यूपी के अधिकारी बहुत एक्टिव, ऐसे बना रहे लॉकडाउन को सफल

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में बुधवार को जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल ने एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह के साथ जिले के कई क्षेत्रों का भम्रण किया और इस बात को सुनिश्चित किया कि लॉकडाउन का पालन होने के साथ ही गरीब और मजदूर वर्ग को कोई समस्या न हो।

मिर्जापुर: कोरोना ने निपटने के साथ ही लॉकडाउन के कारण प्रभावित जरूरतमदों की मदद के लिए जिला प्रशासन निचले स्तर तक काम कर रहा है। इसी कड़ी में उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले में बुधवार को जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल ने एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह के साथ जिले के कई क्षेत्रों का भम्रण किया और इस बात को सुनिश्चित किया कि लॉकडाउन का पालन होने के साथ ही गरीब और मजदूर वर्ग को कोई समस्या न हो।

डीएम-एसपी ने किया जिले का निरीक्षण

मिर्जापुर के डीएम सुशील कुमार पटेल व एसपी डा० धर्मवीर सिंह ने बुधवार को कोरोना वायरस के बढते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे भारत में किये गये 21 दिवसीय लाॅकडाउन के मद्देनजर नगर के विभिन्न क्षेत्रों का भ्रमण किया। इस दौरान कोटेदारों के दुकानों पर राशन वितरण की व्यवस्था का निरीक्षण किया।

विक्रेताओं को दिए सख्त निर्देश

उन्होंने प्रत्येक विक्रेता को सख्त निर्देश दिया गया है कि वे उचित दर की दुकान पर वितरण के समय सेनेटाइजर,हैण्डवाश, साबुन एवं पानी उपलब्ध करें। सोशल डिस्टंसिंग का अनुपालन किया जाय। उन्होंने कहा कि दुकानदारों द्वारा किसी भी प्रकार की लापवाही बर्दास्त नहीं होगी।

ये भी पढ़ेंः UP के बागपत में पकड़े गए 185 जमाती, पड़ोसी देश के लोग भी हैं शामिल

राशन मुफ्त देने के निर्देश

जिलाधिकारी ने महंथ शिवाला के कोटेदार के दुकान के पास जाकर निरीक्षण किया। इस दौरान डीएम ने बताया कि अन्त्योदय कार्डधारकों को पूर्व की तरह मिलने वाले खाद्यान की मात्रा मुफ्त दी जायेगी। इसमें लगने वाले 85 रूपये प्रशासन द्वारा कोटेदारों को दिये जायेगें। सस्ते राशन की दुकान से पात्र गृहस्थी कार्डधारक मनरेगा मजदूरों को भी कार्ड की यूनिट के हिसाब से प्रति यूनिट पाॅंच किलो खाद्यान मुफ्त दिया जायेगा।

ये भी पढ़ेंःपूर्व कैबिनेट मंत्री की बड़ी मदद, लॉकडाउन में फंसे 1200 कामगारों के लिए किया ये काम

इसके अलावा अन्त्योदय के अतिरिक्त मनरेगा मजदूरों को जाॅब कार्ड श्रम विभाग के मजदूरों को विभाग का जारी पहचान पत्र व निकाय के दिहाडी मजदूरों को जारी किये गये पहचान पत्र लेकर राशन की दुकान में जाना होगा। जिन्हें देखकर ही उन्हें खाद्यान मुफ्त दिया जायेगा। पहचान पत्र न होने की दशा की स्थिति में उन्हें कार्ड से पूर्व की तरह रूपये देने के बाद ही खाद्यान प्राप्त होगा।

लाॅकडाउन की स्थिति का लिया जायजा

लाॅकडाउन की स्थिति का जायजा लेने के लिये डीएम व् एसपी मीरजापुर ने विन्ध्याचल में जाकर निरीक्षण किया तथा लोगों को अपने-अपने घरों में रहने का आह्वान किया। इसके बाद मोतिया तालाब अष्टभुजा में काशीराम आवास के गरीब, असहाय एवं निर्बल 60 परिवारों को राशन का वितरण किया गया तथा उनके समक्ष आ रही परेशानियों को दूर करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये एवं उन्हें सक्रमण के प्रति जागरूक किया गया।

रिपोर्ट: बृजेन्द्र दुबे

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।