×

दु:खद घटना: इस जिले में चारे-पानी की कमी के कारण गौशाला में मर रही हैं गोवंश

इटावा जनपद के बसरेहर ब्लाक के परौली रमायन में करोड़ों रूपये की लागत से 31 गौशालायें की सबसे बड़ी गौशाला बनवाई गई। इन गौशालाओ में सडको पर आवारा घूम रहे गौवंशो को लाकर रखा गया था इटावा के  यह गौशाला 120 बीघा में फैली है इस गौशाला में 1500 से अधिक गौवंशो को लाकर रखा गया था।

SK Gautam

SK GautamBy SK Gautam

Published on 17 July 2019 3:30 PM GMT

दु:खद घटना:  इस जिले में चारे-पानी की कमी के कारण गौशाला में मर रही हैं गोवंश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

इटावा: मुख्यमंत्री की सबसे बड़ी योजना गौशाला योजना, इटावा जिले में आवारा जानवरो के लिए बन रही कब्रगाह ज़िले की सबसे बड़ी गौशाला में रोज़ जानवरो की मौत हो रही। कल भारी बारिश के चलते गौशाला में भरे पानी और कीचड़ में फंसे एक दर्जन से भी ज़्यादा भूखे के कारण जान चली गयी है । गौशाला में अभी भी जानवरो के शव पड़े है।

इटावा जनपद के बसरेहर ब्लाक के परौली रमायन में करोड़ों रूपये की लागत से 31 गौशालायें की सबसे बड़ी गौशाला बनवाई गई। इन गौशालाओ में सडको पर आवारा घूम रहे गौवंशो को लाकर रखा गया था इटावा के यह गौशाला 120 बीघा में फैली है इस गौशाला में 1500 से अधिक गौवंशो को लाकर रखा गया था।

ये भी देखें : कुलभूषण केस में भारत की बड़ी जीत, पाक की किरकिरी, पढ़ें ICJ का पूरा फैसला

गौशाला में चारा न मिलने और धुप में खड़े रहने की वजह से आये दिन गौवंश मर रहे है

लेकिन जिम्मेदार अधिकारियो और गौशाला में तैनात स्टाफ की लापरवाही के चलते इस गौशाला में गौवंशो की अब तक सैकड़ों गौवंशो की मौत हो चुकी है। इस गौशाला में चारा न मिलने और धुप में खड़े रहने की वजह से आये दिन गौवंश मर रहे है। गौवंशो के मरने के बाद स्थानीय प्रशासन अपनी करतूत छुपाने के लिए गौवंशो के शव को जेसीबी मशीन से खुदाई करके गौशाला के अंदर ही दफना दिया जाता है।

आज डीएम सीडीओ और पशुपालन अधिकारी के साथ गौशाला का निरिक्षण कारने पहुंचे जहाँ पर गौशाला की बदहाली की तस्वीर देखकर डीएम साहब का चेहरा उतर गया डीएम साहब के सामने ही आधा दर्जन से अधिक गौवंश मृत अवस्था में पड़े हुए थे और और पूरी गौशाला में जलभराव चरम पर दिखाई दे रहा था।

ये भी देखें : ऐसा क्या हुआ, एसपी को पुलिस से कहना पड़ा- बेगुनाह लोगों पर रौब ना दिखाए

गौवंशों के शव को जमीन में बिना पोस्टमार्टम करवाए दफ़नाये गए

सभी लापरवाह अधिकारियो की नाकामी पर पर्दा डालते हुए डीएम जे.बी. सिंह ने मरने वाले गौव्न्शो की मौत को स्वभाविक बताया डीएम साहब ने कहा कि अभी तक जिन गौवंशो की मौत हुई है वह स्वभाविक है। गौवंशों के शव को जमीन में बिना पीएम करवाए दफ़नाने के मामले में डीएम साहब ने कहा कि इस मामले की जाँच करवाई जा रही है। इस गौशाला में कल नौ गोवंसों की मौत हुई थी ।

SK Gautam

SK Gautam

Next Story