मिलिए नन्हे लॉकडाउन से: आप भी दंग रह जाएँगे जान कर, यूपी में हुआ ऐसा

दुनिया में भारत एक ऐसा देश है जो विभिन्नताओं से भरा हुआ है और फिर जब बात यूपी की हो तो फिर तो क्या ही कहना। विभिन्न संस्कृतियों वाले इस प्रदेश में हर सुख दुख को लोग अपने ढंग से जीते है।

मिलिए नन्हे लॉकडाउन से: आप भी दंग रह जाएँगे जान कर, यूपी में हुआ ऐसा

लखनऊ। दुनिया में भारत एक ऐसा देश है जो विभिन्नताओं से भरा हुआ है और फिर जब बात यूपी की हो तो फिर तो क्या ही कहना। विभिन्न संस्कृतियों वाले इस प्रदेश में हर सुख दुख को लोग अपने ढंग से जीते है। परीक्षा चाहे जितनी भी कठिन हो, उसे अपने तरीके से पास कर ही लेते हैं। अब कोरोना की ही बात करें तो, पूरा देश इस समय इसके संक्रमण से निपटने के लिए तरह तरह के उपाय सोच रहा है, वहीं देवरिया में कुछ ऐसा किया एक परिवार ने जिससे हर जगह उन्ही के चर्चे हो रहे हैं।

ये भी पढ़ें…मजदूरों का पलायन रोके सरकार, डर भगाने के लिए भजन-कीर्तन भी कराएं: सुप्रीम कोर्ट

कोरोना से जंग लड़ रहे देश

तो मामला यूपी के देवरिया जिले का है। यहां एक गांव में हुए बच्चे का नाम लॉकडाउन रखा गया है। यह दुनिया में किसी बच्चे का रखा गया पहला नाम होगा। जिसका श्रेय भारत को मिला है। वरना कोरोना से जंग लड़ रहे देश इस तरह की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश के देवरिया में एक परिवार ने अपने बच्चे का नाम लॉकडाउन रखा है। बच्चे के मां-बाप का कहना है कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए देश में लॉकडाउन का फैसला लिया गया है। जो देश हित में है और बचाव का एक मात्र उपाय है। परिवार खुखुंदू कस्बा में रहता है। जहां नीरज देवी पत्नी पवन प्रसाद को रविवार शाम प्रसव पीड़ा के बाद पीएससी खुखुंदू में भर्ती कराया गया।

ये भी पढ़ें…कन्फर्म: तलाक के बाद फिर साथ रहने लगे ऋतिक-सुजैन, पापा राकेश ने बताई वजह…

हर जगह सन्नाटा पसरा

बच्चे को जन्म देने वाले इस परिवार महिला नीरज देवी को जब प्रसव पीड़ा हुई तो पूरा घर और मोहल्ला परेशान हो गया। क्योंकि लॉकडाउन के चलते हर जगह सन्नाटा पसरा था लेकिन परिवार ने इस मुश्किल को चुनौती के रूप में लिया और उसे आनन फानन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया। जहां उसने एक बेटे को जन्म दिया।

बच्चे के पिता पवन ने बताया कि बच्चे का जन्म ऐसे वक्त में हुआ, जब पूरा देश कोरोना से लड़ाई लड़ रहा है और देश में लॉकडाउन है। ऐसे में कोरोना से बचाव का संदेश देने के लिए बेटे का नाम लॉकडाउन रखा है।

ये भी पढ़ें…कोरोना संकट के बीच नया वित्त वर्ष: आज से लागू होंगे 6 नए नियम, जानिए …

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App