Top

हुई बलात्कारियों को फांसी: आखिरकार पीड़िता को मिला इंसाफ, पूरा देश हुआ खुश

हापुड़ में 2 साल पहले एक नाबालिग 12 की बच्ची के बलात्कार और हत्या के मामले में कोर्ट ने सजा सुनाई है। इस मामले में अपर जिला जज और विशेष न्यायाधीश वीना नारायण ने दो दोषियों को फांसी की सजा सुनाई है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 15 Oct 2020 1:08 PM GMT

हुई बलात्कारियों को फांसी: आखिरकार पीड़िता को मिला इंसाफ, पूरा देश हुआ खुश
X
हुई बलात्कारियों को फांसी: आखिरकार पीड़िता को मिला इंसाफ, पूरा देश हुआ खुश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हापुड़। यूपी के हापुड़ जिले में आज से लगभग 2 साल पहले एक नाबालिग 12 की बच्ची के बलात्कार और हत्या के मामले में कोर्ट ने सजा सुनाई है। इस मामले में अपर जिला जज और विशेष न्यायाधीश वीना नारायण ने दो दोषियों को फांसी की सजा सुनाई है। ऐसे में बच्ची की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। इस मामले में आरोपियों ने वारदात को अंजाम देने के बाद बच्ची के शव को भूसे के ढेर में छुपा रखा था।

ये भी पढ़ें... मोदी-शाह इतने अमीर: इस साल दोस्त को करोड़ों का नुकसान, घटी संपत्ति

पीड़ित परिजनों में खुशी की झलकाहट

ऐसे में हत्या का विरोध करने पर आरोपियों ने बच्ची के भाई का गला भी काटा था। इस दौरान घर के ही दो नौकरों ने इंसानियत को तार-तार कर देने वाली घटना को अंजाम दिया था।

इस मामले में हापुड़ की अपर जिला जज और विशेष न्यायाधीश (पॉक्सो कोर्ट) वीना नारायण द्वारा आरोपियों को फांसी देने के आदेश से पीड़ित परिजनों में खुशी की झलकाहट नजर आई। बता दें, यह घटना हापुड़ के थाना देहात क्षेत्र में हुई थी।

ये भी पढ़ें...सुशांत के घर में हाहाकार: अभिनेता के भाई की हालत गंभीर, अस्पताल में भर्ती

भूसे के कमरे में एक बोरी में फेंका

हापुड़ जिले में 2 साल पहले थाना देहात क्षेत्र में घर में काम करने वाले दो नौकरों ने एक 12 साल की नाबालिग मासूम बच्ची के साथ रेप की घटना को अंजाम दिया गया, जब बच्ची ने इसका विरोध किया, तो बलात्कारियों ने बच्ची की हत्या कर दी और उसके शव को घर में ही बने भूसे के कमरे में एक बोरी में फेंक दिया।

हालाकिं ये पूरी नृशंस घटना बच्ची के 10 वर्षीय भाई ने देख ली, जिसके बाद आरोपियों ने बच्ची के 10 वर्षीय भाई का भी गला काट दिया था। और तभी से मामला न्यायालय में विचाराधीन था।

ये भी पढ़ें...आई महाव‍िनाशक मिसाइल: चीन से लेकर ये देश निशाने पर, धमाके में उड़ जाएंगे सभी

बेटी को मिले न्याय से खुशी

ऐसे में इस मामले में आज बृहस्पतिवार को अपर जिला जज और विशेष न्यायाधीश (पॉक्सो कोर्ट) वीना नारायण ने दोनों आरोपियों अंकुर तेली और सोनू उर्फ पव्वा को फांसी की सजा सुनाई है।

अब फैसला आने के बाद दोनों आरोपियों को तब तक फांसी पर लटकाया जाएगा, जब तक कि उनकी मृत्यु न हो जाए। मामले में आरोपियों को फांसी दिए जाने के आदेश से पीड़ित परिजनों को बेटी को मिले न्याय से खुशी की चमक दिखी।

ये भी पढ़ें...LAC पर युद्ध का ऐलान: सभी सैनिकों को तैयार रहने का आदेश, हाई अलर्ट पर देश

Newstrack

Newstrack

Next Story