फिर पलटी यूपी पुलिस की गाड़ी, इस खतरनाक गैंगस्टर की रास्ते में ही दर्दनाक मौत

दरअसल मुंबई से एक गैंगस्टर को गिरफ्तार कर लखनऊ ले जा रही यूपी पुलिस की निजी गाड़ी मप्र के गुना जिले में पाखरिया पुरा टोल के पास रविवार सुबह पलट गई।

Road Accident

रोड एक्सीडेंट की फोटो(सोशल मीडिया)

लखनऊ: कानपुर के दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को मध्य प्रदेश के उज्जैन से यूपी पुलिस की गाड़ी में बिठाकर  उत्तर प्रदेश लाया जा रहा था। तभी रास्ते में यूपी पुलिस की गाड़ी पलट गई और फिर भागने पर पुलिस द्वारा विकास दुबे का एनकाउंटर कर दिया गया।

अभी लोग पूरी तरह से ये प्रकरण भूल भी नहीं पाए थे कि एक बार से यूपी पुलिस की गाड़ी पलटने का मामला सामने आया है, जिसमें एक गैंगस्टर की मौत भी हो गई है।

क्या है ये पूरा मामला

दरअसल मुंबई से एक गैंगस्टर को गिरफ्तार कर लखनऊ ले जा रही यूपी पुलिस की निजी गाड़ी मप्र के गुना जिले में पाखरिया पुरा टोल के पास रविवार सुबह पलट गई। आरोपित फिरोज अली की इस एक्सीडेंट में मौके पर मौत हो गई, जबकि एक सब इंस्पेक्टर व सिपाही समेत चार लोग बुरी तरह से जख्मी गए। घायलों को ब्यावरा अस्पताल में एडमिट कराया गया है।

सब इंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद ने गुना के पुलिस अधिकारियों को बताया कि सड़क पर अचानक गाय सामने आ गई थी। उसे बचाने में वाहन पलट गया। यह भी आशंका जताई जा रही है कि चालक को झपकी आने के कारण हादसा हुआ है।

ठीक ऐसे ही 10 पुलिसकर्मियों की हत्याह का आरोपी विकास दुबे को उज्जैझन से लाते समय कानपुर से पहले यूपी पुलिस की गाड़ी पलट गई थी। बाद में घटनास्थ ल से भागते समय विकास दुबे का पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया था। इसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। इस घटना ने विकास दुबे कांड की यादें एक बार फिर से ताजा कर दी।

Accident
एक्सीडेंट की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ेंः केजरीवाल को टक्कर देने वाली नूपुर शर्मा ने लंदन से की है कानून की पढ़ाई

लखनऊ में दर्ज था केस

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार 58 वर्षीय फिरोज उर्फ शमी बहराइच जिले के थाना कोतवाली के दरगाह शरीफ घंटाघर का निवासी था।

लखनऊ के ठाकुरगंज थाने में वर्ष 2014 में उसके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत केस दर्ज हुआ था। उसी के बाद से वह भागा-भागा फिर रहा था।

उसे गिरफ्तार करने के लिए सब इंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद पाण्डेय, कांस्टेबल संजीव सिंह और आरोपित के साढ़ू भाई अफजल पुत्र मुन्ना खान निवासी लखनऊ के साथ मुंबई गए थे।

बताया जा रहा है कि फिरोज मुंबई के नाला सोपारा इलाके की झुग्गी बस्ती में छिपकर रह रहा था। मुंबई से उसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस टीम शनिवार को लखनऊ के लिए चली थी।

रविवार सुबह साढ़े छह बजे एक्सीडेंट हो गया। हादसे में फिरोज की डेथ हो गई। अफजल खान का हाथ फ्रैक्चर हुआ है। पुलिसकर्मी संजीव, जगदीश प्रसाद व वाहन चालक सुलभ मिश्रा जख्मी हो गये हैं।

Up Police
यूपी पुलिस की फोटो(सोशल मीडिया)

ये भी पढ़ेंः अटल जी की सेवा से राजनीति का मेवा खा पाये जसवंत सिंह

दो पुलिसकर्मियों सहित चार लोग घायल

गुना के पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सिंह के मुताबिक वाहन पलटने से उसमें सवार गैंगेस्टर की डेथ हो गई है। पुलिसकर्मियों समेत अन्य लोग जख्मी हो गये हैं। मामले की न्यायिक जांच के लिए जिला एवं सत्र न्यायाधीश से कहा गया है।

ये भी पढ़ेंः कर्नाटक में भी NRC: मोदी विरोधी को भारत विरोधी बताने वाले तेजस्‍वी सूर्या की मांग

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App