Top

100 प्रमुख स्थानों पर पिंक बूथ का निर्माण कार्य अगस्त तक होगा पूरा, जानें इसके बारे में

लखनऊ पुलिस के लिये मॉडल पिंक बूथ 1090 के प्रांगण में बना दिया गया है तथा लगभग 25 स्थानों पर इसको बनाये जाने की कार्यवाही चल रही है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 July 2020 4:26 PM GMT

100 प्रमुख स्थानों पर पिंक बूथ का निर्माण कार्य अगस्त तक होगा पूरा, जानें इसके बारे में
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊः वूमेन पावर लाइन (1090) के भवन पर प्रथम तल का निर्माण कार्य अगस्त 2020 के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। ताकि वूमेन पावर लाइन की क्षमता को 80 टर्मिनल से दोगुना किया जा सके। साथ ही लखनऊ शहर में महिलाओं के लिए 74 प्रमुख स्थानों पर पिंक टॉयलेट का निर्माण पूर्ण गुणवत्ता के साथ नवम्बर के अंत तक जरूर पूरा कर लिया जाएगा। साथ ही शहर में महिलाओं के लिए 100 प्रमुख स्थानों पर पिंक बूथ का निर्माण कार्य भी अगस्त के अंत तक पूरा किया जाएगा।

अवनीश अवस्थी ने दिए महिलाओं और बालिकाओं की सुरक्षा सम्बंधी निर्देश

अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने आज महिलाओं एव बालिकाओं की सुरक्षा को और अधिक सुदृढ़ करने हेतु परियोजना से सम्बन्धित कार्यो में और अधिक गति लाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिए। बैठक में बताया गया कि लखनऊ पुलिस के लिये 10 टीयूवी तथा 100 होण्डा एक्टिवा प्राप्त कर ब्राण्डिग करा ली गयी है तथा इनके रजिस्ट्रेशन कराये जा चुके है। लखनऊ पुलिस के लिये मॉडल पिंक बूथ 1090 के प्रांगण में बना दिया गया है तथा लगभग 25 स्थानों पर इसको बनाये जाने की कार्यवाही चल रही है।

ये भी पढ़ें- UP के मदरसों में भी इस दिन से शुरू होगी पढ़ाई, प्रवेश की प्रक्रिया भी होगी चालू

अपर मुख्य सचिव, गृह ने 1090 पर डाटा एनलाटिक्स और साइबर फारेसिंक को मजबूत किये जाने का कार्य तथा 112 से 1090 एपीआई इन्टीग्रेशन के कार्य को दो माह में पूर्ण किये जाने के निर्देष सम्बन्धित अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि 2830 स्थानों पर एलईडी लाइटे लगाये जाने का कार्य नगर निगम, लखनऊ द्वारा प्राथमिकता से पूर्ण कराया जाय। शहर मे संचालित सिटी बसो में पैनिक बटन, सीसीटीवी कैमरे, जीपीएस डिवाइस इत्यादि लगाने से सम्बन्धित आवश्यक कार्यवाही नियमानुसार शीघ्र पूर्ण कर समस्त कार्यों को कराया जाए।

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा बनाया गया निर्भया फंड

उल्लेखनीय है कि महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा को और अधिक सुदृढ़ करने के उद्देष्य से महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा निर्भया फण्ड की स्थापना की गयी है। गौरतलब है कि गृह मंत्रालय द्वारा देश के आठ शहरों को चिन्हित कर उनमें सेफ सिटी परियोजना लागू की गयी है। इस परियोजना के लिए प्रदेश के लखनऊ शहर का भी चयन किया गया है।

ये भी पढ़ें- जिलाधिकारी ने धर्मगुरुओं के साथ की बैठक, बकरीद समेत इन मुद्दों पर हुई चर्चा

इसी के तहत लखनऊ शहर में विभिन्न कार्य कराये जा रहे है। बैठक में परियोजना से सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा लखनऊ सेफ सिटी परियोजना के क्रियान्वयन उपकरणों शासन द्वारा आवंटित धनराषि के सापेक्ष अब तक किये गये व्यय एवं कराये जाने वाले कार्यो की भौतिक प्रगति पर विचार विमर्ष किया गया।

Newstrack

Newstrack

Next Story