×

काशी वासियों के इस कदम से जिला प्रशासन के छूटे पसीने, फिर हुआ ये...

दवा लेने के लिए सुबह 10 बजे से ही दुकानों के बाहर लाइन लग गई थी। लंका, कबीरचौरा, मैदागिन सहित प्रमुख बाजारों में अफ़रातफ़री का माहौल देखने को मिल रहा था। दुकान खुलते ही दवा लेने के लिए लोग टूट पड़ी।

Shivani Awasthi
Published on: 1 May 2020 3:07 PM GMT
काशी वासियों के इस कदम से जिला प्रशासन के छूटे पसीने, फिर हुआ ये...
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

वाराणसी। सम्पूर्ण लॉकडाउन के मद्देनजर जिला प्रशासन की ओर खेला गया दांव उल्टा पड़ने लगा है। दवा की दुकानों को सुबह 11 बजे से 12बजे तक खोलने का निर्णय लिया गया था। लेकिन जैसे ही दुकानें खुली, लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। सोशल डिस्टेंसिंग की तो छोड़िए नौबत धक्का-मुक्की तक पहुंच गई। शहर के अलग-अलग हिस्सों से आ रही तस्वीरों के बाद जिला प्रशासन के पसीने छूटने लगे। आखिरकार जिला प्रशासन को अपने फैसले में बदलाव करना पड़ा।

दुकानों पर उड़ी सोशल डिस्टनसिंगन की धज्जियां

दवा लेने के लिए सुबह 10 बजे से ही दुकानों के बाहर लाइन लग गई थी। लंका, कबीरचौरा, मैदागिन सहित प्रमुख बाजारों में अफ़रातफ़री का माहौल देखने को मिल रहा था। दुकान खुलते ही दवा लेने के लिए लोग टूट पड़ी।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2020/05/WhatsApp-Video-2020-05-01-at-8.31.40-PM.mp4"][/video]

सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गई। पुलिसवाले जूझते नजर आए। दुकानों पर उमड़ी भीड़ के बाद जिला प्रशासन ने अपने फैसले में बदलाव किया। दवा की दुकानों के खुलने का समय दोपहर 3 बजे तक बढ़ा दिया गया। इस दौरान पुलिसवाले माइक लेकर जिला प्रशासन के निर्देश को लोगों तक पहुंचाते रहे।

ये भी पढ़ेंः कोरोना योद्धाओं के लिए जमीन-आसमान एक कर देंगी सेनाएं, 3 मई को करेंगी ये काम

डीएम ने दिलाया भरोसा

डीएम कौशलराज शर्मा ने भरोसा दिलाया है कि जनता की सहूलियत का पूरा ख्याल रखा जाएगा। अगर फैसलों में बदलाव करने की जरूरत पड़ी तो उसे किया जाएगा।

[video width="640" height="352" mp4="https://newstrack.com/wp-content/uploads/2020/05/WhatsApp-Video-2020-05-01-at-8.31.39-PM.mp4"][/video]

ये भी पढ़ेंः कामगारों एवं श्रमिकों की वापसी के लिए योगी सरकार ने उठाये प्रभावी कदम

बता दें कि वाराणसी में कोरोना संक्रमण के मामले अब 61 तक पहुंच गए हैं। पिछले तीन दिनों के दौरान कोरोना के 24 मामले सामने आ चुके है। जिला प्रशासन किसी भी कीमत पर कोरोना की चेन को तोड़ना चाहती है, लेकिन उसके सामने लोगों की रोजमर्रा की परेशानी आ रही है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story