Top

भारत बंद: गोरखपुर में खुले रहे बाजार, सपा-कांग्रेस और पुलिस की तीखी नोकझोंक

समाजवादी पार्टी के निवर्तमान महानगर अध्यक्ष जियाउल इस्लाम को सुबह 7.30 बजे पुलिस ने उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया। कचहरी चौराहे पर प्रदर्शन कर रहे सपाइयों से पुलिस की तीखी झड़प हुई। पुलिस ने यहां से दर्जनों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं से जिला परिषद परिसर में पुलिस की धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भी धर दबोचा।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 8 Dec 2020 12:00 PM GMT

भारत बंद: गोरखपुर में खुले रहे बाजार, सपा-कांग्रेस और पुलिस की तीखी नोकझोंक
X
भारत बंद: गोरखपुर में खुले रहे बाजार, सपा-कांग्रेस और पुलिस की तीखी नोकझोंक
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर: कृषि बिल को लेकर जहां पूरे देश में भारत बंद किया गया, वही उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में भारत बंद के दौरान बाजार पूरी तरह से खुले रहे। आम दिनों की तरह ही खरीदारी होती रही। वहीं दूसरी तरफ सपा, कांग्रेस और किसान संगठनों की तरफ से रैली, पदयात्रा निकालने की कोशिश के दौरान पुलिस से उनकी नोकझोंक हुई। सपा जिलाध्यक्ष और कांग्रेस जिलाध्यक्ष समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में लिया। देर शाम सभी को निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया।

भारत बंद के दौरान खुले रहे बाजार

भारत बंद को लेकर पुलिस और प्रशासन ने मंगलवार को भारी पुलिसकर्मियों को साथ लेकर भ्रमण करते रहें। शहर से लेकर कस्बों में विरोध का असर दिखा। तकरीबन सभी प्रमुख चौराहों और कस्बों में पुलिसकर्मी तैनात रहे। इस दौरान सभी बाजारें खुली रहीं। बाजारों में बंद का कोई असर नहीं दिखा। सड़कों पर वाहनों की संख्या भी आम दिनों जैसी ही रही। आंदोलित किसानों के भारत बंद के समर्थन में सड़क पर उतरे समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और किसान संगठनों के कार्यकर्ताओं से दर्जन भर स्थानों पर पुलिस की झड़प हुई। पुलिस ने बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार कर लिया।

gorakhpur news

सपा के महानगर अध्यक्ष को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बता दें कि समाजवादी पार्टी के निवर्तमान महानगर अध्यक्ष जियाउल इस्लाम को सुबह 7.30 बजे पुलिस ने उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया। कचहरी चौराहे पर प्रदर्शन कर रहे सपाइयों से पुलिस की तीखी झड़प हुई। पुलिस ने यहां से दर्जनों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं से जिला परिषद परिसर में पुलिस की धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को भी धर दबोचा। पुलिस को सबसे अधिक नौसढ़ में जूझना पड़ा। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष रामनगीना साहनी और पूर्व विधायक विजय बहादुर यादव के नेतृत्व में जुटे सपा कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकालने की कोशिश की तो पुलिस कर्मियों ने रोक लिया।

ये भी देखें: आत्महत्या से दहला रायबरेली: पुलिस की नोटिस डिप्रेशन में आया युवक, मार ली गोली

पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को किया गिरफ्तार

सपा कार्यकर्ताओं ने नौसढ़ में सड़क जाम कर प्रदर्शन शुरू किया, तो पुलिस कर्मियों ने बल प्रयोग कर उन्हें दबोच लिया। यहां से दर्जनों कार्यकर्ताओं को पुलिस ने गिरफ्तार किया। इसके अलावा नगर निगम परिसर से पुलिस ने भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए आंदोलनकारियों को पुलिस लाइन तथा विभिन्न थानों पर ले जाया गया है।

gorakhpur news

ये भी देखें: किसान आन्दोलन: टोल प्लाजा पर किया कब्जा, यमुना एक्सप्रेस वे पर लगा भीषण जाम

कांग्रेसियों से भी हुई तीखी नोकझोंक

भारत बंद के दौरान जिला कांग्रेस कमेटी शहर कांग्रेस कमेटी के संयुक्त तत्वाधान में किसानों की समस्या को लेकर भारत बंद का समर्थन करते हुए जिला परिषद गेट से पदयात्रा निकाली। महानगर अध्यक्ष आशुतोष त्रिपाठी, उत्तर प्रदेश कांग्रेस के महासचिव विश्वविजय सिंह समेत अन्य कार्यकर्ताओं को पुलिस ने आगे बढ़ने से रोक लिया। जिला परिषद गेट से गोलघर की तरफ जाते समय पुलिस प्रशासन अपने दल बल के साथ कार्यकर्ताओं को सड़क पर घसीटते हुए गिरफ्तार कर लिया।

रिपोर्ट- पूर्णिमा श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story