Top

मथुरा में होली की धूमः भक्तों ने श्रीनाथजी संग खेला रंग, कान्हा के मंदिर में उड़े गुलाल

होली के उड़ने वाले इस आनंद से पहले ठाकुर जी की आरती उतारी गई उसके बाद कान्हा को मंदिर के सेवायतों ने गुलाल लगाया और भगवान के श्री चरणों मे लगाए गए गुलाल को प्रसादी के रूप में भक्तों पर उड़ाया।

Chitra Singh

Chitra SinghBy Chitra Singh

Published on 6 March 2021 6:19 AM GMT

मथुरा में होली की धूमः भक्तों ने श्रीनाथजी संग खेला रंग, कान्हा के मंदिर में उड़े गुलाल
X
मथुरा में होली की धूमः भक्तों ने श्रीनाथजी संग खेला रंग, कान्हा के मंदिर में उड़े गुलाल
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मथुरा: कान्हा की नगरी की होली की बात ही निराली है क्योंकि यहाँ होली पूरे 40 दिन तक खेली जाती है । कभी यहाँ श्रद्धालु अबीर गुलाल से होली खेलते नजर आते है तो कभी फूलों से तो कभी जलेबी और टेसू के फूलों से होली की मस्ती का आनंद लेते नजर आते है। आज श्रद्धालुओ ने धर्म नगरी वृंदावन में चल रहे वैष्णव कुम्भ मेले में होली का जमकर आनन्द लिया। कुम्भ मेला क्षेत्र स्थित शरणागत परिवार के रसिया बाबा नगर में श्रीनाथजी प्रभु का पाटोत्सव धूमधाम से मनाया गया। कान्हा के श्रीनाथ स्वरूप का आज पाटोत्सव सम्पन्न होने के साथ ही होली उत्सव का भी श्रद्धालुओ ने जमकर आंनद लिया ।

रसियाओं पर मस्ती लेते श्रद्धालु

होली के रसियाओं पर थिरकते श्रद्धालु उड़ता गुलाल और खुमारी के बीच होली के रसियाओं पर मस्ती लेते श्रद्धालुओं की इन तस्वीरों को देख आप क्या कोई भी इस आनंद से अपने आप को दूर नही रोक पाएगा। इसीलिए देश विदेश से आने वाले श्रद्धालु इस मस्ती का आनंद ले रहे है और कान्हा से हर साल अपने धाम बुलाने की कामना कर रहे है ।

Vrindavan

ये भी पढ़ें... UP में बढ़ें हाइपरटेंशन के मरीज, माधवबाग संस्थान का हृदय रोग मुक्त अभियान शुरू

कान्हा के मंदिर में होली

होली के उड़ने वाले इस आनंद से पहले ठाकुर जी की आरती उतारी गई उसके बाद कान्हा को मंदिर के सेवायतों ने गुलाल लगाया और भगवान के श्री चरणों मे लगाए गए गुलाल को प्रसादी के रूप में भक्तों पर उड़ाया। कान्हा के प्रेम पगे रंगों से हर कोई भक्त सराबोर होने के लिए लालायित था तो वही सखियां होली के रसियाओं पर जमकर नाच कर भगवान को रिझा रही थी । जो अपने आप में आनंद और परमानंद का सुखद एहसास करा रही थी ।

रिपोर्ट- नितिन गौतम

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story