×

CM योगी के आदेश पर गांव-गांव पहुंचे अधिकारी, जानिए क्या है पूरा मामला

साल खत्म होने वाला है। इस दौरान कई आला अफसर छुट्टियां मानते हैं। लेकिन इस साल उत्तर प्रदेश के अफसर ऐसा नहीं कर पाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे की टॉप ब्यूरोक्रेसी को नोडल अफसर के रूप में किसानों का हाल चाल जानने के लिए इस कड़ाके की ठंड में सभी 75 जिलों में भेजा है।

Monika
Updated on: 29 Dec 2020 3:33 PM GMT
CM योगी के आदेश पर गांव-गांव पहुंचे अधिकारी, जानिए क्या है पूरा मामला
X
CM योगी के आदेश पर गांव-गांव पहुंचे अधिकारी, जानिए क्या कर रहे हैं काम
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

साल खत्म होने वाला है। इस दौरान कई आला अफसर छुट्टियां मानते हैं। लेकिन इस साल उत्तर प्रदेश के अफसर ऐसा नहीं कर पाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे की टॉप ब्यूरोक्रेसी को नोडल अफसर के रूप में किसानों का हाल चाल जानने के लिए इस कड़ाके की ठंड में सभी 75 जिलों में भेजा है।

अधिकारीयों की छुट्टी कैंसिल

ऐसा पहला मौका है जब टॉप ब्यूरोक्रेसी क्रिसमस और न्यू इयर के दौरान छुट्टियां मनाने के बजाए पिछले तीन दिनों से ग्रामीण इलाकों में धान एवं गन्ना क्रय केंद्र, गौशालाओं और कोविड केयर सेंटर की जांच पड़ताल करते दिखाई दिए।

बता दें, कि इस दौरे में अफसरों को कई चौंकाने वाले मामले भी सामने आए। ज़मीन से जुड़े कई मुद्दों पर एक्टिंग किया गया तो कहीं चेतावनी दी गई। इस दौरान अफसर किसाओं की दिक्कातों का पता लगाते दिखे।

ग्राउंड जीरो ये सभी अधिकारी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर 27 दिसंबर से किसानों का हाल जानने के लिए ग्राउंड जीरो पर घूम रहे टॉप ब्यूरोक्रेट आज से अपना ग्रामीण भ्रमण पूरा कर लखनऊ वापस लौटे। जिसके बाद उन्होंने इसी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपनी है। मन जा रहा हैं कि इस रिपोर्ट के ज़रिए सरकार किसानों के हितों में रणनीति तय करेगी। आइए जानते हैं कौन से अफसर किस जिले में रहे...

अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी

देवेश चतुर्वेदी वाराणसी के विकासखंड सेवापुरी में प्राकृतिक खेती के एक क्लस्टर व धान क्रय केंद्र का निरक्षण कर कृषकों को मिलने वाली सुविधाओं का जायजा लिया।

अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन

प्रतापगढ़ पहुंचे अपर मुख्य सचिव ने जिलाधिकारी के साथ मेला क्षेत्र का भ्रमण किया , साथ ही तैयारियों की समीक्षा की। जिसके बाद उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर कोविड-19 प्रोटोकाल को लेकर तैयारिओं की जानकारी ली।

योजनाओं से दिव्यांगों को लाभान्वित कराया

प्रमुख सचिव भुवनेश कुमार

कौशांबी का जायजा लेने पहुंचे प्रमुख सचिव भुवनेश कुमार के कलेक्ट्रेट परिसर में दिब्यांगजनों को ट्राईसाइकिल एवं कम्बल वितरण किये और अधिकारियों से कहा कि सरकार द्वारा संचालित योजनाओं से दिव्यांगों को लाभान्वित कराया जाये।

मुख्य सचिव आबकारी एवं गन्ना तथा चीनी उद्योग नोडसंजय भूसरेड्डी

गोरखपुर में कोरोना वैक्सीनेशन कोल्ड स्टोरेज सेंटर, के साथ साथ गो-आश्रय स्थल, धान क्रय केंद्र का निरीक्षण किया।

अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला

जनपद फर्रुखाबाद की मोहम्मदाबाद मंडी के धान क्रय केंद्र का निरीक्षण किया।

सचिव, चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग अपर्णा यू

रामपुर में विलासपुर मंडी में धान क्रय केंद्र का निरीक्षण किया। अधिकारीयों से धान खरीद की जानकारी ली।

कोविड-19 वैक्सीन कोल्ड चेन स्टोर का निरक्षण

आयुक्त खाद्य एवं सुरक्षा मिनिस्ती एस.

