×

कोरोना का कहर: जिले में SI समेत इतने हुए संक्रमित, 2 की मौत

उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बुधवार को एक पुलिस एसआई समेत 89 मरीज मिले।

Newstrack
Published on: 27 Aug 2020 3:21 AM GMT
कोरोना का कहर: जिले में SI समेत इतने हुए संक्रमित, 2 की मौत
X
मेरठ में कोरोना का कहर जारी
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मेरठ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जनपद में कोरोना के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बुधवार को एक पुलिस एसआई समेत 89 मरीज मिले। सीएमओ डॉ राजकुमार ने बताया कि बुधवार को 3362 मरीजों का सैंपल जांचा गया। 90 सैंपलों की रिपोर्ट लंबित है। 52 मरीजों को डिस्चार्ज कर दिया गया। अब तक 2743 मरीज ठीक होकर घर पहुंच चुके हैं। 663 एक्टिव मरीज हैं। 109 कोरोना मरीज होम आइसोलेशन में हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमें इन मरीजों की जांच पड़ताल कर रही हैं। नए मरीजों में 74 साल से लेकर चार साल की बच्चे समेत 34 महिलाएं भी शामिल हैं।

ये भी पढ़ें: BJP ने की कड़ी कार्रवाई, 38 पार्षदों को दिखाया बाहर का रास्ता, ये है बड़ी वजह

सीएमओ डॉ. राजकुमार के अनुसार आज शोभापुर रोहटा रोड निवासी 32 वर्षीय महिला और ग्रीन स्टेट ए टू जेड कालोनी निवासी 68 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। दोंनो कोरोना के मरीज थे। नये मरीज दौराला, शास्त्रीनगर, सकौती टांडा, गुरुनानक नगर, देव नगर मोदीपुरम, लालकुर्ती, शिवशक्ति नगर परीक्षितगढ़, नेहरु नगर, पांडव नगर, मोहल्ला हीरा लाल मवाना आदि इलाकों में मिले हैं।

संक्रमण को रोकने के सभी उपाय अब तक फेल

जिले में कोरोना संक्रमण की बढती रफ्तार को रोकने के सभी उपाय अब तक फेल साबित हुए हैं। लाख कोशिशों के बावजूद भी संक्रमण पर रोक नहीं लग पा रही है। संक्रमण रोकने और कोरोना मरीजों को दी जा व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए कई नोडल अधिकारी भी बदले जा चुके हैं। लेकिन इसके बाद भी कोई फर्क नहीं पड़ा। अब जिले में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने पोलियो अभियान की तर्ज पर अभियान चलाने का फैसला किया है। इसके लिए एक माइक्रो प्लान तैयार किया गया है। इस प्लान के तहत कंटेनमेंट जोन में शामिल एक-एक मरीजों की जांच का फैसला लिया गया है। इसके लिए तीन सदस्यीय पांच टीमें लगाई जाएंगी। जांच के बाद उनका पूरा ब्योरा तैयार किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: योगी सरकार का बड़ा एलान, बुंदेलखंडवासियों को मिलेगा रोजगार

इस अभियान में पोलियो की टीमें भी लगाई जाएंगी। इनके अलावा आशा, आंगनबाड़ी व एएनएम का भी सहयोग लिया जाएगा। इसके लिए हर सेक्टर में सुपरवाइजर तैनात किए जाएंगे। सीएमओ डॉ. राजकुमार ने बताया कि इससे कोरोना की रोकथाम में इससे काफी हद तक मदद मिलेगी। इस पर काम शुरू करने के निर्देश दिए जा चुके हैं। जिला सर्विलांस अधिकारी डा0 विश्वास चौधरी ने बताया किया पूरे अभियान की प्रतिदिन मानिटरिंग कर समीक्षा की जाएगी।

सुशील कुमार,मेरठ

ये भी पढ़ें: शिवसेना को तगड़ा झटका, सांसद का पार्टी से इस्तीफा, उद्धव ठाकरे पर कही ऐसी बात

Newstrack

Newstrack

Next Story