×

भारत की सेना विश्व की बहादुर सेना में गिनी जाती है - सीएम योगी

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज कारगिल विजय दिवस के अवसर पर मध्य कमान स्थित स्मृतिका जाकर अमर ज्योति के समक्ष शहीदों को नमन किया और श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर ले0जनरल अभय कृष्ण सहित सेना के अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं जवान उपस्थित थे।

Anoop Ojha

Anoop OjhaBy Anoop Ojha

Published on 26 July 2019 3:32 PM GMT

भारत की सेना विश्व की बहादुर सेना में गिनी जाती है - सीएम योगी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने आज कारगिल विजय दिवस के अवसर पर मध्य कमान स्थित स्मृतिका जाकर अमर ज्योति के समक्ष शहीदों को नमन किया और श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर ले0जनरल अभय कृष्ण सहित सेना के अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं जवान उपस्थित थे।

यह भी पढें.......यूपी विधानसभा का मानसून सत्र: 25 घण्टे 39 मिनट चलने के बाद स्थगित

राज्यपाल श्री राम नाईक एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नगर निगम लखनऊ द्वारा कारगिल शहीद स्मृति वाटिका में आयोजित एक अन्य कार्यक्रम में कारगिल के शहीदों को नमन किया तथा कारगिल शहीद एवं स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों के परिजनों को अंग वस्त्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर मंत्री आशुतोष टण्डन, राज्यमंत्री मोहसिन रज़ा, महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया, विधायक श्री नीरज बोरा, सभासद तथा बड़ी संख्या में विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्रायें उपस्थित थे।

यह भी पढें.......कारगिल विजय दिवस: द्रास में राष्ट्रपति का कार्यक्रम रद्द, शहीदों को रक्षामंत्री ने दी श्रद्धांजलि

राज्यपाल ने इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुये कहा कि आज का दिन शहीदों को याद करने का दिन है। हम सुरक्षित हैं क्योंकि सीमा पर सेना है। ऐसे में जिन्होंने देश का मान बढ़ाया है उनको याद करके उनके प्रति आदर व्यक्त करना चाहिए। राज्यपाल ने कहा कि शहीदों के लिये कुछ कर सका इसका उन्हें समाधान है।

अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में वे पेट्रोलियम मंत्री रहते हुये 439 कारगिल शहीद परिवारों को सरकारी खर्चें पर पेट्रोल पम्प और गैस एजेन्सी उनके जीवन निर्वहन के लिये उपलब्ध करा सके। उन्होंने कहा कि इस बात का भी संतोष है कि प्रदेश के तीन परमवीर चक्र विजेताओं के भित्ति चित्र मध्य कमान स्मृतिका में उनकी सलाह से स्थापित किये गये। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि लखनऊ में पर्यटन के नक्शे पर स्मृतिका को भी शामिल किया जाये, इससे नागरिक और सेना में संवाद बढ़ेगा।

यह भी पढें.......कारगिल विजय दिवस के मौके पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने आए CM योगी व राम नाईक, देखें तस्वीरें

नाईक ने शहीदों को याद करते हुये कहा कि शहादत पर गर्व है पर जवानों के जाने का दुःख होना भी स्वाभाविक है। उन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज को उद्धृत करते हुये कहा कि शिवाजी की माता जीजाबाई की इच्छा थी कि कोण्डाना किला छत्रपति शिवाजी के पास होना चाहिए। शिवाजी की सेना के सरदार तानाजी अपने पुत्र के विवाह का निमंत्रण देने आये थे।

माता जीजाबाई की इच्छा को जानकर सेनापति तानाजी ने कहा कि पहले कोण्डाना जीतेंगे बाद में शादी होगी। युद्ध में तानाजी शहीद हुए तो शिवाजी ने कोण्डाना किले का नाम सिंहगढ़ रखते हुए कहा कि ‘गढ़ आला पण सिंह गेला’ अर्थात, ‘गढ़ तो जीत लिया पर सिंह चला गया’। उन्होंने कहा कि देश पर शहीद होने वाला सैनिक हमारे लिये बहुत महत्व रखता है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रतिवर्ष 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने श्रद्धांजलि अर्पित करते हुये कहा कि आज के दिन भारत माता के शहीद सपूतों को याद करने का दिन है। भारत की सेना विश्व की बहादुर सेना में गिनी जाती है।

Anoop Ojha

Anoop Ojha

Excellent communication and writing skills on various topics. Presently working as Sub-editor at newstrack.com. Ability to work in team and as well as individual.

Next Story