Top

यूपी में पहली बार: 8 औद्योगिक सेक्टर IPRS में नामित, इस शहर की बड़ी उपलब्धि

इंवेस्ट इंडिया की ओर से आयोजित इंडस्ट्रियल पार्क रेटिंग सिस्टम (आईपीआरएस-2.0) का आयोजन कर रही है। पहली बार उत्तर प्रदेश आईपीआरएस में प्रतिभाग कर रहा है।

Shivani Awasthi

Shivani AwasthiBy Shivani Awasthi

Published on 1 Feb 2021 5:38 PM GMT

यूपी में पहली बार: 8 औद्योगिक सेक्टर IPRS में नामित, इस शहर की बड़ी उपलब्धि
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा। इंवेस्ट इंडिया की ओर से आयोजित इंडस्ट्रियल पार्क रेटिंग सिस्टम (आईपीआरएस-2.0) का आयोजन कर रही है। पहली बार उत्तर प्रदेश आईपीआरएस में प्रतिभाग कर रहा है। आईपीआरएस में नामित औद्योगिक पार्क या सेक्टरों के उद्योगपतियों द्वारा दिए फीड बैंक पर उनकी रैकिंग तय की जाएगी। प्राधिकरण अधिकारियों ने इसकी पहल की और सोमवार को औद्योगिक संगठन के साथ बैठक कर उनको आईपीआरएस के बारे में अवगत कराया।

इंवेस्ट इंडिया की ओर से फीडबैक के आधार पर दी जाएगी सेक्टरों को रेटिंग

प्राधिकरण विशेषाकार्यधिकारी अविनाश त्रिपाठी ने बताया कि आईपीआरएस में उप्र के कुल 25 इंडस्ट्रियल पाकरे को नामिनेटड किया गया है। इसमे नोएडा व ग्रेटरनोएडा प्राधिकरण क्षेत्र के आठ-आठ क्षेत्र नामिनेट हुए है। नोएडा में (सेक्टर-01, सेक्टर-67, सेक्टर-63, सेक्टर-68, सेक्टर-80, सेक्टर-81, सेक्टर-84ए, फेज-2) है।

ये भी पढ़ें- बजट का सबसे बड़ा बवालः घाटे की कंपनियों को बेचने की पेशकश पर भड़क उठे लोग

जागरूकता के लिए औद्योगिक संगठनों के साथ प्राधिकरण ने की बैठक

आईपीआरएस की रेटिंग के तहत इन सभी सेक्टरों को 43 पैरामीटर (मानको) पर खरा उतरना होगा। इसमे पावर, एक्सटर्नल रोड कनेक्टिविटी, वाटर सप्लाई, सपोर्ट सर्विस, गेस फॉ इंडस्ट्रियल एरिया, बिजनेस सुविधा, आईसीटी इंफ्रास्ट्रच्चर, इन्वायरमेंटल क्लीयरेंस, आपदा प्रबंधन, सिवरेज , वेस्ट हजार्ट प्रबंधन, स्ट्रीट लाइट, सालिड वेस्ट डिस्पोजल, एनर्जी आडिट, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, ग्रीन स्पेस, ग्रीन पार्क अनुरक्षण आदि है। इन पैरामीटर पर खरा उतरने के बाद आईपीआरएस इनकी रेटिंग देगा। प्राधिकरण द्वारा इसमे हर संभव प्रयास औद्योगिक सेक्टरों में किए है।

थर्ड पार्टी लेगी फीडबैक

इंवेस्ट इंडिया के तहत बनाई गई कोई संस्था या थर्ड पार्टी नामिनेटड किए गए सेक्टरों के उद्योगपतियों को मेल , फोन कर उनसे फीड बैक लेगी। प्राधिकरण ने इसकी डिटेल इंवेस्ट इंडिया को भेज दी है। इसी फीडबैक के आधार पर रेटिंग तय की जाएगी। प्राधिकरण ने इसके लिए विशेष जागरूकता अभियान भी शुरू कर दिया है।

ये भी पढ़ें-इस बजट से आम आदमी की सभी उम्मीदें पूरी होंगी: केशव प्रसाद मौर्य

प्राधिकरण ने औद्योगिक संगठन से की बातचीत

इसको लेकर सोमवार को प्राधिकरण ने 13 औद्योगिक संगठन (नोएडा एंटरप्रिन्योर्स एसोसिएशन , एमएसएमई इंडस्ट्रियल एसोसिएशन नोएडा, आईआईए नोएडा चैप्टर, उप्र कोरूगेटिड मैन्यु एसो, चेंबर ऑफ इंडस्ट्री एंड कामर्स, फेडरेशन ऑफ नोएडा, नोएडा उद्यमी परिषद) आदि शामिल है। इन सभी के अध्यक्षों व प्रतिनिधि मंडल से बातचीत की। इन सभी को आईपीआरएस के बारे में र्अवगत कराया। साथ ही अपील की कि फीड बैक अवश्य दे ताकि बेहतर प्रयासों का बेहतर परिणाम मिल सके।

दीपांकर जैन, नोएडा

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story