कासगंज में यात्रियों से लूटपाट, 1 साल के मासूम को बदमाशों ने खेतों में फेंका

यूपी सरकार की सख्ती के बाजूद उत्तर प्रदेश में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। ताजा मामला कासगंज का है जहां बदमाशों ने हथियार के बल पर मारपीट और लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया है। इस घटना में तीन महिला सहित पांच लोग घायल हो गये। घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

कासगंज: यूपी सरकार की सख्ती के बाजूद उत्तर प्रदेश में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं। ताजा मामला कासगंज का है जहां बदमाशों ने हथियार के बल पर मारपीट और लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया है। इस घटना में तीन महिला सहित पांच लोग घायल हो गये। घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

जिल के ढोलना थाना क्षेत्र में चकेरी मोड़ पर बदमाशों ने ग्रामीणों के साथ मारपीट के बाद लूटपाट की। ये सभी लोग दिल्ली में रहते हैं। रात में रोडवेज बस से उतरकर गांव जा रहे थे। ये लोग बस से उतर अपने घर जा रहे थे तभी हथियारबंद बदमाशों ने इन पर हमला बोल दिया और लूट पाट की।

यह भी पढ़ें…CWC 2019: शास्त्री और कोहली को इन सवालों का देना होगा जवाब, तैयार बैठा है CoA

जब पीड़ितों ने विरोध किया तो लुटेरों ने मायादेवी पत्नी बाबूलाल, हरपाल सिंह, अमरवती को तमंचो और डंडो से पीट पीट कर लहूलुहान कर दिया। साथ ही एक वर्षीय बच्चे मयंक को लुटेरों ने खेत में फेंक दिया। घायल हरपाल के मुताबिक  लुटेरे डेढ लाख रूपये की नकदी के अलावा दोनों महिलाओ के जेवर लेकर फरार हो गये। लूट की वारदात के बाद जहां एक ओर क्षेत्रीय लोगों में दहशत का माहौल है, तो वहीं दूसरी ओर लुटेरों ने पुलिस गश्ती दल की पोल खोल दी है।

यह भी पढ़ें…यूपी: चीनी मिल घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने दर्ज किया केस

इस घटना पर सदर सीओ आईपी सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि लूट का मामला दर्ज कर लिया गया है। खुलासे के लिए पुलिस की टीमों को लगाया गया है। जल्द ही लुटेरों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जायेगा। वहीं पुलिस गश्ती दल के बारे में जांच पड़ताल कराकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।