नेपाली युवक का खुला राज: जबरन मुंडन कांड निकला फर्जी, 1000 रुपए में साजिश

भारत नेपाल तनाव के बीच उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक नेपाली नागरिक का विश्व हिंदू सेवा के लोगों द्वारा जबरन मुंडन करवाने और सिर पर जय श्री राम लिखने को लेकर अब नया खुलासा हुआ है।

वाराणसी: भारत नेपाल तनाव के बीच उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक नेपाली नागरिक का विश्व हिंदू सेवा के लोगों द्वारा जबरन मुंडन करवाने और सिर पर जय श्री राम लिखने को लेकर अब नया खुलासा हुआ है। दरअसल, जांच में पता चला कि जिन नेपाली युवक का जबरन सिर मुंडवाया गया, वह असल में शुद्ध भारतीय हैं। मामले की जानकारी के बाद उसे पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी।

जबरन सिर मुंडवाने वाला शख्स निकला भारतीय

हाल ही में नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के श्रीराम और अयोध्या पर दिए विवादित बयान के बाद काशी में एक नेपाली युवक का सिर मुंड़वाकर जय श्री राम लिखवाने और उससे जबरन पीएम ओली के खिलाफ नारे लगवाने का मामला सामने आया था। जिसके बाद एसएसपी वाराणसी अमित पाठक ने केस दर्ज कर हिन्दू संगठन से जुड़े पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

1000 रूपए में फर्जी नेपाली बन बनवाया था वीडियो

हालाँकि अब मामले का रुख ही बदल गया है। जिस शख्स का सिर मुंडवाया गया था, वह नेपाली है ही नहीं। पुलिस टीम ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो चौंका देने वाला खुलासा सामने आया है। कथित नेपाली युवक का नाम धर्मेंद्र सिंह है। वह काशी में साड़ी की दुकान में काम करता है।

ये भी पढ़ें- खुदाई में मिली बुद्ध की मूर्ति, भड़क उठे पाकिस्तानी, गैर इस्लामिक बता हथौड़े से तोड़ा2020

विश्व हिंदू सेना के संस्थापक और मुख्य आरोपी अरुण पाठक की तलाश

पूछताछ में पता चला कि लॉकडाउन के कारण आर्थिक तंगी से परेशान धर्मेंद्र ने लालच में ऐसा किया। उसे हिन्दू संस्था के सदस्यों ने एक हजार रुपये में सिर मुंडवाने और वीडियो बनाने का लालच दिया था। पुलिस इस खुलासे के बाद विश्व हिंदू सेना के संस्थापक और मुख्य आरोपी अरुण पाठक की तलाश में जुट गयी है।

डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने दिए मामले की जांच के आदेश

दोनों के खिलाफ केस दर्ज किया गया हैं। प्रदेश के डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने मामले की जांच वाराणसी के सीनियर अफसर से कराने के आदेश दिए हैं। ताबड़तोड़ छापामारी कर पुलिस ने अब तक 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें संतोष पांडेय, राजू यादव, अमित दुबे और आशीष मिश्रा प्रमुख हैं। वहीं विश्व हिंदू सेना के संस्थापक और मुख्य आरोपी अरुण पाठक की तलाश जारी है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App