कोरोना से बचने की बड़ी तैयारी, देशभर से आ रहे श्रमिकों के लिए हो रहा ये काम

डीएम ने निर्देश दिए कि प्रत्येक बाहर से आने वाले व्यक्ति के घर पर स्वास्थ्य कर्मी द्वारा कोविड-19 के दृष्टिगत होम क्वारण्टाइन के लिए श्रमिक के आने की तिथि एवं उससे 21 दिन बाद की तिथि अंकित करें।

अयोध्याः उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले के जिलाधिकारी अनुजा कुमार झा ने बताया कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत जनपद में बाहर से आने वाले व्यक्तियों की निगरानी हेतु ग्राम/मोहल्ला निगरानी समितियों का गठन किया जा चुका है तथा जिला पंचायत राज अधिकारी एवं जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी को प्रतिदिन आख्या संकलित करने का उत्तरदायित्व सौंपा गया है।

इसके अतिरिक्त कोरोना कन्ट्रोल रूम से संकलित की गयी तीन प्रकार की सूचियों पर फॉलोअप कार्य करने हेतु प्रशान्त नागर, आई.ए.एस. (प्रशिक्षु) तथा डा0 एम0 ए0 खान, जिला मलेरिया अधिकारी को नामित किया गया है जिनके द्वारा उचित लक्षण वाले व्यक्तियों का त्वरित ढंग से कोरोना टेस्ट कराने का कार्य किया जा रहा है।

डीएम का निर्देश – कोरोना का रजिस्टर बनाएं

तत्क्रम में जिलाधिकारी ने विकास खण्ड स्तर से सहायक विकास अधिकारी (पंचायत), बाल विकास परियोजना अधिकारी, खण्ड प्रेरक एस0बी0एम0 (ग्रामीण) एवं बी0सी0पी0एम0 को आदेशित किया है कि वे प्रत्येक दिन एक साथ बैठक कर सभी ग्राम प्रधानों, स्वास्थ्य कर्मियों, आंगनबाडी, कार्यकत्रियों आदि से फोन पर वार्ता कर कोरोना लक्षण वाले व्यक्तियों की सूची, बाहर से सीधे आने वाले यात्रियों की सूची तथा होम क्यारंटाईन का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों की सूची सूचियां एकत्रित करें एवं प्रत्येक ग्राम पंचायत के लिए अलग रजिस्टर बनाकर अलग-अलग पन्नों पर यह तीन सूचियां प्रतिदिन अद्यतन करें एवं उनकी फोटो खीच कर व्हाट्स ऐप आदि के माध्यमों से विकास खण्ड की टीम को उपलब्ध करायें।

एक्सेल सीट में कोरोना सूची की फीडिंग

इसी के साथ विकास खण्ड स्तर पर प्रतिदिन एक्सेल सीट में इस सूची को फीड करते हुए अद्यतनीकृत किया जाय एवं जनपद स्तरीय टीम को प्रदान किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि विकास खण्ड स्तरीय टीम द्वारा ग्राम निगरानी समिति से वार्तालाप में यह सुनिश्चित किया जायें कि उसके पास पर्याप्त संख्या में होम क्वारंटाईन से सम्बन्धित पर्चा उपलब्ध हो।

ये भी पढ़ेंः सबसे बड़े चेज मास्टर हैं कप्तान कोहली, ICC का रिकॉर्ड देख हो जाएंगे दंग

ग्रामवासियों के मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कराएं

प्रत्येक बाहर से आने वाले व्यक्ति के घर पर स्वास्थ्य कर्मी द्वारा कोविड-19 के दृष्टिगत होम क्वारण्टाइन के लिए श्रमिक के आने की तिथि एवं उससे 21 दिन बाद की तिथि अंकित करें। अन्य विवरण भी भरते हुए चस्पा किया जाय। इसी के साथ ग्राम निगरानी समिति द्वारा सभी ग्रामवासियों के मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड कराया जाना भी सुनिश्चित किया जाय, विशेषकर बाहर से आने वाले व्यक्तियों के मोबाइल फोन (स्मार्ट फोन) पर यह ऐप डाउनलोड कराना अनिवार्य होगा।

होम क्वॉरेंटाइन में रहने का पोस्टर/फ्लेयर लगाएं

जिलाधिकारी ने जनपद के सभी उप जिलाधिकारियों, खंड विकास अधिकारियों व नगर निकाय के अधिशासी अधिकारियों को बाहर से आने वाले सभी प्रवासी श्रमिकों के घरों के बाहर श्रमिक के जनपद में आने के दिन से 21 दिनों तक होम क्वॉरेंटाइन में रहने का पोस्टर/फ्लेयर लगाने के कार्य को आज ही पूर्ण करने के दिए निर्देश। उन्होंने कहा कि पोस्टर में श्रमिक के होम क्वारण्टाइन में रहने की अवधि उसके घर आने से 21 दिन अवश्य अंकित हो। साथ-साथ उसका नाम, पता, मोबाइल नंबर व परिवार में सदस्यों की संख्या भी अंकित की जाए!

रिपोर्टर- नाथ बख्श सिंह

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।