सिर चढ़कर बोला नशा: भाइयों में हुआ विवाद, शादी का कार्ड देने आये रिश्तेदार की मौत

पुलिस ने सभी घायलों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया तथा घटना के आरोपी राम सिंह उनके पुत्र भूपेंद्र गिरीश पीर का अवधेश तथा पत्नी रामसखी को तलाश किया।

Published by Aradhya Tripathi Published: June 14, 2020 | 8:11 pm

एटा:  जनपद के थाना मलावन क्षेत्र के ग्राम दलपुर में आज प्रातः 2 दिन पूर्व लगाई दीवार को लेकर व सुबह सुबह शराब पीकर गाली देने के विवाद में चली लाठी-डंडों व चाकूबाजी में जितेंद्र के घर अपने पुत्र राजा की शादी का कार्ड देने आए 50 वर्षीय विजेंद्र की बीच-बचाव करते समय हुए हमले में मौत हो गई। घटना की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने जिला चिकित्सालय जाकर घायलों से बातचीत की तथा कार्रवाई का आश्वासन दिया।

कार्ड देने आये व्यक्ति की आपसी झगडे में मौत

प्रभारी निरीक्षक मलावन ने बताया कि आज प्रातः जितेंद्र के घर मलावन निवासी 50 वर्षीय विजेंद्र पुत्र फूलसिंह अपने पुत्र राजा की शादी का कार्ड देने आए थे। जिसकी बारात दो दिन पूर्व जानी थी। जैसे ही वह जितेंद्र के घर पर पहुंचे जितेंद्र तथा उसके ताऊ राम सिंह में आपस में दीवार लगाकर रास्ता बंद कर देने व शराब पीकर गाली देने को लेकर विवाद हो रहा था। जिसे विजेंद्र ने समझौता कराने का प्रयास किया।

ये भी पढ़ें- Sushant Singh की मौत का बड़ा खुलासा: पुलिस ने दी ये जानकारी…

किंतु राम सिंह तथा उसके पुत्रों द्वारा उनकी नहीं सुनी और रामसिंह व जितेंद्र तथा उसके परिजनों पर लाठी-डंडों व चाकू से हमला कर दिया। जिसमें 50 वर्षीय विजेंद्र की घटनास्थल पर ही मौत हो गई तथा जितेंद्र पुत्र घमंडी लाल व उसकी मां कृष्णा देवी वहन पिंकी प्रिया गंभीर रूप से घायल हो गई। जिन्हें जिला चिकित्सालय एटा में गभीर हालत में भर्ती कराया गया है।

गाली देने से मना करने पर हुआ विवाद

जिला चिकित्सालय में भर्ती जितेंद्र ने बताया कि आज प्रातः वीरपाल शराब पीकर मेरी मां बहनों को गंदी गंदी गाली दे रहा थ। जिसको गाली देने से मना किया वह नहीं माना इसी बीच हमारे मलावन निवासी भाई 50 वर्षीय विजेंदर अपने पुत्र राजा की शादी का कार्ड देने मेरे घर आये थे।
वह आ गए। उन्होंने जब राम सिंह से गाली देने की मना किया तो वह बौखला गया और उसने अपने परिजनों के साथ मिलकर लाठी-डंडों व चाकू से हमला कर दिया।

ये भी पढ़ें-  कर्ज में डूबी ये एयरलाइंस: संपत्ति बेचने को मजबूर, NCLT ने दी मंजूरी

जिसमें हमारा पूरा परिवार घायल हो गया तथा विजेंद्र की मौत हो गई। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया तथा घटना के आरोपी राम सिंह उनके पुत्र भूपेंद्र गिरीश पीर का अवधेश तथा पत्नी रामसखी को तलाश किया। तब तक वह सभी घर छोड़कर फरार हो गए। पुलिस ने घटना की रिपोर्ट राम सिंह सहित 6 लोगों के विरुद्ध नाम दर्ज हत्या व हत्या के प्रयास की दर्ज कराई गई है। पुलिस मृतक के पंचनामा भर पोस्टमार्टम हेतु भेजा है।

रिपोर्ट- सुनील मिश्रा 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App