सीतापुर में गो-आश्रय केंद्रों एवं कोविड-19 वैक्सीन कोल्ड चेन स्टोर का निरीक्षण किया। अधिकारीयों को महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश देते हुए महिलाओं को कंबल भी बांटे।

सीईओ नोयडा रितु माहेश्वरी

बिजनौर में सीईओ नोयडा रितु माहेश्वरी ने गो-आश्रय स्थल, धान क्रय केंद्र एवं कोविड-19 वैक्सीन कोल्ड चेन की। वही अधिकारीयों के कई महत्वपूरण निर्देश दिए।

चंदौली के नोडल अधिकारी बनाये गए वाराणसी के कमिश्नर दीपक अग्रवाल और आईजी विजय सिंह मीणा सोमवार की सुबह चंदौली पहुंचे।जहां उन्होंने एक धान क्रय केंद्र का निरीक्षण किया और वहां पर मौजूद किसानों से अधिकारियों ने धान खरीद के संदर्भ में बातचीत की।

गौशाला निर्माण में खराब सामग्री

अपर मुख्य सचिव युवा कल्याण डिम्पल वर्मा

हरदोई में किसान से वार्ता कर धान क्रय केंद्रों का हाल जाना।

प्रमुख सचिव सांस्कृतिक एवं पर्यटन अधिकारी मुकेश कुमार मेश्राम

मऊ में गौशाला निर्माण में खराब सामग्री का इस्तेमाल पकड़ा। मामले में मुकेश मेश्राम ने विभाग के प्रोजेक्ट मैनेजर और ठेकेदार से रिकवरी का आदेश जारी कर दिया है।

विभागों की समीक्षा बैठक

अपर मुख्य सचिव राजन शुक्ला

देवरिया में अपर मुख्य सचिव राजन शुक्ला ने पीपरपाती में बने कान्हा गौशाला का निरीक्षण किया।

प्रमुख सचिव, ग्राम्य विकास विभाग एवं आयुक्त ग्राम्य विकास के. रविन्द्र नायक

आजमगढ़ में कलेक्ट्रेट सभागार में गन्ना, पशुपालन,कृषि,सिंचाई, लघु सिंचाई, धान क्रय केन्द्र, विद्युत आदि विभागों की समीक्षा बैठक की।

ये भी पढ़ें:बाबा रामदेव ने कहा- लोकल फॉर वोकल की आवाज बुलंद करेंगे

इन सभी अधिकारीयों ने भी गांव में की समीक्षा

प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन जितेंद्र कुमार शाहजहांपुर के विकास भवन सभागार में विकास कार्यो एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा की। गन्ना क्रय केंद्र एवं निर्माधीन ऑटोमेटिक ट्रांसफर स्टेशन तथा तहसील सदर के निरीक्षण दौरान सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन दीपक कुमार ने एटा में तो मुरादाबाद में नोडल अधिकारी, अपर मुख्य सचिव मनोज सिंह ने उमरी कला स्थित कान्हा गौशाला का निरीक्षण किया, साथ ही गन्ना एवं धान क्रय केंद्र का निरीक्षण कर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। वही बलिया जिले में नोडल अधिकारी अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल में बहेड़ी में धान खरीद सेंटर का निरीक्षण किया। अस्पताल के निरीक्षण किया, जिसमें जो भी खामियां मिलीं, उन्हें तुरंत सुधारने के निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें:मुख्यमंत्री आवास योजना: लाभार्थियों के खाते में 87 करोड़, Yogi ने किया हस्ताक्षर

Monika

Monika

Next Story