×

झांसी को सौगात: सीएम योगी ने शुरू की 78 योजनाएं, होगा जिले का विकास

:प्रदेश के मुख्यमंत्री ने किसान की बात करते हुये किसान आंदोलन के लिये विपक्ष को जिम्मेदार ठहराते हुये कहा कि जब भी भारत में समृद्वि एवं सुरक्षा की बात होती है तो कुछ लोग जिन्हें किसान के चेहरे पर खुशी अच्छी नही लगती और उन्हें विकास अच्छा नही लगता उनके पेट में दर्द होने लगता है और विकास कार्यो में रोड़ा अटकाने का काम शुरु कर देते है।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 9 March 2021 6:04 PM GMT

झांसी को सौगात: सीएम योगी ने शुरू की 78 योजनाएं, होगा जिले का विकास
X
CM योगी ने झांसी मण्डल को दी 60 लाख की 78 योजनाओं की सौगात
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

झाँसी: मुख्यमंत्री, उप्र. योगी आदित्यनाथ ने जनपद झाँसी में राजकीय इण्टर कालेज प्रागंण में 78 योजनाओं का शिलान्यास/लोकापर्ण, जिसमें जनपद झाँसी की 21 कार्यो का शिलान्यास, 24 कार्यो का लोकापर्ण, जनपद जालौन में 07 कार्यो का शिलान्यास, 11 कार्यो का लोकापर्ण, जनपद ललितपुर के 13 कार्यो का शिलान्यास व 02 कार्यो का लोकापर्ण सहित विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को लाभान्वित किया। उन्होने कहा कि बुन्देलखण्ड के विकास हेतु अपनी प्रतिबद्वता दोहराते हुये कहा कि एक साथ इतने अधिक विकास कार्य यदि आजादी के बाद किसी सरकार ने किया होता तो आज बुन्देलखण्ड धरती पर स्वर्ग होता।

किसान आंदोलन के लिये विपक्ष को जिम्मेदार

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने किसान की बात करते हुये किसान आंदोलन के लिये विपक्ष को जिम्मेदार ठहराते हुये कहा कि जब भी भारत में समृद्वि एवं सुरक्षा की बात होती है तो कुछ लोग जिन्हें किसान के चेहरे पर खुशी अच्छी नही लगती और उन्हें विकास अच्छा नही लगता उनके पेट में दर्द होने लगता है और विकास कार्यो में रोड़ा अटकाने का काम शुरु कर देते है। उन्होंने कहा कि कृषि कानून 2020 को लागू हो गये परन्तु आज तक न कोई मण्डी बन्द हुई, और न ही किसी किसान की भूमि ले ली गयी और एमएसपी भी बन्द नही हुई। उन्होने कहा कि प्रदेश में 04 साल में रिकार्ड उत्पादन किया गया और इस वर्ष 68 मैट्रिक टन धान एमएसपी पर सरकार द्वारा क्रय की गयी है।

78 योजनाओं की सौगात

बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे बनेगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां कोई सोचता नही होगा कि बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे बनेगा और रोगजगार मिलेगा। बुन्देलखण्ड में हर प्रकार की सम्भावनायें है। अच्छी कनैक्टविटी न होने के कारण लोग यहां आने से बचते थे परन्तु बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे व एयर कनैक्टविटी की सुविधा मिलने से डिफेंस कॉरीडोर केन्द्र बिन्दु बन गया। जनपद ललितपुर में भी बांधों की परियोजनाओं का शुभारम्भ किया, जिससे अनेकों गांव को लाभ को लाभ मिलेगा। उन्होने कहा कि कार्यदायी संस्थायें एक-एक गांव गोद लेते हुये गांव का सर्वांगीण विकास करायेंगी।

मुख्यमंत्री ने महिला सम्मान को लेकर सरकार प्रतिबद्वता दोहराते हुये कहा कि इस बार बजट में बलिनी मिल्क प्रोडक्शन जनपद झाँसी के समूह के मॉडल की स्थापना प्रदेश के अन्य मण्डलों में करने जा रहे है। उन्होने समूह द्वारा किये जा रहे कार्य की प्रशंसा करते हुये कहा कि महिलायें आत्मनिर्भर स्वावलंबी बन विकास में सहयोग कर सकती है। ग्राम में यदि राशन वितरण कोटे को लेकर कोई विवाद हुआ तो कोटेदार का काम भी महिला समूह को दिया जायेगा।

