Top

सीएम योगी का फरमान: स्कूली वाहनों की हो फिटनेस जांच, दिया इतना समय

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं एवं इनमें होने वाली जनहानि को रोकने के लिए अन्तर्विभागीय समन्वय के साथ कार्य योजना बनायी जाए।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 10 Oct 2020 5:20 AM GMT

सीएम योगी का फरमान: स्कूली वाहनों की हो फिटनेस जांच, दिया इतना समय
X
सीएम योगी का फरमान: स्कूली वाहनों की हो फिटनेस जांच, दिया इतना समय (social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि इस समय में सभी स्कूल बन्द चल रहे हैं। स्कूलों के खुलने से पहले अभियान चलाकर स्कूली वाहनों की फिटनेस की कार्यवाही पूरी कर ली जाए। उन्होंने कहा कि बसों की नियमित सर्विसिंग और ड्राइवरों का नियमित हेल्थ चेकअप किया जाना आवश्यक है। ड्राइवरों के हेल्थ चेकअप की भी व्यवस्था नियमित होनी चाहिए। उन्होंने परिवहन निगम द्वारा असेवित गांवों में बसों के संचालन की व्यवस्था के लिए तत्काल निर्णय लेकर कार्यवाही किए जाने को भी कहा है।

ये भी पढ़ें:दिलीप कुमार का ख़ास दिन: सायरा संग लिया फैसला, नहीं मनाएंगे जश्न, ये है वजह

सड़क दुर्घटनाओं एवं इनमें होने वाली जनहानि को रोकने के लिए अन्तर्विभागीय समन्वय के साथ कार्य योजना बनायी जाए

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं एवं इनमें होने वाली जनहानि को रोकने के लिए अन्तर्विभागीय समन्वय के साथ कार्य योजना बनायी जाए। परिवहन अथवा गृह विभाग इसका नोडल विभाग हो। सभी सम्बन्धित विभागों द्वारा संचालित की गई गतिविधियों की मुख्य सचिव के स्तर पर मासिक प्रगति समीक्षा की जाए। मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रत्येक छमाही उनके स्तर पर भी सड़क सुरक्षा सम्बन्धी कार्य योजना के निष्पादन की समीक्षा की जाएगी।

school school (social media)

ये भी पढ़ें:दिल्ली यूनिवर्सिटी की पहली कट ऑफ लिस्ट आज हो सकती है जारी

मुख्यमंत्री ने कहा कि ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (डीटीआई) की स्थापना पीपीपी मोड पर करायी जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि ट्रैफिक व्यवस्था के संचालन के लिए आवश्यक पुलिस कर्मियों के लिए अलग से व्यवस्था की जाए। इसके लिए भर्ती की कार्यवाही को तेजी से आगे बढाकर प्रवर्तन की कार्यवाही सद्भावपूर्ण होनी चाहिए। वाहनों के चालान के निस्तारण की त्वरित व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए। राज्य सरकार द्वारा विशेष सुरक्षा बल के गठन की कार्यवाही चल रही है। हाईवे पेट्रोलिंग में इस बल का उपयोग किया जाए।

श्रीधर अग्निहोत्री

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story