×

जौनपुर: पीएम मातृ वंदना योजना: 19013 गर्भवती को मिला लाभ, दिये इतने रुपए

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने वाली जिले की 19013 लाभार्थियों के खाते में वर्ष 2020-21 में 8.98 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 17 Feb 2021 5:37 PM GMT

जौनपुर: पीएम मातृ वंदना योजना: 19013 गर्भवती को मिला लाभ, दिये इतने रुपए
X
जौनपुर: पीएम मातृ वंदना योजना: 19013 गर्भवती को मिला लाभ, दिये इतने रुपए
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

जौनपुर: प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने वाली जिले की 19013 लाभार्थियों के खाते में वर्ष 2020-21 में 8.98 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया। योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने पर लाभार्थी महिला को 5000 रुपये तीन किश्तों में डीबीटी के माध्यम से सीधे खाते में भेजे जाते हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि योजना के जिले में कुल 75,928 लाभार्थी हैं। इनमें से 74,538 लाभार्थियों के खाते में डीबीटी के माध्यम से लगभग 29.74 करोड़ रुपये भेजे जा चुके हैं। इस योजना के लाभार्थी अब सीधे ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके लिए लाभार्थियों को इसकी वेबसाइट पर लॉगिन करना होगा और आवश्यक सूचनाएं सही भरनी होंगी।

सुधार के दिए ये निर्देश

इन्हें सुधार के निर्देश सीएमओ ने प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा की जिसमें ब्लाक सिरकोनी, रामनगर, खुटहन व अरबन की प्रगति संतोष जनक न मिलने पर उन्हें सुधार के निर्देश दिए। साथ ही प्रथम गर्भधारण करनेवाली शत-प्रतिशत महिलाओं का पंजीकरण कराने को कहा। जिला कार्यक्रम प्रबंधक सत्यव्रत त्रिपाठी ने बताया कि फार्म भरने के लिए पीएमएमवीवाई डैस सीएएस डाट एनआईसी डॉट इन पर जाकर वेनिफिसरी लॉगिन (ठमदमपिबपंतल स्वहपद) पर क्लिक करना होगा। इसके बाद फार्म डाउनलोड करने के विकल्पों के साथ अन्य विकल्प खुलकर सामने आ जाएंगे। इन विकल्पों को भरने के बाद फार्म सीधे उसके प्रभारी चिकित्सा अधिकारी के पास पहुंच जाएगा। वहां से वह फार्म का सत्यापन कराएंगे। लाभार्थी ऑनलाइन भरे हुए फार्म की एक प्रिंट कापी अपने पास अवश्य रखें। लाभार्थियों का समस्त भुगतान राज्य स्तर से पोर्टल के माध्यम से जाता है।

इस नंबर से ले सकते है जानकारी

उन्होंने बताया कि अगर लाभार्थी को आनलाइन फार्म भरने में कोई दिक्कत आ रही है, या फिर उसे किसी तरह की सहायता चाहिए तो वह स्टेट हेल्प लाइन नम्बर 7998799804 पर सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक सीधे सम्पर्क कर सकती हैं, जो लाभार्थी ऑनलाइन फार्म भरने या भरवा पाने में असमर्थ है, तो वह अपने क्षेत्र की आशा कार्यकर्ता, आशा संगिनी, एएनएम व अपने ब्लाक के प्राथमिकध्सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बीपीएमध्बीसीपीएम तथा चिकित्सा अधीक्षक से सम्पर्क कर ऑफलाइन भी आवेदन कर सकती है।

गर्भावस्था को मिलेंगे इतने पैसे

तीन किस्तों में मिलते हैं 5000 रुपये - योजना के तहत पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को तीन किश्तों में 5000 रुपए दिए जाते हैं द्य पहली किश्त 1000 रुपए की होती है जो कि गर्भावस्था के दौरान पंजीकरण के समय प्रदान की जाती है। दूसरी किश्त को गर्भावस्था के छठवें-सातवें महीने बाद या प्रसव पूर्व जांच कराने पर दिया जाता है। दूसरी किस्त में लाभार्थी को 2000 रुपए मिलते हैं। तीसरी किस्त बच्चे के जन्म और उसके पंजीकरण तथा टीकाकरण के प्रथम चक्र पूरा होने पर मिलती है। इसके तहत लाभार्थी को 2000 रुपए दिए जाते हैं।

यह कहना है लाभार्थियों का - रामनगर ब्लाक के दमोदरा गांव की सपना सिंह (27) पत्नी अजीत ने बताया कि पहली बार मां बनने पर गर्भावस्था के दौरान उन्हें तीन हजार रुपए प्राप्त हुए जिससे उन्हें पोषण में बहुत सहयोग मिला। वहीं शहरी क्षेत्र मातापुर की नसीम फात्मा (27) पत्नी मोहम्मद खुवैद रजा ने बताया कि पहली बार मां बनने पर उन्हें तीन किस्तों में पांच हजार रुपए मिले जिससे उन्होंने पोषक तत्वों के खानपान में लाभ मिला।

कपिल देव मौर्य

ये भी पढ़ें : लखनऊ : महिला आत्मरक्षा कार्यशाला का आयोजन, गंभीर मुद्दे पर डाला गया प्रकाश

Monika

Monika

Next Story