जानिए केंद्र सरकार ने क्यों की बाराबंकी पुलिस की तारीफ? खुश SP ने बताई वजह

केंद्र सरकार ने बाराबंकी पुलिस की तारीफ की है। सरकार ने जिले की पुलिस की तारीफ एक खुलासे को लेकर किया है। सरकार की तरफ से देशभर में एक एडवाइजरी जारी कर बाराबंकी पुलिस की तरह काम करने की बात कही गई है।

SP Arvind Chaturvedi

SP Arvind Chaturvedi

बाराबंकी: केंद्र सरकार ने बाराबंकी पुलिस की तारीफ की है। सरकार ने जिले की पुलिस की तारीफ एक खुलासे को लेकर किया है। सरकार की तरफ से देशभर में एक एडवाइजरी जारी कर बाराबंकी पुलिस की तरह काम करने की बात कही गई है। भारत सरकार के इस कदम से बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक फूले नहीं समा रहे हैं। उन्होंने अपनी इस खुशी का इजहार मीडिया के के सामने किया है।

बाराबंकी जिले के थाना लोनी कटरा की पुलिस ने बीती 27 जुलाई को कछुए के मांस की तस्करी का भंडाफोड़ किया था। यह खुलासा सम्भवतः देश में पहली बार हुआ था और इसमें 120 किलो कछुए का मांस सहित 6 लोगों की गिरफ्तारी की गयी थी जो समाचारों की सुखियां बनी थीं।

शनिवार को भारत सरकार के पर्यावरण मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली संस्था वाइल्ड लाइफ क्राइम कन्ट्रोल ब्यूरो ने वन विभाग सहित पूरे देश में एक एडवाइजरी जारी करते हुए उसमें बाराबंकी की घटना का उल्लेख किया है।

SP with accused
आरोपियों के साथ प्रेस वार्ता करते पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अरविन्द चतुर्वेदी

यह भी पढ़ें…महिला उद्यमियों को बढ़ावा देना सरकार की प्राथमिकता: नितिन गडकरी

वाइल्ड लाइफ क्राइम कंट्रोल ब्यूरो की तारीफ और अपनी उपलब्धि से गदगद बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक डॉक्टर अरविन्द चतुर्वेदी ने मीडिया से बात की। उन्होंने कहा कि 27 जुलाई को लोनी कटरा थाने की पुलिस द्वारा जो कछुए के मांस की तस्करी किये जाने की घटना का खुलासा करते हुए 120 किलो मांस और 6 आरोपियों की गिरफ्तारी की थी।

Tortoise Meet
कछुए का मांस

यह भी पढ़ें…गडकरी ने PMO को भेजे गए लेटर में ऐसा क्या लिखा, दुकानों पर शुरू हो गई छापेमारी

इसके लिए शनिवार को पर्यावरण मंत्रालय भारत सरकार के आधीन आने वाली वाइल्ड लाइफ क्राइम कन्ट्रोल ब्यूरो ने देश भर में इस घटना का उल्लेख करते हुए इसे रोकने की एक एडवाइजरी जारी की है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि इससे इस तरह के अपराध पर अंकुश लग सकेगा। कछुए का मांस विदेशों में लोग पौष्टिक सूप बनाने में उपयोग करते हैं इसी कारण इसकी तस्करी होती है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App