनाकर रोकने का प्रयास किया जा रहा है।  फिर भी चोरी चुपके वह बिक रही है तथा हम उसके इस्तेमाल के इतने आदि हो गए है कि खुद भी अपने आपको इसके इस्तेमाल से नहीं रोक पा रहे हैं।

आज भी हम धर्म के नाम पर नदियों में मूर्तियों को,फूल मालाओ को,हवन की राख को प्रवाहित करने से नही चूक रहे है और नदियाँ अपने बेबसी पर सिसक रही है।  आज अब यह आवश्यकता हो गयी है कि प्राइमरी शिक्षा से ही पर्यावरण के संरक्षण,नदियों की सफाई और बारिश के पानी का संरक्षण कैसे किया जाए बच्चो को बताया जाए और समाज को भी जागरूक किया जाए।

इसे भी पढ़ें कोरोना संकट: लोगों की मदद के लिए आगे आया सेंट्रल बार एसोसिएशन, की ये अपील

भवनों,विद्यालयों, विश्व विद्यालयों, अस्पतालों, होटल के नक़्शे को तभी पास किया जाये जब उस भवन के प्लान मे पानी संरक्षण का उपबंध हो। वृक्षारोपण के अवसर पर उपाध्यक्ष मध्य ध्रुव कुमार सिंह एडवोकेट, कनिष्ठ उपाध्यक्ष विकास श्रीवास्तव (वीकू) एडवोकेट, संयुक्त सचिव अनिल कुमार मिश्रा एडवोकेट, वरिष्ठ कार्यकारिणी सुशील कुमार शर्मा एडवोकेट मौजूद थे |

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App