राजकीय इण्टर कालेज के पुनरोद्वार की योजना

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने 50 साल से ऊपर राजकीय इण्टर कालेज, डिग्री कालेज, पोस्ट डिग्री कालेज, अशासकीय सहायता प्राप्त कालेज के भवनों का पुनरोद्वार करने के लिये बजट की व्यवस्था करेगी। उन्होने राजकीय इण्टर कालेज के पुनरोद्वार की योजना बनाये जाने के साथ ही 100 वर्ष पूरे होने पर कार्यक्रम आयोजित करने का सुझाव दिया। उन्होने जनसभा सम्बोधन के पश्चात अभ्युदय योजना में संचालित परीक्षा कक्ष में पहुंचकर जानकारी ली और छात्र/छात्राओं से कहा कि खूब मेहनत कर सफल होकर देश की सेवा करें।

मुख्यमंत्री ने कान्ट्रैक्ट फार्मिंग के पक्ष में उदाहरण देते हुये बताया कि झाँसी का बैधनाथ ग्रुप पिछले कई वर्षो से कान्ट्रैक्ट फार्मिंग कर रहा है, परन्तु आज तक किसी किसान को नुकसान नही हुआ है बल्कि किसान को लाभ ही हुआ। उन्होने कहा कि बुन्देलखण्ड में पर्याप्त भूमि है और इसे सौर ऊर्जा का केन्द्र बना सकते है। यहां कुसुम योजना से सोलर प्लांट दिये जाने की योजना है, यहां बनने वाली बिजली दूसरो को देकर क्षेत्र का विकास करेंगे।

jhansi

05 लाख का स्वास्थ्य बीमा

मुख्यमंत्री ने जनसभा में उ0प्र0 के मजदूर जो उत्तर प्रदेश के साथ ही अन्य प्रदेश व विदेश में रहते है उनका रजिस्ट्रेशन कराते हुये 02 लाख का सुरक्षा बीमा तथा 05 लाख का स्वास्थ्य बीमा करने का वायदा किया। उन्होने बताया कि सरकार ने यह भी तय किया कि ऐसे श्रमिक यदि दुर्घटनाग्रस्त हो जाते है तो उनके परिवार को 02 लाख रुपये की सहायता मिलेगी। इसके साथ ही उन्होने कहा कि किसान और बढ़ईदार आपदा या किसी दुर्घटना की चपेट में आ जाता है तो उसे 02 लाख की सहायता तत्काल प्रदान की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के पूर्व जीआईसी प्रागंण में विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों को निरीक्षण करते हुये ओडीओपी स्टाल तथा स्वयं सहायता समूह द्वारा तैयार किये गये उत्पादों की प्रशंसा की।

मौसम विभाग की चेतावनी से केमिस्ट की हड़ताल तक, पढ़ें अयोध्या की बड़ी खबरें

28 एमएलडी ट्रीटमेंट प्लांट

जनसभा सम्बोधन के पश्चात मुख्यमंत्री ग्राम बुढ़पुरा, बबीना पहुंचे। वहां उन्होने ग्राम समूह पेयजल योजना की जानकारी ली, इस पेयजल योजना से 62 गांवों को पानी सप्लाई होगा। मौके पर ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण करते हुये 28 एमएलडी ट्रीटमेंट प्लांट के संचालन की जानकारी व योजना की ड्राइंग योजना को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिये। मौके पर डीजीएम रमेश ने बताया कि अभी 01 लाख 50 हजार लोगों को लाभ प्राप्त हो रहा है, जल्द ही 03 लाख लोगों को पानी उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होने बताया कि योजना पूर्ण होने के बाद 10 वर्षो तक मेन्टेनेन्स करना है। योजना वर्ष 2022 में पूर्ण क्षमता से संचालित होगी, परन्तु नवम्बर-दिसम्बर तक पार्ट-पार्ट में तैयारी करते हुये योजना संचालित होगी।

इस मौके पर सभापति कुंवर मानवेन्द्र सिंह, क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेन्द्र सिंह, डॉ महेन्द्र सिंह, सांसद जालौन भानू प्रताप सिंह वर्मा, मेयर रामतीर्थ सिंघल, विधायक सदर रवि शर्मा, बबीना राजीव सिंह पारीछा, मऊरानीपुर बिहारी लाल आर्य, गरौठा जवाहर लाल राजपूत सहित मण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा, आई जी एसएस बघेल, जिलाधिकारी आन्द्रा वामसी, एसएसपी दिनेश कुमार पी, मुख्य विकास अधिकारी शैलेष कुमार, नगर आयुक्त अवनीश कुमार राय एवं अन्य अधिकारीगण उपथित रहे। झाँसी -ललितुपर सांसद अनुराग शर्मा ने मुख्यमंत्री जी के प्रति आभार व्यक्त किया।

रिपोर्ट- बी के कुश्वाहा

Monika

Monika

Next Story