×

रसोई गैस में लगी महंगाई की आग, उज्जवला लाभार्थी चूल्हे पर खाना पकाने को मजबूर

महिलाओं को धुएं से मुक्ति दिलाने के लिए केंद्र सरकार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना चला रही है। गरीब महिलाओं को निशुल्क रसोई गैस कनेक्शन मिल रहा है।

Roshni Khan
Updated on: 5 March 2021 7:39 AM GMT
रसोई गैस में लगी महंगाई की आग, उज्जवला लाभार्थी चूल्हे पर खाना पकाने को मजबूर
X
रसोई गैस में लगी महंगाई की आग, उज्जवला लाभार्थी चूल्हे पर खाना पकाने को मजबूर (PC: social media)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

सोनभद्र: प्रधानमंत्री उज्‍ज्‍वला योजना के तहत गरीबों को मुफ्त गैस कनेक्‍शन दिए गए। लेकिन पैसे के अभाव में ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं दोबारा गैस नहीं भरवा पा रहीं। लकड़ी और गोइठा पर ही उन्‍हें खाना पकाना पड़ रहा है।

ये भी पढ़ें:अनुराग और तापसी के ठिकानों पर IT की रेड, लोगों ने कहा-‘अब इनकी भी पावरी हो गई’

महिलाओं को धुएं से मुक्ति दिलाने के लिए केंद्र सरकार प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना चला रही है। गरीब महिलाओं को निशुल्क रसोई गैस कनेक्शन मिल रहा है। बावजूद गरीब महिलाओं को धुएं से आजादी नहीं मिल सकी है। अधिकतर गरीब महिलाएं सिलेंडर में रसोई गैस खत्म होने के बाद उसे रिफिल नहीं करा पा रही हैं।

सिलेंडर में दुबारा गैस नहीं भरा पा रही है

कुछ महिलाएं गरीबी के कारण सिलेंडर में दुबारा गैस नहीं भरा पा रही है, तो कुछ को एजेंसी से अभी तक गैस की बुकिंग नहीं मिल पाई है। ऐसे में, इन महिलाओं को फिर से रसोई में धुंए के बीच भोजन बनाना पड़ रहा है। गैस सिलेंडर कोने में रखा हुआ मिल रहा है। राबर्ट्सगंज स्थित गैस एजेंसी के मैनेजर ने भी माना कि हमने अपनी एजेंसी से 5000 लोगों को उज्ज्वला योजना के तहत गैस सिलेंडर वितरित किया था, लेकिन लाभार्थी अब घरेलू गैस महंगी होने के कारण गैस रिफलिंग नहीं करवा पा रहे हैं।

Sonbhadra Sonbhadra (PC: social media)

राबर्ट्सगंज के तियरा ग्राम पंचायत में महंगे घरेलू गैस सिलेंडर के चलते लोग लकड़ी पर पका रहे खाना।

रॉबर्ट्सगंज के तियरा ग्राम पंचायत के गेंगुआर गांव महिला सुखवंती घरेलू गैस सिलेंडर के चलते लोग अब चूल्हे पर फिर से भोजन बनाने के लिए विवश हैं गरीबी रेखा से नीचे के कनेक्शन धारक उज्ज्वला योजना के तहत मिले घरेलू गैस के लिए रिफिलिंग नहीं करवा पा रहे हैं। जिसके चलते फिर से लकड़ी- गोइठा से खाना बनाना शुरू कर दिया है।

उज्‍ज्‍वला योजना से मुफ्त में मिला था सिलेंडर

केंद्र सरकार ने एक मई 2016 को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की शुरुआत की थी। इस योजना के तहत गरीब महिलाओं को सरकार की ओर से निशुल्क रसोई गैस कनेक्शन व चूल्हा दिया जा रहा है। सरकार की इस योजना से महिलाएं काफी उत्साहित भी हैं, परंतु सिलेंडर में दुबारा गैस भराना इन गरीब महिलाओं के लिए मुश्किल हो रहा है, जिसके कारण अधिकतर महिलाएं अपने सिलेंडर में दुबारा गैस नहीं भरा पा रही है।

ये भी पढ़ें:चारा घोटाला केस: लालू यादव की सजा 4 हफ्ते बढ़ाई गई, एम्स में करा सकेंगे इलाज

घरेलू गैस के दाम बढ़ने के चलते गरीबों को रीफिलिंग में आ रही समस्या- गैस एजेंसी मैनेजर

राबर्टसगंज स्थित हंसवाहिनी गैस एजेंसी की मैनेजर नीलम सोनकर का कहना है कि हमने अपनी एजेंसी से 5000 उज्जवला गैस का कनेक्शन दिया था। लेकिन अब इनकी रिफिलिंग नहीं हो रही है कारण है गैस का लगातार महंगे होते चले जाना । गरीबो को गैस की रिफिलिंग में समस्या आ रही है।

रिपोर्ट- ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story