जब अनाथ बच्चों से मिलकर मेनका ने कही दिल को छू लेने वाली ये बात

पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद मेनका गांधी आज अपने दो दिवसीय दौरे पर संसदीय क्षेत्र सुल्तानपुर पहुंची। वो यहां कोतवाली देहात के भुलकी गांव पहुंची, यहां बीते दिन हाईटेशन तार से दंपत्ति की मौत हुई थी।

सुल्तानपुर: पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद मेनका गांधी आज अपने दो दिवसीय दौरे पर संसदीय क्षेत्र सुल्तानपुर पहुंची। वो यहां कोतवाली देहात के भुलकी गांव पहुंची, यहां बीते दिन हाईटेशन तार से दंपत्ति की मौत हुई थी।

मेनका ने पीड़ित परिवार को शोक व्यक्त कर घर के नाबालिग सात बच्चों में से एक बड़ी बच्ची को सरकारी नौकरी व उसकी शादी करने के लिए आर्थिक मदद की बात भी की।

ये भी पढ़ें…जानें क्या है मेनका गांधी का जीत के बाद गांव में विकास कार्य कराने का क्राइटेरिया..!

मेनका गांधी ने बच्चों को दिया ये भरोसा

मेनका गांधी को देख मृतक के बच्चों ने रोना शुरू कर दिया, मेनका गांधी ने बच्चों को शांत किया और इस दर्द भरे कांड को देख बच्चों की आर्थिक सहायता के लिए भरोसा दिया।

गांधी गोसाईगंज के सुरौली गांव के लिए रवाना भी गई। यहां बीते 4 दिन पहले हुई जमीनी विवाद में बीडीसी सदस्य आशुतोष मिश्रा की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। यहां उन्होंने शोक व्यक्त किया। वो कादीपुर के कल्याणपुर गांव भी पहुंची जहाँ बिजली के तार को लेकर महिला की हत्या हुई थी औ यहां भी उन्होंने शोक व्यक्त किया।

पत्रकारों से कही ये बात

इससे पहले सांसद मेनका गांधी ने उत्तर प्रदेश जर्नलिस्ट एसोसिएशन के बैनर तले आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया।  इस दौरान मेनका गांधी ने अपने संबोधन में पत्रकारों को निडर होकर अपना काम करने के प्रति आश्वस्त किया। मेनका गांधी ने कहा कि कोई धमकी दे या निष्पक्ष पत्रकारिता को प्रभावित करे, तो मुझसे शिकायत करें।

उन्होंने केश कुमारी बालिका इंटर कालेज परिसर में वृक्षा रोपण कार्यक्रम में शिरकत किया। और पंडित रामनरेश त्रिपाठी सभागार में पार्टी के सदस्यतागण अभियान में भी हिस्सा लिया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App