×

जौनपुर का समाजसेवी बना लखनऊ का ठग, दर्ज हुई एफआईआर

बतादे कि जौनपुर में समाज सेवक बन कर सस्ती लोकप्रियता हासिल करने वाले दिलीप राय बलवानी एवं उसकी पत्नी रीता राय बलवानी लखनऊ में रीयल स्टेट के कारोबार के नाम लोगों से ठगी का खेल लम्बे समय से कर रहे थे जिसका खुलासा अब जा कर हुआ है।

Newstrack
Updated on: 13 Dec 2020 12:26 PM GMT
जौनपुर का समाजसेवी बना लखनऊ का ठग, दर्ज हुई एफआईआर
X
समाज सेवी लखनऊ का निकला ठग, जौनपुर पुलिस की विवेचना शुरू (PC: social media)
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

जौनपुर: जनपद जौनपुर में समाज सेवक बन कर सस्ती लोकप्रियता हासिल करने वाले रीयल स्टेट के नाम पर ठगी करने वाले व्यक्ति दिलीप राय बलवानी एवं उसकी पत्नी रीता राय बलवानी के खिलाफ प्रदेश की राजधानी लखनऊ के थाना विभूति खण्ड स्थित गोमती नगर में दिनांक 10 दिसंबर 20 को मु.अ.सं. 550 /20 से धारा 420,406 भादवि का पंजीकृत किया गया है। पुलिस मामले की विवेचना शुरू कर दिया है।

ये भी पढ़ें:भारत के किसानों के लिए नकली आंसू बहाना इमरान के मंत्री को पड़ा भारी, लोगों ने घेरा

लोगों से ठगी का खेल खेलते हैं पति-पत्नी

बतादे कि जौनपुर में समाज सेवक बन कर सस्ती लोकप्रियता हासिल करने वाले दिलीप राय बलवानी एवं उसकी पत्नी रीता राय बलवानी लखनऊ में रीयल स्टेट के कारोबार के नाम लोगों से ठगी का खेल लम्बे समय से कर रहे थे जिसका खुलासा अब जा कर हुआ है। इनके द्वारा लखनऊ में प्रिया इन्फ्रावेन्चर के नाम से विभूति खण्ड में एक फर्म संचालित की जाती है। जिसका काम लोगों को जमीन दिलाना और जमीन दिलाने के नाम पर अग्रिम धनराशि लाखों करोड़ों में वसूलना है।

यहाँ बतादे कि कि इनके कारनामें की पोल तब खुली जब बलवानी एवं उनकी फर्म ने जनपद वाराणसी के निवासी डा. परमेन्द्र सिंह पुत्र स्व देवेन्द्र कुमार सिंह को जमीन दिलाने के नाम पर बजरिये बैंक एकाउंट 7.50 लाख रुपये दो किस्तों में 12.1.19 एवं 16.2.19 को खाता संख्या 1671105000879 में लिया और आज तक जमीन नहीं दिया । इसके पश्चात डाक्टर परमेन्द्र सिंह द्वारा लगातार बलवानी से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन बलवानी बाहर रहने की बात करते रहे जमीन भी नहीं दिया।

लखनऊ के थाना विभूति खण्ड स्थित गोमती नगर में उक्त धाराओं में मुकदमा दर्ज करा दिया

काफी मशक्कत के बाद दिलीप राय बलवानी ने डाक्टर परमेन्द्र सिंह को चेक दिया जो बाउन्स हो गया। उधर देने के बाद फिर हीला हवाली जारी रही आजिज आकर डाक्टर परमेन्द्र सिंह ने लखनऊ के थाना विभूति खण्ड स्थित गोमती नगर में उक्त धाराओं में मुकदमा दर्ज करा दिया है। हलांकि की लखनऊ के कुछ समाचार पत्रों ने भी इस खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया है लिखा है "रीयल स्टेट कम्पनी संचालक पर ठगी का आरोप"। अब पूरे मामले की विवेचना विभूति खण्ड की पुलिस कर रही है।

ये भी पढ़ें:मसीहा किसानों का डीजीपी लखमिंदर सिंह जाखड़, समर्थन में दे दिया इस्तीफा

यहाँ यह भी बता दे कि लखनऊ में ठगी का खेल करने वाले दिलीप राय बलवानी एवं उनकी पत्नी जो कभी जिला पंचायत सदस्य भी रही है जनपद जौनपुर अपने गांव डमरूआ थाना क्षेत्र सिकरारा में खाद्यान्न आदि वितरित कर सस्ती लोकप्रियता हासिल करने का खेल करते हुए अपने ठगी के कारोबार पर पर्दा डालने का प्रयास करते रहे है। समाज सेवा के नकाब में जालसाजी के इस खिलाड़ी के समर्थन में कुछ मीडिया के लोगों की सहभागिता अब चर्चा का बिषय बना हुआ है। जो भी हो लेकिन बलवानी के समाज सेवा के पीछे की पोल खुल गयी है। खबर यह भी है कि ठगी का एक मामला तो चर्चा में आ गया है लेकिन अभी तमाम ऐसे और भी मामले है जो जल्द ही समाज के सामने आने की सम्भावना जतायी जा रही है।

रिपोर्ट- कपिल देव मौर्य

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story