प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगारः राज्यमंत्री ने अधिकारियों संग की बैठक, दिए ये निर्देश

बैठक में राज्यमंत्री ने कहा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत पात्र लोगों को सर्वे कराकर उन्हें आवास देने का कार्य भी किया जाए।

कानपुर देहात: ग्रामीण विकास विभाग, भारत सरकार, राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योती ने सर्किट हाउस माती कानपुर देहात में अधिकारियों के साथ शासन द्वारा चलायी जा रही कल्याणकारी योजनाओं तथा अन्य विकास कार्य, कोविड-19 कोरोना वायरस के सम्बन्ध में बैठक की। बैठक में उन्होंने सभी सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जो योजनाएं चलायी जा रही हैं उनका लाभ गरीब पात्र लोगों को अवश्य मिले। इसके लिए पहले से ही तैयारी कर लें तथा लोगों को लाभ दिलाने में आगे आएं।

राज्यमंत्री ने कहा प्रवासी मजदूरों रोजगार उपलब्ध कराएं

राज्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 कोरोना वायरस के चलते जो दूसरे राज्यों से प्रवासी मजदूर जनपद आए हैं उनके लिए रोजगार उपलब्ध कराये जाएं तथा जो लोग फैक्ट्री में कारीगरी, सब्जी बेचने आदि का कार्य करते थे। उनको चिन्हित कर उसी प्रकार का रोजगार उपलब्ध कराया जाए। तथा मनरेगा के तहत भी लोगों को काम उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि जनपद में वाटर टैंक के द्वारा छूटे हुए घरों में टोटी के द्वारा पानी पहुंचाने का कार्य किया जाए। प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत जो सड़कें कार्य होने से छूट गईं हैं।

ये भी पढ़ें-   होगी मूसलाधार बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट, घरों से बाहर ना निकले लोग

उन्हें लगकर पूरा कराया जाए। तथा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत पात्र लोगों को सर्वे कराकर उन्हें आवास देने का कार्य भी किया जाए। बैठक में जिलाधिकारी राकेश कुमार सिंह व मुख्य विकास अधिकारी जोगिन्दर सिंह द्वारा बताया गया कि जनपद में आये हुए प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने का कार्य किया जा रहा है। तथा जनपद में कोरोना वायरस के चलते गजनेर में एल1 अस्पताल संचालित है। जिसमें 30 से 40 कोरोना मरीजों को रखे जा सकते हैं।

जिलाधिकारी ने दी व्यवस्थाओं की जानकारी

इसके अलावा जनपद में केन्द्रीय विद्यालय में भी कोरोना वायरस के मरीजों को रखे जाने की व्यवस्था की गई। जिसमें 170 मरीजों को रखा जा सकता है। इसमें सभी व्यवस्थायें पूर्ण कर ली गयी हैं। अधिकारियों ने बताया कि जनपद में कोरोना मरीजों के कुल एक्टीव केस 9 है तथा केस की संख्या 57 हो गयी है। तथा जनपद के ज्यादा भीड़ वाले कार्यालयों में कोविड हेल्प डेस्क भी संचालित है।

ये भी पढ़ें-   कोरोना की आड़ में सरकार में हुआ पैसों का बंदरबांट: नरेश उत्तम

जिसके द्वारा लोगों को जानकारी दी जाती है तथा सेनेटाइज करने का भी कार्य किया जा रहा है। बैठक में अन्य बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की गयी। इस मौके पर जिलाध्यक्ष अविनाश सिंह चैहान, अपर जिलाधिकारी प्रशासन पंकज वर्मा, अपर पुलिस अधीक्षक अनूप कुमार, सीएमओ डा0 राजेश कटियार, डीपीआरओ शिव शंकर, पीडी दिनेश यादव, डीसी मनरेगा हरीशचन्द्र, जिला भूमि संरक्षण अधिकारी अशोक कुमार आदि उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-  मनोज सिंह