राशन के लिए DM के नंबर पर किया व्हाट्सएप, तुरंत ऐसे मिली मदद

डीएम सुशील कुमार पटेल ने कहा कि कोविड-19 के महामारी में कोई व्यक्ति भुखा न रहे इसके लिये पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि यदि किसी व्यक्ति के पास राशन न हो कंट्रोल रूम पर फोन कर अवगत करा सकता है

मीरजापुर: डीएम सुशील कुमार पटेल ने कहा कि कोविड-19 के महामारी में कोई व्यक्ति भुखा न रहे इसके लिये पर्याप्त व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि यदि किसी व्यक्ति के पास राशन न हो कंट्रोल रूम पर फोन कर अवगत करा सकता है। इसी क्रम में गुरुवार प्रातः लगभग 9 बजे के आस-पास डीएम के व्हाट्सएप पर सबरी रोड सहाई राम का चैराहा निवासी उज्जवल कुमार गुप्ता उम्र 15 वर्ष के द्वारा प्रार्थना पत्र लिखकर खाने के लिये राशन न होने की बात सामने आया।

यह भी पढ़ें…कोरोना: लखनऊ में लागू हुआ ये सख्त नियम, उल्लंघन करने पर होगी कड़ी कार्रवाई

इसके बाद डीएम ने तुरन्त जिला सूचना अधिकारी को अपने स्टाफ से राशन का किट लेकर उसके पास भेजा तथा कहा कि उसके घर जाकर यह भी सुनिश्चित करें कि वह वास्तव में गरीब है और उसके पास खाने के लिये राशन नहीं हैं। जिला सूचना अधिकारी व जयनाथ जब उसके बताये हुये पता पर पहुॅचे तो उज्जवल कुमार से संपर्क किया गया। जिसने बताया कि उसके माता-पिता का देहांत हो चुका है वह तीन भाई अकेले रहते हैं बड़ा भाई उज्जव कुमार सर्राफा की दुकान पर काम करता है उसके छोटै भाई हृदय 13 वर्ष वं कुनाल 10 वर्ष एक छोटे से मकान में अकेला रहता है। उसका राशन कार्ड भी नहीं बना है।

यह भी पढ़ें…सावधन: बैंको ने इस नई धोखाधड़ी के लिए ग्राहकों को किया आगाह

वास्तविकता की जानकारी करते हुये उसे एक सप्ताह का राशन का किट दिया तथा अस्वस्थ किया गया गया कि लाकडाउन के दौरान जब राशन खत्म हो तुरन्त फोन कर अवगत कराये पुनः उसे राशन उपलब्ध कराया जायेगा।