Top

बच्चों के साथ ऐसा करते देख खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे

#Mirzapur के एक स्कूल में बच्चों को मिड-डे-मील में नमक रोटी दी जा रही है। ये उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार की व्यवस्था का असल हाल है। जहां सरकारी सुविधाओं की दिन-ब-दिन दुर्गति की जा रही है। बच्चों के साथ हुआ ये व्यवहार बेहद निंदनीय है।

Manali Rastogi

Manali RastogiBy Manali Rastogi

Published on 23 Aug 2019 9:11 AM GMT

बच्चों के साथ ऐसा करते देख खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे
X
बच्चों के साथ ऐसा करते देख खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मिर्जापुर: आप अगर अपने बच्चे को नमक के साथ रोटी खाते देखेंगे तो कैसा लगेगा? बुरा लगेगा न? फिर हम आपसे कहें कि उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में एक ऐसा प्राइमरी स्कूल है, जहां बच्चे मिड डे मील के नाम पर नमक के साथ रोटी खा रहे हों। यह जानकर क्या अब सरकार और देश के रोंगटे खड़े नहीं हो रहे कि देश के भविष्य के साथ ऐसा बर्ताव किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: LIVE: फ्रांस से पीएम मोदी भारतीयों को कर रहे सम्बोधित

शर्म आनी चाहिए ऐसे देश को जो मंगलयान के जरिये मंगल तक तो पहुंच गया है लेकिन देश के बच्चों को ढंग का खाना नहीं दे सकता। शर्म आनी चाहिए उन सबको, जिन्होंने बच्चों को नमक-रोटी खाने में परोसी। शर्म आनी चाहिए हम सबको कि हम एक ऐसे देश का निर्माण में लगे हैं, जहां भविष्य के खाने का कोई ठिकाना नहीं है।

Image result for school students primary school mirzapur

हिनौता के प्राइमरी स्कूल का है मामला

मामला मिर्जापुर के हिनौता के प्राइमरी स्कूल सीयूर प्राथमिक विद्यालय का है। यहां प्राइमरी स्कूल के बच्चों को नमक के साथ रोटी खिलाई जा रही है। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है, जो इस मामले पर प्रकाश डालता है कि किस तरह शिक्षक और सुपरवाइजर मिड डे मील में लापरवाही बरत रहे हैं।

यह भी पढ़ें: बाहुबली नेता का खेल खत्म, लंबे समय बाद आ गए पुलिस के हाथ

मामला मिर्जापुर के जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) के पास पहुंच चुका है। मामले की जांच चल रही है। डीएम का कहना है कि इसमें शिक्षक और सुपरवाइजर की गलती है। इसके साथ ही, शिक्षक को मिड डे मील में लापरवाही बरतने के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया है, जबकि सुपरवाइजर से जवाब मांगा गया है।

Image result for school students primary school mirzapur

यह भी पढ़ें: मुस्लिम का कृष्ण प्यार: पूरे पाकिस्तान को देखना चाहिए, कोई फसाद ही नहीं रहेगा

हैरान कर देने वाली बात तो ये है कि योगी सरकार पहले ही स्कूलों में मिड डे मील का मेन्यू तय कर चुकी है। इसके बाद भी यह हुआ। मालूम हो, मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) की ओर से पहले ही निर्देश जारी कर दिये गए थे कि दोपहर के भोजन में कक्षा 8वीं तक के बच्चों को बगीचे में उगाई गई एक सब्जी या फल खाने में जरूर दिया जाएगा।

प्रियंका गांधी ने किया ट्वीट

इस मामले पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि, ‘#Mirzapur के एक स्कूल में बच्चों को मिड-डे-मील में नमक रोटी दी जा रही है। ये उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार की व्यवस्था का असल हाल है। जहां सरकारी सुविधाओं की दिन-ब-दिन दुर्गति की जा रही है। बच्चों के साथ हुआ ये व्यवहार बेहद निंदनीय है।’



Manali Rastogi

Manali Rastogi

Next Story