स्कूल में मदरसे वाली प्रार्थना! हेडमास्टर की लग गई वॉट

स्कूल में मदरसे वाली प्रार्थना को लेकर हिंदू संगठनों ने पीलीभीत के जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव को ज्ञापन देकर आरोपी प्रधानाध्यापक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।

लखनऊ: यूपी के पीलीभीत से एक सरकारी स्कूल में प्रधानाध्यापक द्वारा बच्चों से जबरन प्रार्थना में सरस्वती वंदना की जगह मदरसे की प्रार्थना कराने का मामला सामने आया है।

दरअसल पीलीभीत के एक सरकारी माध्यमिक स्कूल में प्रधानाध्यापक फुरकान अली के जबरन मदरसे वाली प्रार्थना को लेकर विश्व हिंदू परिषद और दूसरे हिन्दू संगठनों ने कड़ा विरोध जताया है और इसकी शिकायत जिलाधिकारी से करके सख्त कार्रवाई की मांग की है।

ये भी पढ़ें—25 हजार होमगार्ड के घर दीवाली पर नहीं जलेंगे दिए, सरकार ने छीन ली नौकरी

स्कूल में मदरसे वाली प्रार्थना को लेकर हिंदू संगठनों ने पीलीभीत के जिलाधिकारी वैभव श्रीवास्तव को ज्ञापन देकर आरोपी प्रधानाध्यापक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की।

डीएम ने प्रधानाध्यापक को किया निलंबित

वहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम वैभव श्रीवास्तव ने आरोपी प्रधानाध्यापक फुरकान अली के खिलाफ जांच के आदेश दे दिए हैं और उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। डीएम ने इस मामले को लेकर कहा कि कुछ लोगों ने एक सरकारी स्कूल के प्रधानाध्यापक पर धर्म विशेष की प्रार्थना कराने का आरोप लगाया था जिसके बाद कार्रवाई की गई है।

ये भी पढ़ें— डेंगू मरीजों से मिलने गए थे केंद्रीय मंत्री, फेंकी गई स्याही

क्या कहते हैं प्रधानाध्यापक फुरकान अली

वहीं खुद पर लगे आरोप को लेकर निलंबित प्रधानाध्यापक फुरकान अली ने कहा कि उनके स्कूल में सरस्वती वंदना भी करवाई जाती है। चूंकि उनके स्कूल में 90 फीसदी बच्चे मुस्लिम समुदाय से आते हैं इसलिए उनके आग्रह पर इस्लाम वाली प्रार्थना भी करवाई जाती थी।