दिन भर घनघनाते रहे वकीलों के फोन, इस कोर्ट में सरेंडर कर सकता है विकास दुबे

कानपुर शूट आउट का मुख्य आरोपी किसी भी वक्त पकड़ा जा सकता है। ऐसी खबरें आ रही हैं कि वह सूरजपुर कोर्ट या दिल्ली की किसी अदालत में सरेंडर कर सकता है। इसके लिए विकास दुबे समय-समय पर अपनी लोकेशन भी बदल रहा है।

नई दिल्ली: कानपुर शूट आउट का मुख्य आरोपी किसी भी वक्त पकड़ा जा सकता है। ऐसी खबरें आ रही हैं कि वह सूरजपुर कोर्ट या दिल्ली की किसी अदालत में सरेंडर कर सकता है।

इसके लिए विकास दुबे समय-समय पर अपनी लोकेशन भी बदल रहा है। ताकि पुलिस की पकड़ से बच सके। आज कई वकीलों के पास विकास के फोन भी आये हैं।

विकास दुबे का करीबी एनकाउंटर में ढेर, पुलिसकर्मियों की हत्या में था शामिल

जिसके बाद से गौतमबुद्ध नगर समेत पूरे दिल्ली-एनसीआर में हाई अलर्ट जारी किया गया है। ग्रेटर नोएडा स्थित सूरजपुर जिला कोर्ट में आने वाले लोगों का मास्क हटवा कर तलाशी ली जा रही है।

कोर्ट के पुलिस का कड़ा पहरा बिठा दिया गया है, ताकि विकास अगर कोर्ट में सरेंडर करने के लिए आता है तो उसे अंदर दाखिल होने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया जाये। ताकि उससे पूछताछ की जा सके।

गैंगस्टर विकास दुबे मामले में चौबेपुर के SO विनय तिवारी को गिरफ्तार किया गया

तीन साथी फरीदाबाद से अरेस्ट

विकास दुबे न सिर्फ फरीदाबाद के होटल के सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ है बल्कि एक दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हुआ है।
गैंगस्टर विकास दुबे के फरीदाबाद में देखे जाने के मामले में खेड़ीपुल थाना पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया दर्ज की है। पुलिस इन्हें कस्टडी में लेकर पूछताछ कर रही है। यह तीनों विकास दुबे के साथी हैं। इन सबको पुलिस ने फरीदाबाद कोर्ट में पेश किया है।

विकास दुबे के साथी अंकुर, श्रवण व प्रभात मिश्रा को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अंकुर पर ओयो होटल में कमरा बुक कराने का आरोप है। अंकुर खेड़ीपुल थाना के भारत कॉलोनी का रहने वाला है।

नेपाल बॉर्डर पहुँचे SSP: तेजी से विकास दुबे की तलाश जारी, चलाया चेकिंग अभियान