मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

विधायक का मानना है कोरोना बीमारी के लिए बन रही दवा शोध आदि में मेरे शरीर की आवश्यकता पड़ेगी, तो भी मैं देश के हित में उस के लिए तैयार हूं। जहां भी मुझे बुलाया जाएगा जाऊँगा। मैं वहां जाकर इस काम में प्रमुखता से आगे खड़ा मिलूंगा।

मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

नाथ बख्श सिंह

अयोध्या के मिल्कीपुर विधानसभा सुरक्षित क्षेत्र से पहली बार भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के रूप में बाबा गोरखनाथ ने भाजपा का परचम फहराया जो व्यवसाय करते हैं। देश सेवा व प्रेमचंद की कहानियों के पढ़ने का शौक रखते हैं। ज्योति सेवा संस्थान के सचिव भी हैं। सामाजिक कार्य करते हैं।

जिले में मिल्कीपुर विधानसभा से दिग्गज समाजवादी पार्टी के नेता अवधेश प्रसाद जो लगातार 1977 से विधायक बनते रहे हैं, उन को पराजित करने का श्रेय बाबा गोरखनाथ को है। यह इस चुनाव में 86960 मत प्राप्त कर विजई हुए थे जबकि इनकी प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी 58684 वोट प्राप्त कर दूसरे नंबर पर थी।

काम के लिए संघर्ष मुख्य उद्देश्य

बाबा गोरखनाथ विधायक निधि व सरकार से क्षेत्र के विकास के लिए संघर्षरत दिखाई पड़ते हैं। क्षेत्र के विकास के लिए काम करना उनका मुख्य उद्देश्य है।

इनकी ही विधानसभा में नरेंद्र देव कृषि प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय कुमारगंज आता है। जिसकी कार्य परिषद के ये सदस्य हैं। विश्वविद्यालय की गतिविधियों में शामिल होकर उसकी प्रगति में भी अपना योगदान दे रहे हैं।

मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

विधायक बाबा गोरखनाथ  कोरोना जैसी,  महामारी से लड़ने के लिए अपने शरीर को भी दांव पर लगाने के लिए तैयार हैं। समाज सेवा से ओतप्रोत इस देश के लिए अपने शरीर को भी न्योछावर करने की घोषणा कर चुके हैं।

विधायक का मानना है इस बीमारी के लिए बन रही दवा शोध आदि में मेरे शरीर की आवश्यकता पड़ेगी, तो मैं देश के हित में उसे देने के लिए तैयार हूं। जहां भी मुझे बुलाया जाएगा। मैं वहां जाकर इस काम में प्रमुखता से आगे खड़ा मिलूंगा।

हर जगह खड़े मिलते हैं

लोगों की बीमारी में अस्पताल में कुशल क्षेम पूछना। दवा उपलब्ध कराना यह सब उनके लिए आम बात है। दिन भर क्षेत्र के लोगों के लिए सेवा की भावना लेकर चलते रहना ही इनकी दिनचर्या है। क्षेत्र में कहीं किसी को सांप काटे, किसी की मृत्यु हो जाए, दैवीय आपदा से मृत्यु हो जाए, तालाब  में डूबने से मौत हो जाए। दुखी व्यक्ति के द्वार पर पहुंचकर दुख में शामिल होना, यथासंभव सहायता करना, क्षेत्र में इनकी पहचान है।

क्षेत्र में विद्यालय हो या वन विभाग विभाग का कार्यालय, अस्पताल हो  या कोई भी सरकारी दफ्तर उनके क्रियाकलाप को देखने के लिए स्वयं कार्यालयों में जाकर निरीक्षण करते हैं। बस आम जनता को बेहतर सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए। ये है इनकी कार्यशैली।

मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

विधायक की लोकप्रियता के पैमाने ट्विटर अकाउंट पर अब तक 20000 लोग उनके फॉलोअर बन चुके हैं।  क्षेत्र में वृक्षारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का भी संकल्प का काम इनके द्वारा किया जा रहा है।

काम भी खूब कराए

क्षेत्र के विकास के लिए सड़कों, विद्युत उपकेंद्र, अस्पताल शिक्षण संस्थान जैसे तमाम योजनाओं को क्षेत्र में लाने में अब तक तक सफल हो चुके हैं, जिसका शुभारंभ भी इनके द्वारा क्षेत्र में किया गया है।

मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

मिल्कीपुर व कुमारगंज इलाके में निजी कंपनियां बड़े पैमाने पर फर्जीवाड़ा कर आम जनता का धन लूटने में सफल हो गईं जिसके खिलाफ आवाज उठाते हुए विधायक बाबा गोरखनाथ ने विधानसभा में अपनी ही सरकार से मांग की कि फर्जीवाड़े के खिलाफ कठोर कानून बनाया जाए।

इसे भी पढ़ें मिश्रिख से भाजपा विधायक रामकृष्ण भार्गवः अफसर जनता के प्रति जवाबदेह हों

हिंदू रीति रिवाज के तीज त्योहार चाहे वह गणेश चतुर्दशी हो, दुर्गा पूजा हो, रक्षाबंधन हो, सामूहिक दुरदुरिया रक्षाबंधन हो, दीपोत्सव हो या कोई भी कार्यक्रम हो। उसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना इनके लिए आम बात है।

क्षेत्र की जनता की जन समस्याओं के निस्तारण के लिए स्वयं अपने आवास पर जनता दर्शन के माध्यम से समस्याओं से रूबरू होते हैं और अधिकारियों से उसका निराकरण कर आते हैं यह भी इनकी इनकी कार्यप्रणाली है!

मिल्कीपुर से भाजपा विधायक बाबा गोरखनाथः दुखी पीड़ितजन का सहारा

प्रभु राम से ओतप्रोत विधायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्या में श्री राम जन्म भूमि  परिसर में मंदिर निर्माण के लिए शिलापूजन के बाद इलाके में मिष्ठान वितरण व कर जश्न मनाया।

विधायक कहते हैं-

“प्रभु कीं कृपा भयउ सबु काजू। जन्म हमार सुफल भा आजू

-वही विजयी हैं, वही विनयी हैं और वही गुणों का समुद्र बन जाते हैं।”

श्री राम जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण की शुरुआत करने आए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वागत में विधायक बाबा गोरखनाथ का मानना है अयोध्या धाम में कलयुग मैं श्री राम की सेवा के लिए हनुमान  जी रूपी यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने का जो अवसर मुझे प्राप्त हुआ, यह हमारे पूज्य माता पिता के अच्छे कर्मों के कारण प्राप्त हुआ।

इसे भी पढ़ें चकिया के विधायक शारदा प्रसादः राजनीति में न आता तो व्यापारी होता

इनका मानना है विश्व में भारत की पहचान स्वामी विवेकानंद के बाद नरेंद्र मोदी ने ही बनायी है। मैं उनके दल का विधायक हूं जिसके लिए मैं अपने को गौरवान्वित समझता हूं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App