कोरोना संकट: जमात के लोगों पर चौंकाने वाला खुलासा, जानकर रह जाएंगे दंग

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पर हुई प्रेस कांफ्रेंस में राज्य के स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी दी कि कोरोना वायरस के मामले राज्य में बढ़कर 410 तक पहुंच गए हैं, जिसमें से 221 मरीज तबलीगी जमात से जुड़े हैं।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस पर हुई प्रेस कांफ्रेंस में राज्य के स्वास्थ्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने जानकारी दी कि कोरोना वायरस के मामले राज्य में बढ़कर 410 तक पहुंच गए हैं, जिसमें से 221 मरीज तबलीगी जमात से जुड़े हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह अपील की कि तबलीगी जमात के लोग खुद सामने आएं।

स्वास्थ्य सचिव ने बताया है कि प्रदेश में कोरोना की चपेट में आने से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि 31 अन्य ठीक हो गए या फिर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके अलावा उन्होंने कहा कि प्रदेश में आइसोलेशन बेड की संख्या 9,442 है। अब तक यूपी में 7451 सैंपल टेस्ट हुए हैं जिसमें से 6953 सैंपल निगेटिव पाए गए हैं।

यह भी पढ़ें…शाही परिवार पर कोरोना का कहर, किंग और क्रॉउन प्रिंस समेत 150 सदस्य संक्रमित

फेक न्यूज से जुड़े 78 मामले सामने आए

प्रेस कांफ्रेंस में प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश अवस्थी ने कहा कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का उल्लंघन करने की वजह से आईपीसी की धारा 188 के तहत 39,857 लोगों के खिलाफ 12,236 एफआईआर दर्ज की गई हैं। उन्होंने ने यह भी बताया कि कोरोना वायरस से जु़ड़ी फेक न्यूज फैलाने के संबंध में 78 केस दर्ज किए गए हैं।

अपर मुख्य सचिव (गृह) ने कहा कि गृह विभाग ने जिला प्रशासनों को यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि कोविड-19 हॉटस्पॉट क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं के डोर-टू-डोर वितरण और सैनिटाइजेशन से संबंधित मूवमेंट के अलावा किसी भी तरह की आवाजाही की अनुमति नहीं है।

यह भी पढ़ें…भारत में भी इस देश की तरह फैल रहा कोरोना, लेकिन यहां के लोगों को बचा रहा ये टीका

आरोग्य सेतु ऐप सभी लोग डाउनलोड करें

अवनीश अवस्थी ने बताया कि हॉटस्पॉट इलाके का कोई भी व्यक्ति बाहर न निकले, हॉटस्पॉट में जितनी जल्दी चीजें सही होंगी उतनी जल्दी लोड कम होगा। हर व्यक्ति मास्क लगाए। भारत सरकार ने जो आरोग्य सेतु ऐप लांच किया है वो सभी लोग डाउनलोड करें। अवनीश अवस्थी ने जानकारी देते हुए कहा कि राज्य में कानून-व्यवस्था को इंप्लीमेंट करने की मुख्यमंत्री ने समीक्षा की है।

उन्होंने बताया कि यूपी में 1 करोड़ से अधिक वाहन चेक हुए हैं। अवनीश अवस्थी ने बताया कि राज्य में 1966 कम्युनिटी किचन हैं। 3,50,75,000 कार्ड धारकों को राशन वितरित किया गया है मुख्यमंत्री हेल्पलाइन से भी लोगों की मदद की जा रही है।

यह भी पढ़ें…कोविड-19: सनराइजर्स हेदराबाद ने 10 करोड़ रूपये का योगदान दिया

हॉटस्पॉट इलाकों की समीक्षा

चिन्हित हॉटस्पॉट के बारे में बताते हुए अअवनीश अवस्थी ने कहा कि गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हॉटस्पॉट क्षेत्रों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि हॉटस्पॉट के कुल मकानों की पूरी डिटेल और उस हॉटस्पॉट की जनसंख्या, वहां पर फायर टेंडर और सैनिटाइजेशन से कार्रवाई की गई की नहीं। उस हॉटस्पॉट में कितने कोरोना पॉजिटिव केस हैं, कितने संदिग्ध हैं और कितने लोग क्वारनटीन में लिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इसके साथ वहां बैरिकेडिंग की व्यवस्था, गेट्स लगाने की व्यवस्था हो गई है कि नहीं। हॉटस्पॉट के क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति हो रही है कि नहीं, इन सभी बातों की डिटेल रहे।