×

गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ दर्ज हुईं दो FIR, जल्द शुरू होगी पूछताछ

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 4 Aug 2019 9:25 AM GMT

गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ दर्ज हुईं दो FIR, जल्द शुरू होगी पूछताछ
X
गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ दर्ज हुईं दो FIR, जल्द शुरू होगी पूछताछ
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति और पांच आईएएस समेत 16 लोगों के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने अवैध खनन मामले में मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत दो मामले दर्ज कर लिए हैं। बता दें, 29 जून को प्रजापति के खिलाफ दो एफआईआर दर्ज की थी। इसी के आधार पर प्रवर्तन निदेशालय ने भी एफआईआर दर्ज कर ली है।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी: कश्मीर में हलचल तेज, अमित शाह और डोभाल ने अचानक बुलाई बैठक

अवैध तरीके से खनन पट्टों के आवंटन के मामले में पहली एफआईआर दर्ज की गयी है। यह फतेहपुर से संबंधित है। इस एफआईआर में प्रमुख सचिव खनन जीवेश नंदन, तत्कालीन खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति, तत्कालीन फतेहपुर के जिलाधिकारी अभय, तत्कालीन अनु सचिव हरि मोहन झा, तत्कालीन खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति और सुखराज को नामजद किया गया है।

यह भी पढ़ें: ISRO ने जारी की चंद्रयान-2 द्वारा भेजी गईं पृथ्वी की बेहद खूबसूरत तस्वीरें

बता दें, अवैध खनन घोटाला सपा सरकार के कार्यकाल में हुआ था। तत्कालीन अखिलेश यादव सरकार ने ई टेंडर नीति लागू होने के बाद उसका पालन न करते हुए बालू खनन के पट्टे का नवीनीकरण कर दिया था। तब तमाम वरिष्ठ अधिकारियों के साथ मिलकर पट्टाधारक शिव सिंह ने अपनी समाप्त हो चुकी लीज को तीन वर्ष के लिए आवंटित करा लिया था।

यह भी पढ़ें: तनावपूर्ण माहौल के बीच जम्मू-कश्मीर का दौरा करेंगे अमित शाह, ये है मंशा

दूसरा मामला देवरिया से जुड़ा हुआ है। यहां पर भी पट्टाधारक फूल बदन सिंह ने तीन वर्ष के लिए 28 एकड़ जमीन के पट्टे का नवीनीकरण करवा लिया था, जिसको भी तत्कालीन खनन मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति की स्वीकृति मिली थी। जल्द ही प्रवर्तन निदेशालय अब दोनों मामलों अपनी पूछताछ शुरू करेगा।

Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story