Top

IAS का अनोखा काम: सौम्या पाण्डेय को दिल से सलाम, ममता के साथ की कर्म भी

प्रयागराज की रहने वाली सौम्या पाण्डेय एक आईएएस अधिकारी है और उनकी पहली पोस्टिंग मोदीनगर में बतौर एसडीएम हुई है। सौम्या ने अभी 22 दिन पहले ही एक बच्ची को जन्म दिया है लेकिन इस दौरान उन्होंने बहुत ही कम दिनों की मेटरनिटी लीव ली और अपनी छोटी नवजात बच्ची को लेकर ड्यूटी पर तैनात हो गई।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 13 Oct 2020 9:37 AM GMT

IAS का अनोखा काम: सौम्या पाण्डेय को दिल से सलाम, ममता के साथ की कर्म भी
X
एक हाथ में फाइल तो दूसरे में नवजात, ये है कर्तव्यनिष्ठ IAS सौम्या पाण्डेय (social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: यूपी में एक महिला आईएएस अधिकारी अपनी ड्यूटी को ईमानदारी से निभाने के लिए चर्चा में है। महिला अधिकारी अपनी महज 22 दिन की बच्ची के साथ न केवल ड्यूटी पर मौजूद है बल्कि सभी कामों को पूरी मुस्तैदी के साथ निपटा रही है। महिला अधिकारी की इस कर्तव्यपरायणता की महकमें के साथ ही सोशल मीडिया पर भी काफी प्रशंसा हो रही है।

ये भी पढ़ें:पाकिस्तान में मार्शल लॉ! हिल उठी पीएम इमरान खान की कुर्सी, विपक्ष ने बोला हमला

सौम्या ने अभी 22 दिन पहले ही एक बच्ची को जन्म दिया है

प्रयागराज की रहने वाली सौम्या पाण्डेय एक आईएएस अधिकारी है और उनकी पहली पोस्टिंग मोदीनगर में बतौर एसडीएम हुई है। सौम्या ने अभी 22 दिन पहले ही एक बच्ची को जन्म दिया है लेकिन इस दौरान उन्होंने बहुत ही कम दिनों की मेटरनिटी लीव ली और अपनी छोटी नवजात बच्ची को लेकर ड्यूटी पर तैनात हो गई। अब वह अपनी कुर्सी पर बैठ कर एक हाथ से बच्ची को संभालती है तो दूसरे हाथ से फाइलों को। इसके अलावा कोरोना काल में गर्भावस्था के दौरान भी वह बिना किसी चिंता के पूरी तरह काम के प्रति समर्पित रही।

ये भी पढ़ें:सरेआम हुआ कांड: दबंगों को जरा भी ना आई दया, युवती के चलते फंसा ऑटोचालक

सौम्या पाण्डेय ने अपनी तस्वीर की चर्चा पर कहा कि इस दौरान उन्हे अपने अधिकारियों और कर्मचारियों का पूरा सहयोग मिला है, जहां अधिकारी उनकी हौसला अफजाई करते रहे तो वहीं अधीनस्थ कर्मचारियों ने भी उन्हें भरपूर सहयोग दिया। उन्होंने कहा कि एक अधिकारी होने के नाते जहां उनकी कामों और दायित्वों को पूरा करने की उन पर जिम्मेदारी है, वहीं एक मां के दायित्वों का निर्वाहन करना भी उनका फर्ज है और वही वो कर रही हैं। अपनी नौकरी को संजीदगी के साथ करने वाली सौम्या पाण्डेय कथक की भी शौकीन है और इसके लिए उन्हे मौजूदा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से सम्मान भी मिल चुका है।

मनीष श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story